Home » मुख्य समाचार » भाजपा को यहां लगा झटका, उपवास पर नहीं पहुंचे पार्टी के कार्यकर्ता, अपना दल ने भी बनाई दूरी

भाजपा को यहां लगा झटका, उपवास पर नहीं पहुंचे पार्टी के कार्यकर्ता, अपना दल ने भी बनाई दूरी

मीरजापुर, संदीप कुमार श्रीवास्तव। मीरजापुर जिला मुख्यालय पर भाजपा नेता विपक्ष द्वारा संसद में गतिरोध उत्पन्न करने के विरोध में एकदिवसीय उपवास कार्यक्रम के दौरान पार्टी के बड़े नेताओं का जमावड़ा तो रहा लेकिन इस दौरान बीजेपी के कार्यकर्ता ने उपवास स्थल से दूरियां बनाए रखी। कार्यक्रम के दौरान पार्टी में गुटबंदी साफ दिखाई पड़ी। उपवास स्थल पर नेता अपने-अपने समर्थकों के साथ एक दूसरे से कटे-कटे नजर आए। तो वही भाजपा कि सहयोगी पार्टी अपना दल ने उपवास से कन्नी काट ली। उपवास कार्यक्रम के दौरान पार्टी का कोई पदाधिकारी नजर नहीं आया।
उपवास स्थल पर भाजपा नेता भीषण धूप से परेशान दिखाई दिए। कई नेता बार बार उठ कर स्थान बदलते रहे। धूप से बचने के लिए छांव कि तलाश करते दिखाई दिए। मड़िहान से विधायक सुचिस्मिता मौर्या महिला कार्यकार्यताओ के साथ धूप से बचने के लिए सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय की सीढ़ियों पर बैठी नजर आयी। भाजपा अध्यक्ष बालेंदुमणि त्रिपाठी भी अपना स्थान बदलते हुए दिखाई दिए। उपवास स्थल से चुनार से भाजपा विधायक अनुराग सिंह नदारद रहे। तो वही दोपहर बाद नगर विधायक रत्नाकर मिश्रा भी चले गए। कार्यक्रम के दौरान सत्ताधारी पार्टी के कार्यकार्यताओं कि कम उपस्थिति व उत्साह में कमी चर्चा का विषय बनी रही। इस दौरान मड़िहान से विधायक रमाशंकर सिंह पटेल ने कहा कि भाजपा काम करना चाहती है, विपक्ष काम करने नहीं दे रहा। बतौर मुख्य अतिथि उपवास कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे क्षेत्रीय उपाध्यक्ष नागेंद्र रघुवंशी ने कहा कि विपक्ष द्वारा लगातार संसद के कार्य मे बाधा उत्पन्न कर समाज को दिग्भ्रमित करने का कार्य किया जा रहा है। जबकि केंद्र सरकार लगातार गरीबों के लिए अनेक लाभकारी योजनाओं का संचालन कर रही है। विपक्ष का संसद की करवाई में व्यवधान उत्पन्न करना उनकी नियत पर सवालिया निशान लगाता है। इसी लिये प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने इनके सद्बुद्धि की कामना के लिए एक दिन के उपवास कि घोषणा कि है। उपवास कार्यक्रम में नगर पालिका अध्यक्ष मनोज जायसवाल, पूर्व भाजपा जिला अध्यक्ष अनिल सिंह, मनोज श्रीवास्तव, दिवाकर मिश्रा, नीरू श्रीवास्तव मौजूद रहे।