Wednesday, October 17, 2018
Home » 2018 » April » 08

Daily Archives: 8th April 2018

योग विशेषज्ञ ने योगासन द्वारा दिए स्वस्थ्य रहने के दिये टिप्स

योग विशेषज्ञों ने मत्स्य, साइकिल, बुद्ध, बाल, तितली, फ्लाई, कपाल भारती आसन सहित ज्ञान विज्ञान बुद्ध, डा0 अम्बेडकर व देव समाज के योगों व ज्ञान को भी बताया आसान व साधारण योग क्रियाओं से भी स्वस्थ व निरोग रहा जा सकता है: राधेश्याम

कानपुर देहातः जन सामना ब्यूरो।हिसार से आये योगाचार्य राधेश्याम ने देवसमाज विद्यालय अकबरपुर में चल रहे तीन दिवसीय सत्संग समारोह में आमजन को योग से लाभ, महत्व, शिक्षा से बड़ा कोई धन नहीं है आदि की जानकारी देते हुए हर्षउल्लास के साथ कार्यक्रम का समापन किया गया। योग शिक्षा केन्द्र व प्रदेश सरकार के प्रमुख कार्यक्रमों में से एक है। इसके अपनाने से हमारा स्वास्थ ठीक रह सकता है। योग कार्यक्रम से निरोग रहने के साथ ही शरीर मन को संतुलित करने का माध्यम और मानवता, प्रेम, शांति एकता, सदभाव के भाव को जीवन में उतारा जा सकता है। योग को हम अपने दैनिक जीवन का हिस्सा मना सकते है। योग 21 जून को प्रतिवर्ष अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। पंजाब, हरियाणा, चण्डीगढ़ तथा उ0प्र0 के कई जनपदों पधारे देव समाज के अनुयायियों एवं श्रद्धालुओं ने संस्थापक देवसमाज की पावन जन्मस्थली पर निरन्तर आयोजित सत्संग, कीर्तन आदि द्वारा अपनी श्रद्धा को बढ़ाया।  योगाचार्य विशेषज्ञ राधेश्याम ने योग के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि योग स्वस्थ्य रहने के लिए अत्यन्त ही जरूरी आयाम है। योग में जरूरी नहीं कि मुश्किल आसन किये जायें साधारण योग क्रियाओं का भी उतना ही लाभ होता है जितना कि जटिल क्रियाओं का। आसान योग मत्स्य, कपाल भारती, बज्र आसन, सिंघासन, बुद्ध आसन, बाल योग, बटर फ्लाई यानि कपाल भारती सांस निकालना, बाल योग में छोटेे बच्चों की तरह लेट कर हाथ पैरों को चलाना तितली आसन में तितली की भांति पैरो को चलाना, मत्स्य आसन में मछली की भांति तैरना, साइकिल आसन आदि सहित उन्होंने कई छोटे और आसान योग क्रियाओं को करके दिखाया। उन्होंने कहा कि विश्व के अनेक देश में स्वस्थ्य रखने के लिए साइकिल की सवारी व चलाने की आरे बढ़ रहे है। उन्होंने साइकिल आसन के लाभों को बताया। तितली आसन आसान होने के साथ ही साथ प्रतिदिन मात्र बैठकर पैरों को हिलाने से शरीर की नसों में ब्लड का सरकुलेशन ठीक रहता है। इसके करने से तितली की भांति दिखने में सुन्दर व चमक आती है। इसी प्रकार बाल योग में छोटे बच्चों की भांति लेटने की मद्रा में मुट्ठी भीज कर हाथ पैर को चलाना होता है। इससे पूरे शरीर में स्फुर्ति प्राप्त होता है। सर्प, शेर, अनुलोम-विलोम, हास्य आसनों की भी पै्रक्टिकल जानकारी देते हुए बताया गया। योग सीखने आये राम गोपाल ने इस मौके पर ज्ञान, बुद्ध व डा. अम्बेडकर योग और ज्ञान के बारे में बताया कि इसमे शांति के साथ किताबों का अध्ययन शिक्षित बनो, संगठित बनों तथा संघर्ष करो आदि अपने मन वचन से देश और समाज का चिंतन भी किया जाता है साथ ही साथ ही यह भी सोचा जाता है कि किस प्रकार राष्ट्रीय एकता, अखंडता में और मजबूती आये। § Read_More....

