Wednesday, October 17, 2018
Home » 2017 » November » 24

Daily Archives: 24th November 2017

सितारों से सजी रही पल्लव और मोनिका की शादी

इटावा ब्यूरोः राहुल तिवारी। फिल्म निर्माता धीरेन्द्र राव चौबे के बेटे पल्लव चौबे के शादी समारोह में फिल्मी सितारों का जमावड़ा लगा रहा। फिल्म अभिनेता आर्य बब्बर, अभिनेत्री संभावना सेठ, हास्य कलाकार केके गोस्वामी समेत छोटे पर्दे के भी कई कलाकार समारोह में पहुंचे। मेहमानों के स्वागत के लिए विशेष तौर पर कालवेरिया, घूमर, चरई जैसे लोक नृत्यों के प्रबंध किए गए थे। देर रात तक चले समारोह में लोग फिल्मी कलाकारों के साथ फोटो खिचाते नजर आए।
नुमाइश ग्राउंड में आयोजित शादी समारोह में पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव, पूर्व एमएलसी रामनरेश मिनी के अलावा सीडीओ पीके श्रीवास्तव सहित कई अधिकारी भी वर-वधू को आर्शीवाद देने पहुंचे थे। § Read_More....

Read More »

उल्टी खोपड़ी वालों ने प्रदेश की जनता को सिर्फ लूटने का कार्य कियाः महेन्द्र नाथ पाण्डेय

औरैयाः ध्रुव कुमार अवस्थी। निकाय चुनाव के प्रचार के लिए भारतीय जनता पार्टी की एक विशाल जनसभा स्थानीय पुराना नुमाईश मैदान में आयोजित की गयी। जनसभा को पार्टी के स्टार प्रचारक प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने अपने ओजस्वी सारगर्भित भाषण से कार्यकर्ताओं व जनता में उत्साह का संचार कर दिया।
उन्होंने निकाय चुनाव हेतु पार्टी के संकल्प पत्र में उल्लिखित बिन्दुओं को विस्तार से बताया। उन्हेंाने निकाय चुनाव की कार्यप्रणाली में पारदर्शिता रखने, नगर निकायों के राजस्व की व्यवस्था का सुदृढ़ीकरण, सार्वजनिक स्वच्छता, सुगम यातायात, आधुनिक शौचालयों, स्वच्छ पर्यावरण का विकास पशु कल्याण हेतु विभिन्न योजनों का क्रियान्वित करने, अवस्थापना सुविधाओं का सुदृढ़ीकरण करने का लोगों को भरोसा दिलाया।
श्री पाण्डेय ने अत्यन्त ही नपे-तुले शब्दों का प्रयोग करते हुये विरोधियों पर तीखे व्यंग बाण छोड़े। उन्होंने कहा कि उल्टी खोपड़ी वालों ने प्रदेश की जनता को सिर्फ लूटने का कार्य किया और विकास की उल्टी गंगा बहाई। इसकी बानगी पूरे प्रदेश में देखने को मिलती है। आपके यहाॅ भी पहले सड़कें बनवायी गयी, इसके बाद पेयजल हेतु पाइप लाइन बिछवायी गयी। बनी हुयी सड़क खुदने के बाद आज ऐसे मार्गों से चलना दुश्कर हो गया है। कई महानगरों में पेयजल हेतु पानी की टंकी तो बनायी गयी किन्तु उनमें पानी कहाॅ से आयेगा इसकी कोई चिन्ता नहीं की गयी। इस प्रकार की विरोधी नीतियों के चलते विकास की उल्टी गंगा बहती रही और लोग माल काटते रहे, जनता लुटती रही। उन्होंने औरैया नगर पालिका परिषद की अध्यक्ष पद उम्मीदवार राजकुमारी सहित जनपद की सभी छैंः नगर पंचायतों पर व उनके वार्डों पर कमल का फूल खिलाने की अपील की। उन्हेांने कहा कि यदि आप विकास चाहते है तो देश में भा0ज0पा0 की सरकार है, प्रदेश में भा0ज0पा0 की सरकार है, इसलिए निकाय चुनाव में भी प्रचण्ड जीत के साथ भाजपा उम्मीदवारों को लाना होगा। § Read_More....

Read More »

इटावा की सांस्कृतिक विरासत पर भी फिल्मकारों की नजर

इटावा ब्यूरोः राहुल तिवारी। दुर्दांत डाकुओं की शरणस्थली रहा चंबल घाटी हमेशा से फिल्मकारों की पसंद रही है। डकैतों की जिंदगी से जुड़े कई पहलुओं को रूपहले पर्दे पर दिखाया जा चुका है। अब जिले की सांस्कृतिक विरासत पर फिल्मकारों की नजर है और तो और जिले की धार्मिक पृष्ठभूमि भी उन्हें भा रही है। इसे दर्शकों तक पहुंचाने के लिए फिल्म निर्देशक इटावा का रुख कर रहे हैं। इसी रुख को देखते हुए गोवा में चल रहे फिल्म फेस्टिवल में उत्तर प्रदेश की पवेलियन में इटावा की फिल्मी पृष्ठ भूमि को भी दर्शाया गया है। प्रदेश सरकार की योजना है कि निर्माता-निर्देशकों को आकर्षित करने के लिए प्रदेश भर के पर्यटन स्थलों को फिल्मों के लिए उपयुक्त बनाया जाए।
पूर्व सपा सरकार में इटावा को फिल्मी मानचित्र के जरिए कॉर्पोरेट बाजार बनाने की कवायद की गई, जो काफी हद तक सफल भी रही। इस बीच बुलेट राजा, थोड़ा लुत्फ थोड़ा इश्क, सल्लू की शादी, नेहले पे दहला जैसी फिल्में यहां शूट हुईं। इसके अलावा कई क्षेत्रीय फिल्मों का भी सफल निर्देशन व फिल्मांकन यहां कराया गया। इन फिल्मों ने इटावा को डाकुओं की शरण स्थली से अलग हटाकर बड़े पर्दे पर प्रस्तुत किया।
§ Read_More....

Read More »