Home » मुख्य समाचार » आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या पर जिला अस्पताल में पहुंचेआईजी, डीएम, एसएसपी

आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या पर जिला अस्पताल में पहुंचेआईजी, डीएम, एसएसपी

हिन्दू संगठन के साथ भाजपा आरएसएस के लोगों से भरा रहा जिला अस्पताल
पुलिस की देखरेख में किया गया अन्तिम संस्कार नगर विधायक के साथ भाजपा के नेताओं को लगा जमावाड़ा
फिरोजाबाद, एस. के. चित्तौड़ी। विगत रात्रि में आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या की जानकारी होते ही आज सुबह आरएसएस के साथा भाजपा हिन्दू संगठन के पदाधिकारी कार्यकर्ता का जिला अस्पताल में जमावाडा लग गया। जिसको देख भारी मात्रा में पुलिस प्रशासन के अधिकारियों के साथ पीएसी के जवान भी तैनात किये गये। पोस्टमार्टम के साथ शव को पुलिस अभिरक्षा में अन्तिम संस्कार कराया गया। आक्रोशित लोगो ने पुलिस कार्यवाही को ढ़ीला बताते हुए आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने की माॅग गई है।
बताते चले कि विगत रात्रि में उत्तर क्षेत्र के दया नगर गली नम्बर दो के बाहर आरएसएस के कार्यकर्ता को बाइक सवार लोगो ने गोलीमार दी। जिससे उसकी जिला अस्पताल पहुचते-पहुचते रास्ते में ही मौत हो गयी। कार्यकर्ता की मौत की जानकारी होने पर रात्रि में ही आई राजा श्रीवास्तव जिलाधिकारी नेहा शर्मा एसएसपी राहुल यादुवेन्द्र के साथ एसपी सिटी राजेश कुमार सिंह, एसपी ग्रामीण महेन्द्र सिंह के साथ पीएसी बल भी पहुच गया। वही रात्रि में भाजपा नेताओं के साथ आरएसएस हिन्दू संगठन के लोग भी जिला अस्पताल पहुच गये। जहां आरएसएस कार्यकर्ता की पहचान दयाल नगर निवासी संदीप शर्मा पुत्र हरीसिंह 34 वर्षीय के रूप में हुई। परिजनों के मुताबित बताया गया कि संदीप रात्रि में घर पर खाना खाकर बाहर फोन आने पर घूमने गया था। कि कुछ समय बाद सूचना मिली कि अपाचे गाडी पर सवार दो लोगो ने गोलीमार दी है, गोली छाती में लगने से बुरी तरह जख्मी हो गया। जिसको उपचार के लिए जिला अस्पताल लेकर गये। जहां चिकित्सक ने उसको मृत घोषित कर दिया। रात्रि में ही शव को पोस्टमार्टम गृह में रखा गया। सुबह होते ही भाजपा के वरिष्ट नेता नानकचन्द्र अग्रवाल, जिलाध्यक्ष बीएल वर्मा, महानगर अध्यक्ष कन्हैयालाल गुप्ता, नगर विधायक मनीष असीजा, के साथ दर्जनों भाजपा के कार्यकर्ता के साथ आरएसएस के पदाधिकारी हिन्दू संगठन के लोगो के साथ काफी लोग मौजूद रहे।
बुधवार की सुबह से ही पुलिस अभिरक्षा में पोस्टमार्टम कार्यवाही करते हुए पुलिस की देख रेख में शव को शव वाहन में मृतक के घर तक ले जाया गया। जहां उसका अन्तिम संस्कार कार्य सम्पन्न होने के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली। परिजनों के साथ जिला अस्पताल में आये लोगो में चर्चा थी कि परिवारिक जमीनी रंजिश को लेकर उसकी हत्या की गयी है। विगत रविवार को संगठन ने अम्बेडकर नगर का पर्यावरण प्रभारी का पदभार दिया था। सगठन में विगत काफी समय से स्वंयसेवक बनकर सेवा कार्य कर रहे थे। अन्तिम संस्कार में नगर विधायक मनीष असीजा, नानक चन्द्र अग्रवाल, गौसंवर्धन अधिकारी रमाकान्त उपाध्याय, रमाकान्तयादव विभाग प्रचारक आर्र्येन्द्र राजेन्द्र , आनन्द मित्तल, रविन्द्र शर्मा ढ़पली, महानगर युवा मोर्चा के पिकीं चक, सुरेन्द्र राठौर आदि लोग थे।