Read More »

पुलिस लाइन में हुआ बल्वा ड्रिल का आयोजन

⇒एसएसपी डा. मनोज कुमार संग समस्त पुलिसिया अधिकारी रहे मौजूद
⇒एन्टी रायफल उपकरणों का कराया गया रिहर्सल
फिरोजाबादः जन सामना संवाददाता। पुलिस लाइन फिरोजाबाद में बल्वा ड्रिल का आयोजन किया गया। उक्त बल्वा ड्रिल में एसएसपी डा. मनोज कुमार, एएसपी ग्रामीण महेन्द्र सिंह, एसपी सिटी राजेश कुमार सिंह, सीओ सिटी डा. अरूण कुमार सिंह, सीओ शिकोहाबाद संजय रेड्डी, सीओ टूण्डला संजय वर्मा, सीओ जसराना प्रेमप्रकाश, सीओ सिरसागंज, सीओ सदर अभिषेक कुमार राहुल, पुलिस लाइन प्रतिसार निरीक्षक ताहिर हुसैन, पीआरओ मनोज कुमार के अतिरिक्त समस्त प्रभारी निरीक्षक, थानाध्यक्ष, फायर सर्विस के अधिकारी, कर्मचारी अपराध शाखा के समस्त निरीक्षक, पुलिस कार्यालय की समस्त शाखाओं में नियुक्त अधिकारी-कर्मचारीगण बल्वा ड्रिल के दौरान मौजूद रहे।
साथ ही परेड के दौरान बलवा ड्रिल एवं एन्टी रायफल उपकरणों का रिहर्सल कराया गया। इसमें सभी पुलिस बल से एन्टी राइटगन, टीयर गैसगन, टियर स्मोक ग्रेनेड, स्टन ग्रेनेड को चलाने के बारे में बताया गया तथा उनको चलवाकर रिहर्सल करवाया गया। परेड के दौरान जनपद के पुलिस लाइन में उपलब्ध महत्वपूर्ण सुरक्षा उपकरणों को डिस्प्ले कराया गया तथा इनकी तकनीकी खूबियों से सभी अधिकारी, कर्मचारीगणों को अवगत कराया गया। बलवा ड्रिल, दंगा ड्रिल, एन्टी राइट स्कीम, बेपन्स की जानकारी दी गयी तथा मौके पर ही अधिकारी, कर्मचारियों द्वारा पूछे गये प्रश्नों का उत्तर दिया गया। पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा अपने सम्बोधन में यह भी बताया गया कि शान्ति व्यवस्था सम्बन्ध में पुलिस बल की ड्यूटी लगाये जाने पर यह पाया गया है कि ड्यूटी में लगाया गया पुलिस बल हैलमेट, बाडी प्रोटेक्टर, केन शील्ड, पाली कार्बोनेट धारण नही करता है। इस कारण चोट लगने की प्रबल सम्भावना रहती है। अतः सभी को निर्देशित किया गया कि शान्ति व्यवस्था ड्यूटी में जाने पर प्रत्येक दशा में इसको धारण किया जाये। जिससे अपने साथ होने वाली दुर्घटना से बचा जा सके। § Read_More....

Read More »

