• तीन दिवसीय अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी का उद्घाटन

    मुख्य समाचार

    2017.08.23. 03 ssp news dioknp 1कानपुर, जन सामना ब्यूरो। केंद्र व प्रदेश सरकार पंडित दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय के सिद्धांत पर कार्य कर योजनाएं संचालित कर रही है। सरकार किसानों के हितों के लिए निरन्तन नई नई लाभ कारी योजना ला रही हैं जिससे किसानों की आय दुगनी हो सके। विकास खण्ड बिल्हौर में तीन दिवसीय अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी का उद्घाटन ब्लाक प्रमुख अनिल कुमार कटियार द्वारा किया गया। उन्होंने कहा कि पं. दीन दयाल उपाध्याय जन्मशताब्दी का आयोजन इस उद्देश्य के साथ किया जा रहा हैं कि अत्यंत गरीब वर्ग के लोगों को आर्थिक, सामाजिक व शैक्षिक रूप से समाज की मुख्य धारा से जोड़ना है। लोगों में जागरूकता लाकर योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाना ही इस तीन दिवसीय मेले का लक्ष्य है। उन्होने कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय मेला-प्रदर्शनी में विभिन्न विभागों ने स्टॉल लगाये गये। इस मौके पर किसानों को केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी देकर शंकाओं का समाधान किया जायेगा। पंडित दीनदयाल उपाध्याय एक व्यक्ति ही नहीं बल्कि विचारक थे। उन्होंने अंत्योदय की परिकल्पना कर समाज के अंतिम व्यक्ति तक विकास की किरण पहुंचाने का कार्य किया है। केंद्र व प्रदेश सरकार अंत्योदय के सिद्धांतों पर गरीबों के हित में कार्य कर रही है। केंद्र व प्रदेश सरकार पंडित दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय के सिद्धांत पर कार्य कर योजनाएं संचालित कर रही है। गरीबों के लिए आवास, पेंशन, शौचालय, उज्जवला गैस आदि योजना जिसका प्रमाण हैं।
    खण्ड विकास अधिकारी आलोक पाण्डेय ने कहा कि उ0प्र0 सरकार गरीबों तक विकास की किरण पहुंचाकर देश को समृद्ध बनाने की दिशा में कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों की मूल धारणा ये होना चाहिए की छोटे छोटे काम करके ही बढ़ा काम किया जा सकता हैं हमारी सोच परिवर्तन होनी चाहिए तभी राष्ट्र का निर्माण होगा। उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि पं0 जी के जीवन चरित्र के बारे बताया कि उन्होंने अपने जीवन काल में केवल गरीबो की ही मदद की हैं तथा समाज को एक नई ऊर्जा दी। पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी की इच्छा तभी पूरी होगी जब हिन्दुस्तान के साथ ही पूरे उ0प्र0 के अन्तिम व्यक्ति तक मूलभूत सुविधाएॅ पहुॅच जाए।मनरेगा, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना, अन्त्योदय कार्ड, दिव्यांग पंजीकरण आदि योजनायें गरीबों के लिए है। विकास कार्यक्रमों में जनता की सहभागिता जरूरी है। § Read_More....

  • साहित्यकार कृष्ण कुमार यादव व आकांक्षा यादव का किया गया सम्मान

    मुख्य समाचार

    2017.08.23. 02 ssp news akanksha yadawजोधपुर, जन सामना ब्यूरो। मंजिल ग्रुप साहित्यिक मंच (मगसम), दिल्ली द्वारा राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएं एवं चर्चित साहित्यकार व ब्लॉगर कृष्ण कुमार यादव और उनकी साहित्यकार पत्नी सुश्री आकांक्षा यादव को देश भर में उनकी रचनाओं के पाठ के दौरान श्रोताओं द्वारा श्रेष्ठता आधार पर, ‘‘रचना स्वर्ण प्रतिभा सम्मान’’, ‘‘रचना प्रतिभा सम्मान’’ और ‘‘शतकवीर सम्मान’’ से सम्मानित किया गया।
    यादव दम्पति को यह सम्मान जोधपुर के एक होटल में आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि वरिष्ठ कवि-कथाकार रविदत्त मोहता, वरिष्ठ साहित्यकार हरिदास व्यास, सेवानिवृत्त न्यायधीश मुरलीधर वैष्णव और मंजिल ग्रुप साहित्यिक मंच के राष्ट्रीय संयोजक सुधीर सिंह सुधाकर ने प्रदान किये। सुश्री आकांक्षा यादव की अस्वस्थता के चलते उनका सम्मान भी श्री यादव ने ही ग्रहण किया। सम्मान स्वरुप श्री यादव को श्रीफल, शाल, प्रशस्ति-पत्र और स्मृति चिन्ह प्रदान किया गया। श्री यादव ने इस दौरान अपने सम्बोधन में कहा कि रचना का कद रचनाकार से सदैव बड़ा होता है, ऐसे में अपनी रचनाओं को सम्मानित किये जाने से हम अभिभूत हैं। § Read_More....

