Home » 2018 » May » 07

Daily Archives: 7th May 2018

टैगोर जयंती पर छात्र छात्राओं को किया सम्मानित

कानपुरः रवि राठौर/धर्मेनद्र कुमार। हरबंश मोहाल कैनाल रोड स्थित टैगोर बाल मंदिर बालिका इंटर कॉलेज में आज गुरुदेव रविंद्र नाथ टैगोर की जयंती पर एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ विद्यादायिनी मां सरस्वती एवं गुरुदेव रविंद्र नाथ टैगोर के चित्र पर माल्यार्पण के साथ किया गया। गुरुदेव रविंद्र नाथ टैगोर जयंती समारोह 2018 के नाम से हुए समारोह में विद्यालय के मेधावी छात्र छात्राओं का सम्मान प्रतीक चिन्ह भेंट कर किया गया। इस दौरान छात्र छात्राओं को तिलक लगाने के साथ ही माल्यार्पण किया गया। विद्यालय की प्रधानाचार्य श्रीमती सीमा गुप्ता ने सभी मेधावी छात्र-छात्राओं को प्रतीक चिन्ह देकर उन्हें सम्मानित किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि और अन्य गणमान्य व्यक्तियों का विद्यालय परिवार की ओर से स्वागत भी किया गया। वक्ताओं ने कहा कि गुरुदेव रविंद्र नाथ टैगोर का जो सपना था वर्तमान समय में विद्यालय उस सपने को पूरा करने का काम कर रहा है। कार्यक्रम के दौरान गुरुदेव रविंद्र नाथ टैगोर के जीवन पर प्रकाश डाला गया। कहा गया कि रविनाथ टैगोर जी ने अत्याधिक गीत लिखे यही वजह है गुरुदेव के लिखे हुए गीत दो देशों के वर्तमान में राष्ट्रगान है। यह भारत के लिए सौभाग्य की बात है कि गुरुदेव को नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया। § Read_More....

Read More »

भीषण गंदगी से क्षेत्रीय लोग परेशान

कानपुरः नीरज राजपूत। देश के प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी का सपना है कि पूरा देश साफ सुथरा रहे और लोग स्वस्थ व विरोगी रहें। वहीं प्रधानमन्त्री जी के आवाहन पर पूरे देश में सफाई अभियान चलाया जा रहा है लेकिन शहर के नौबस्ता इलाके के धरीपुरवा के वासिन्दों को गंदगी से निजात मिलती नहीं दिख रही आलम यह है कि भीषण गंदगी के चलते जीना मुहाल हो गया है। स्थानीय नागरिकों के मुताबिक गलियों की बात कौन कहे, मोहल्ले के आस पास से निकलना कोई पसन्द नहीं करता। क्षेत्रीय लोगों की माने तो वार्ड 66 की महिला  पार्षद यशोदा देवी से कई बार शिकायत की पर कोई सुनवाई नहीं की। इस बारे में पार्षद यशोदा देवी का कहना है कि जो भी काम हो वो हमारे पति से कहिए, वही सबकुछ करवाते हैं। इस बारे में लक्ष्मी शंकर बोलते है कि काम हो जाए पर सफाई कर्मचारी नहीं आता है इस लिए हम लाचार हैं। अब ऐसे हालातों में प्रधानमन्त्री के सपनों को पलीता लगना स्वाभाविक सी बात है। § Read_More....

Read More »