प्रोफेसर ई वी गिरीश ने बताये खुशनुमा जीवन के पांच सिद्धांत

⇒कहा-मानव जीवन का उद्देश्य है सदा खुश रहो
फिरोजाबादः जन सामना संवाददाता। गांधी पार्क में आयोजित प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय द्वारा पांच दिवसीय शिविर के दूसरे दिन मुंबई से पधारे प्रोफेसर ई वी गिरीश भाई ने खुशनुमा जीवन के बारे में चर्चा करते हुए बताया कि अगर हम सदा खुश रहना चाहते हैं तो हमें 5 सिद्धांतों पर चलना होगा ।पहला सिद्धांत आध्यात्मिक का व्यक्तित्व है। हम मानवीय जीवन जी रहे हैं।मानवीय जीवन में नौ दिन वृत रख लिए ।मुसलमान ने एक महीना रमजान कर लिया बस हम अच्छा जीवन जी रहे हैं ।खिलाना पिलाना व्रत रखना ही मानवीय जीवन समझ लिया है
दूसरा सिद्धांत मैं आत्मा हूं। मेरा शरीर है। जब तक आत्मा शरीर में है हम अपने को कभी शरीर नहीं बोलते हैं और जैसे आत्मा शरीर से निकल जाती है तो हम इस शरीर को शरीर बोलने लगते हैं ।इसका मतलब है हम आत्मा है और यह हमेशा यह शरीर है और इस शरीर का महत्व भी है जब तक उसमें आत्मा है तीसरा सिद्धांत जैसा कर्म करेगा वैसा भोगना पड़ेगा ।हम किसी के साथ गलत करते हैं और सोचते हैं कि सॉरी बोलने से हमारा किया हुआ समाप्त हो जाएगा तो यह गलत है आपने जो किया है वह आपको भोगना ही पड़ेगा ।कहते हैं मुसलमान को मस्जिद में अल्लाह दिखाई देता है।हिन्दू को मंदिर में भगवान दिखाई देता है ।लेकिन दुनिया जन्नत तभी दिखेगी जब हम इंसान में इंसान दिखाई देगा। चैथा सिद्धांत मानव जीवन का उद्देश्य है सदा खुश रहो। सदा शांत रहना। सदा मीठा बोलना सदैव हिम्मत भरे रहना। हम कहते हैं कभी-कभी गुस्सा होना चाहिए ।कभी-कभी फेल होना बच्चे को होना चाहिए। कभी-कभी यह तो कभी नहीं कहते चाहते हैं। सदा मेरा बच्चा पास होता रहे ऐसे ही सदा खुश रहना चाहिए। पांचवा सिद्धांत -मेरे जीवन में सदा दुख का कारण सिर्फ मैं हूं कोई मुझे दुख नहीं देता है जो सत्य है उसके अनुसार चलना है। डर मानव जीवन को बर्बाद करता है ।माफ करना माना किसी की गलती से होने वाले नुकसान जो जैसा करोगे वैसा भरोगे। चाहे कितनी भी क्षमा कर दो या क्षमा मांग लो जो सत्य है उसके अनुसार चलना है। डर मानव जीवन को बरबाद करता है 10 वीं कक्षा को किसने डराया माता पिता ने। § Read_More....

Read More »

इलेक्ट्रो होम्यौपैथिक मेडीकल एसोसिएशन का चिकित्सा शिविर संपन्न

⇒भाजपा नेता योगेश प्रताप सिंह बघेल ने किया फीता काटकर शुभारम्भ
फिरोजाबादः जन सामना संवाददाता। इलेक्ट्रो होम्योपैथिक मेडीकल एसोसिएशन आॅफ इण्डिया के आहवान पर प्रदेश व्यापी निःशुल्क चिकित्सा शिविर आयोजन के क्रम में नेशनल हाईवे रोड दुर्गेश नगर स्थित भीम वाटिका में निःशुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। जिसका शुभारम्भ मुख्य अतिथि भाजपा नेता योगेश प्रताप सिंह बघेल ने बाबा साहब डा. भीमराव आम्बेडकर जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं होम्योपैथिक के जनक डा. काउंट सीजर मैटी जी की तस्वीर पर माल्यार्पण एवं उसके समक्ष दीप प्रज्जवलन करने के अलावा फीता काटकर शुभारम्भ किया।
इस मौके पर उन्होंने कहा कि जनहित में इलेक्ट्रो होम्योपैथिक मेडीकल एसोसिएशन द्वारा जो यह शिविर लगाया गया वाकई सराहनीय कार्य है। इससे गरीब व जरूरतमंद जिनके पास रूपये न होने की वजह से वह अपना इलाज नहीं करा पाते काफी लाभ होगा। वे तो यही कहेंगे कि विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में भी ऐसे कैंप लगाये जायें, ताकि उन गरीब ग्रामीणों को भी इसका लाभ मिल सके जो शहर दवा लेने नहीं आ पाते। कार्यक्रम का संचालन डॉ एस के पाल ने किया। कार्यक्रम में डॉ एसके पाल, डॉ बलबीर कुशवाहा, डॉ विनय कुशवाहा, डॉ दिनेश कुशवाहा, डॉ हरिओम शर्मा, डॉ जयवीर सिंह बघेल, डॉ राजपाल सिंह, डॉ योगेश कुमार, डॉ रनवीर शास्त्री, डा. रामऔतार कुशवाहा, डा. प्रभाकर शर्मा, डा. सपना कुशवाहा आदि ने सहयोग करते हुए बड़ी लगन से मरीजो को देखा। § Read_More....