  • जन-समस्याओं का निस्तारण प्राथमिकता से कराएंः मुख्य सचिव

    मुख्य समाचार

    2017.08.23. 01 ssp news lc1लखनऊ, जन सामना ब्यूरो। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजीव कुमार ने कहा कि युवा अधिकारी अपनी बेहतर कार्यशैली से आम नागरिकों की जन-समस्याओं का पूर्ण संवेदनशीलता के साथ निस्तारण करायें। उन्होंने कहा कि आम जनता के मध्य युवा अधिकारियों को अपनी बेहतर पहचान बनाने हेतु आम नागरिकों तथा जन प्रतिनिधियों से शालीनतापूर्ण तथा सम्मानजनक व्यवहार रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि युवा अधिकारी अपने शासकीय कार्यों का निर्वहन पारदर्शिता के साथ समयबद्ध रूप से जनकल्याणकारी योजनाओं से पात्र लोगों को लाभान्वित कराने में कोई कोर कसर न छोड़ें।
    मुख्य सचिव ने नियमों, विधियों एवं अधिनियमों तथा संविधान का विधिवत् अध्ययन करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि आम जनता के मध्य अपनी बेहतर कार्यशैली से अपनी अलग पहचान आसानी से बनाई जा सकती है। उन्होंने नवनियुक्त प्रशासनिक अधिकारियों को अपने संदेश में कहा कि विनम्रता का कोई विकल्प नहीं है। § Read_More....

  • अन्त्योदय मेला प्रदर्शनी का फीताकाटकर किया गया शुभारंभ

    मुख्य समाचार

    2017.08.23 07 ravijansaamnaपं. दीनदयाल उपाध्याय ने सम्पूर्ण जीवन समाज के अंतिम छोर पर बैठे वंचित गरीब, निर्धन व्यक्तियों को जागरूक व आगे बढ़ाने का काम किया: विधायक प्रतिभा शुक्ल वारसी
    अन्त्योदय मेला व प्रदर्शनी में हर कदम किसानों के साथ फसल ऋण मोचन योजना पुस्तिका, सबका साथ सबका विकास व कलेण्डर पाकर आमजन हुआ गदगद
    कानपुर देहात, जन सामना ब्यूरो। पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष के तहत अकबरपुर विकास खंड परिसर में आयोजित तीन दिवसीय संगोष्ठी, अन्त्योदय प्रदर्शनी व समारोह कार्यक्रम का विधायक प्रतिभा शुक्ला वारसी, पूर्व सांसद अनिल शुक्ल वारसी, सीडीओ केदारनाथ सिंह द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित व पं. दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पर माल्यार्पण श्रृद्धासुमन अर्पित कर किया। विधायक प्रतिभा शुक्ला वारसी व पूर्व सांसद अनिल शुक्ल वारसी ने सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग की अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी का फीताकाटकर सभी विभागों की लगी प्रदर्शनी का शुभारंभ भी किया।  § Read_More....

  • मनुष्य की मुख्य बुनियादी सुविधायें पूरी तरह से रहे दुरस्त: अनिल शुक्ल वारसी

    मुख्य समाचार
    2017.08.23 04 ravijansaamna

    कार्यक्रम को सम्बोधित करती विधायक

    सरकार द्वारा प्रदत्त कराई जा रही है स्वास्थ्य सुविधाओं को लाभान्वित कराये जाने में आशा एक महत्वपूर्ण कड़ी हैः प्रतिभा शुक्ला वारसी
    कानपुर देहात, जन सामना ब्यूरो। हिन्दी भवन में आयोजित आशा दिवस/सम्मेलन का उद्घाटन विधायक प्रतिभा शुक्ला वारसी, पूर्व सांसद अनिल शुक्ल वारसी व सीएमओ डा. सुरेन्द्र रावत द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया। विधायक प्रतिभा शुक्ला वारसी ने कहा कि दूर दराज क्षेत्रों में जन-जन तक स्वास्थ्य विभाग के कल्याणकारी योजनाओं, कार्यो को पहुंचाने तथा सरकार द्वारा प्रदत्त कराई जा रही सुविधाओं को लाभाविन्त कराने में आशा एक महत्वपूर्ण कड़ी है। उन्होंने आशाओं से कहा राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के अन्र्तगत सम्मिलित स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण सम्बन्धी कार्यक्रमों का लाभ ग्रामीण जनता तक पहुंचे तथा वे पूर्ण तरीके से स्वस्थ्य रहे यह जिम्मेदारी बखूबी निभायें। उन्होंने कहा कि आशाओं को आशा दिवस/सम्मेलनों में दी जा रही स्वास्थ्य विभाग के कार्यक्रमों,  § Read_More....

  • बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का कार्यकर्ताओं के साथ एवं अधिकारियों के साथ निरीक्षण किया सुरेंद्र मैथानी

    मुख्य समाचार

    2017.08.23 03 ravijansaamnaगोरखपुर, जन सामना ब्यूरो। कानपुर के जिला अध्यक्ष बीजेपी सुरेंद्र मैथानी ने कहा कि आज स्वच्छता अभियान के उपरांत पार्टी कार्यकर्ताओं के संग राप्ती नदी में आई भीषण बाढ़ के कारण से प्रभावित क्षेत्रों का गोरखपुर के कार्यकर्ताओं के साथ और सिंचाई विभाग के अधिकारियों के साथ निरीक्षण किया। बाढ़ के कारण, बड़ा भीषण दृश्य है। गांव के गांव सहित बहुत बड़ा क्षेत्र राप्ती नदी के तूफान के कारण जलमग्न हो गया। बच्चे, बूढ़े, औरतें पानी के बीच में फंसी हैं जिन्हें नाव से स्थानीय प्रशासन निकलवा रहा है।  § Read_More....

  • डांस कानपुर डांस प्रतियोगिता कानपुर में होगा आयोजित

    मुख्य समाचार

    2017.08.23 01 ravijansaamnaकानपुर नगर, स्वप्निल तिवारी। रजत श्री फाउंडेशन कानपुर की प्रतिभाओं को एक सुनहरा अवसर दे रही है। समिति अपने स्तर से लगातार सामाजिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन विगत कई वर्षों से कराती आ रही है। कानपुर की प्रतिभाओं को निरंतर आगे से आगे नई ऊंचाइयों तक ले जा रही है इसी श्रंखला में डांस कानपुर डांस प्रतियोगिता शुरू हो रही है। रजिस्ट्रेशन फॉर्म संस्था की वेबसाइट पर उपलब्ध है। समिति की महामंत्री दीप्ति सिंह ने प्रेसवार्ता करते हुए बताया कि कानपुर में ही क्या पूरे उत्तर प्रदेश में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का अभियान घर-घर चलाएंगे महिलाओं को देश हित में भागीदारी बनाने और समाज में उनका अधिकार दिलाने के लिए सदैव न्याय के लिए लड़ती रहेगी उन्होंने बताया कि  § Read_More....

  • खुशियों का फैसला

    महिला जगत, लेख/विचार
    dr neelam mahendra

    डॉ नीलम महेंद्र

    जो भावना मानवता के प्रति अपना फर्ज निभाने से रोकती हो क्या वो धार्मिक भावना हो सकती है?
    जो सोच किसी औरत के संसार की बुनियाद ही हिला दे क्या वो किसी मजहब की सोच हो सकती है?
    जब निकाह के लिए लड़की का कुबूलनामा जरूरी होता है तो तलाक में उसके कुबूलनामे को अहमियत क्यों नहीं दी जाती?
    साहिर लुधियानवी ने क्या खूब कहा है,
    ‘वो अफसाना जिसे अंजाम तक लाना न हो मुमकिन,उसे एक खूबसूरत मोड़ देकर छोड़ना अच्छा’
    यहाँ लड़ाई ‘छोड़ने’ की नहीं है बल्कि ‘खूबसूरती के साथ छोड़ने’ की है। उस अधिकार की है जो एक औरत का पत्नी के रूप में होता तो है लेकिन उसे मिलता नहीं है।
    गौर करने लायक बात यह भी है कि जो फैसला इजिप्ट ने 1929 में पाकिस्तान ने 1956 में बांग्लादेश ने 1971 में (पाक से अलग होते ही), ईराक ने 1959 में श्रीलंका ने 1951 में सीरिया ने 1953 में ट्यूनीशिया ने 1956 में और विश्व के 22 मुसलिम देशों ने आज से बहुत पहले ही ले लिया था वो फैसला 21 वीं सदी के आजाद भारत में 22 अगस्त 2017 को आया वो भी 3-2 के बहुमत से। § Read_More....

..प्रकाशकः श्याम सिंह पंवार
कार्यालयः 804, वरुण विहार थाना-बर्रा जिला-कानपुर-27 (उ0 प्र0) भारत
सम्पर्क सूत्रः 09455970804
jansaamna@gmail.com ..

Search

Back to Top