Friday, October 19, 2018
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » झोलाछाप चिकित्सकों की लापरवाही से बालक की मौत

झोलाछाप चिकित्सकों की लापरवाही से बालक की मौत

⇒परिजनों ने कराया दो झोलाछापों के खिलाफ मुकदमा दर्ज
फिरोजाबादः जन सामना संवाददाता। थाना रसूलपुर के गांव बरकतपुर में दो झोलाछाप चिकित्सक की लापरवाही के कारण एक बालक की रविवार की देर रात्रि मौत हो गयी। परिजनों ने दोनों चिकित्सकों के खिलाफ थाना रसूलपुर में मुकदमा पंजीकृत कराया है। पुलिस ने बालक का पोस्टमार्टम जिला अस्पताल में कराया है।
गांव बरकतपुर निवासी भारत सिंह के 14 वर्षीय पुत्र हरिओउम की 22 सितम्बर को तबियत खराब हो गयी थी। परिजनों ने उसे गांव में ही स्थित झोलाछाप चिकित्सक ग्रीश वर्मा को दिखाया। जव ग्रीश की दवा से हरिओउम को कोई फायदा नही हुआ तो भारत सिंह ने पुत्र हरिओउम को गांव के ही एक ओर झोलाछाप चिकित्सक दीपेश को दिखाया। आरोप है कि दोनों झोलाछाप चिकित्सकों के यहां उपचार कराने के बाद हरिओउम की तबियत और ज्यादा बिगड गयी। परिजन बालक को नगला भाऊ स्थित एक प्राइवेट नर्सिग होम ले गये। जहां चिकित्सक ने हालत नाजुक होने पर उसे आगरा रैफर कर दिया। परिजन बालक को आगरा ले गये तो वह भी दशा नाजुक बताते हुये उसे दिल्ली रैफर कर दिया। दिल्ली के डा0 राममनोहर लोहिया हास्पीटल में बालक हरिओउम का कुछ दिन इलाज चला। रविवार की देर रात्रि बालक ने दिल्ली में दम तोड दिया। परिजन शव को लेकर जिला अस्पताल आ गये और पोस्टमार्टम गृह में रखवा दिया। थाना प्रभारी रसूलपुर से इस सम्बंध में बात की तो उन्होंने बताया कि उक्त दोनों झोलाछाप चिकित्सकों के खिलाफ बालक के परिजनों ने सूचना पहले ही दर्ज करायी थी। उन्होंने बताया कि दोनों ही झोलाछाप चिकित्सकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे है।