Read More »

आर एस एस ने आयोजित किया समरसता संगम कार्यक्रम

औरैयाः ध्रुव कुमार अवस्थी। हिन्दवः सोदराः सर्वे न हिन्दूः पतितो भवेत् अर्थात सभी हिन्दू सहोदर भाई है कोई भी हिन्दू पतित नहीं हो सकता। ऐसा पवित्र ध्येय लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ 1925 से ही हिन्दुओं को संगठन सूत्र में बाॅधने का कार्य कर रहा है। संगठित समाज ही देश की आन्तरिक एवं बाह्य सुरक्षा कवच होता है। बाबा साहेब डा0 भीमराव अम्बेडकर कहते थे कि उदासीनता लोगों को प्रभावित करने वाली सबसे खराब किस्म की बीमारी है। हम सबसे पहले और अंत में केवल भारतीय है एवं संघ के सरसघं चालक रहे पूज्य बाला साहेब देवरस जी कहते थे कि समाज में यदि छुआछूत पाप नहीं है तो कुछ भी पाप नहीं है।
उक्त विचार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह व्यवस्था प्रमुख अनिल ओक जी ने समरसता संगम कार्यक्रम के दौरान व्यक्त किये। उन्हेानें ‘‘हिन्दू’’ शब्द के बारे में विस्तार से बताया। इसके पूर्व मुख्य अतिथि ने भारत माता, पूज्य डा केशवराव बलिराम हेडगेवार, व परम पूज्य गूरू जी माधवराव सदाशिवराव गोलवलक के चित्रों के सम्मुख दीप प्रज्वलित कर पुष्प अर्पित किये। तत्पश्चात स्वागत प्रणाम हुआ इसके बाद ध्वजारोपड़म् किया गया। इसके बाद स्वयंसेवकों ने शारीरिक प्रर्दशन किया। बालिकाओं द्वारा मुख्य अतिथि के स्वागत में स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया। इसके बाद गौरव जी द्वारा विवेकानन्द, संत रविदास, डा भीमराव अम्बेडकर के वेश में बालकों ने अमृत वाणी प्रस्तुत की। इसके बाद आदर्श हिन्दू परिवार, 70 वर्ष से अधिक के स्वयंसेवकों व नगर के पूर्व के सरसंघ चालकों को मुख्य अतिथि अनिल ओक जी, इटावा विभाग के सहविभाग संघचालक विनोद चन्द्र जी, नगर सरसंघ चालक आशीष जी व कार्यक्रम अध्यक्ष आनन्द प्रसाद चतुर्वेदी जी ने प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण रहा घोष प्रदर्शन (मिलट्री बैण्ड) आयुष जी के संचालन में घोष वादन करते हुये विभिन्न आकृतियाॅ बनायी गई जिनकी उपस्थित जनसमुदाय ने जमकर प्रंशसा की। इस मौके पर कार्यक्रम अध्यक्ष ने अपने सारगर्भित ओजस्वी उद्बोधन में कहा कि आज संघ की समाज को अधिक आवश्यकता है। इसके बाद अमृत वचन व गीत प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम के संयोजक संतोष जी ने अंत में सभी का आभार व्यक्त किया।
कार्यक्रम में मुख्य शिक्षक विकास जी ने व्यायाम योग, आसन व शारीरिक कार्यक्रम को सम्पन्न कराया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से विभाग कार्यवाह प्रदीप जी, जिला संघचालक अखिलेश जी, जिला कार्यवाह अवनीश जी, नगर संघ चालक आशीष जी, नगर कार्यवाह सुनील जी, कार्यक्रम व्यवस्था प्रमुख अरविन्द जी उपस्थित रहे। § Read_More....

Read More »

योगी सरकार से नाराज दलित सांसद ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी

इटावाः राहुल तिवारी। भारतीय जनता पार्टी के दलित सांसद अशोक दोहरे ने 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान प्रधान नरेंद्र मोदी जी को एक चिट्ठी लिखी है जिसमें सांसद ने लिखा है कि 2 अप्रैल को भारत बंद में उत्तर प्रदेश सहित अन्य राज्यों सरकारों और पुलिस एससी / एसटी को झूठे मुकदमे में फंसा रही है। उन पर अत्याचार कर रही है। सांसद ने आरोप लगाया है कि पुलिस निर्दोष लोगों को जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल कर घरों से बेगुनाह लोगों को निकालकर मारपीट कर रही है जिससे भारत वर्ष में इन वर्गों के लोगों में रोष और असुरक्षा की भावना बढ़ती जा रही है। सांसद ने प्रधान मंत्री से अनुरोध किया है कि आप इसे बेहद गम्भीर मामले में हस्तक्षेप करे तथा दोषियों के खिलाफ कानूनी कारवाही की जाये। § Read_More....

Read More »

दलित समाज 10 को निकालेगा शांति मार्च

हाथरसः जन सामना संवाददाता। एस.सी.एस.टी. एक्ट को निष्प्रभावी किये जाने के विरोध में गत 2 अप्रैल को आयोजित विरोध प्रदर्शन में हुए शहीदों की आत्म शांति को मौन जुलूस निकाला जायेगा। आगामी 10 मार्च को भारत बंद का ऐलान करने वालों को हथियारों सहित विरोध प्रदर्शन की परमीशन न दी जाये तथा दलित, पिछडे व अल्प संख्यकों के परिवार व प्रतिष्ठानों की सुरक्षा पुलिस प्रशासन द्वारा की जाये। यह सब आरएसएस व भाजपा के इशारे पर हो रहा है।
उक्त आरोप लगाते हुए आज नगला अलगर्जी में समाजसेवी डा. एस.पी. सिंह के आवास पर आयोजित प्रेसवार्ता में दलित समाज के नेताओं लल्लन बाबू एड., दिनेश देशमुख एड., के.सी. निराला एड., ब्रजमोहन राही एड., राजपाल सिंह पूनिया एड. व विजय सिंह प्रेमी ने बताया कि 10 अप्रैल को एस.सी.एस.टी. एक्ट को निष्प्रभावी किये जाने के विरोध में हुए विरोध प्रदर्शन में हुए शहीदों की आत्म शन्ति के लिये शांतिपूर्वक मार्च आगरा रोड स्थित राधा स्वामी बगीची से शुरू होकर शहर के प्रमुख बाजारों से होकर अलीगढ रोड स्थित खंदारी गढी पार्क पर पहुंचकर सम्पन्न होगा और मौन धारण कर समाप्त किया जायेगा।
प्रेसवार्ता में उक्त दलित नेताओं ने कहा कि 10 अप्रैल को एससीएसटी एक्ट एवं दलित, पिछडों के आरक्षण के विरोध में किये जा रहे भारत बंद के दौरान शहर, कस्बों व कम आबादी वाले दलित, पिछडे व अल्प संख्यक के परिवारों व प्रतिष्ठानों की सुरक्षा पुलिस प्रशासन द्वारा की जाये तथा हथियार बंद प्रदर्शनकारियों पर रोक लगाई जाये। उन्होंने कहा कि उक्त प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों द्वारा किसी भी दलित पिछडे व अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के साथ कोई भी अभद्रता, आगजनी, जनहानि, तोडफोड या मारपीट जैसी घटनायें घटित की जाती हैं तो इसकी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।
प्रेसवार्ता में दलित नेताओं ने कहा कि सोशल मीडिया के माध्यम से महापुरूषों के खिलाफ अभद्र बयानबाजी व हरकतों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही की जाये तथा देश भर में बाबा साहब डा. भीमराव अम्बेडकर की तोडी जा रही अम्बेडकर प्रतिमाओं की सुरक्षा की जाये। प्रेसवार्ता में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह कुशवाहा, मुस्लिम नेता शौबी कुरैशी, डा. आर.सी. गोला व भगवान सिंह कोरी ने कहा कि 10 मार्च को निकाले जा रहे शांति मार्च में पूरी तरह से समर्थन करते हैं और पूर्ण सहयोग करेंगे। § Read_More....

Read More »