मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों की बैठक 2 जून को

कानपुर देहात, जन सामना ब्यूरो। मतदेय स्थलों के सम्भाजन के सम्बन्ध में जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने सभी एसडीएम को निर्देश दिये है कि मुख्य निर्वाचन अधिकारी के निर्देशों के अनुसार मतदेय स्थलों के भौतिक सत्यापन एवं संभाजन किये जाने का निर्देश किया गया है। इसी क्रम में जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित नये सभागार में 2 जून को अपरान्ह 5 बजे बैठक आयोजित की गयी है। जिसमें जनपद के समस्त उप जिलाधिकारी एवं समस्त मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के साथ समय सारणी जारी कर मतदेय स्थलों के भौतिक सत्यापन/सम्भाजन किये जाने संबंध में चर्चा की जायेगी। उक्त आयोजित बैठक में 600 से कम मतदाताओं वाले मतदेय स्थलों के सम्बन्ध में उप जिलाधिकारी/तहसीलदार स्वयं निरीक्षण कर उन मतदेय स्थलों के निकटतम मतदेय स्थल में आयोग के निर्देशानुसार समायोजित कर सूचना 1 जून को पूर्वान्ह 11 बजे तक कार्यालय में उपलब्ध कराते हुए बैठक में निर्धारित तिथि व समय पर उपस्थित होना सुनिश्चित करें। § Read_More....

Read More »

दो दिवसीय बैंक हड़ताल सड़क पर उतरे कर्मचारी, बैंकिंग व्यवस्था चरमराई

कानपुर, स्वप्निल तिवारी। आज दो दिवसीय पूर्णबन्दी हड़ताल को लेकर बैंकों में ताला पड़ा रहा व कई बैंकों में कर्मचारी एकजुट होकर मांगे न माने जाने के विरोध में धरना प्रदर्शन करने बैठ गए। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस के आह्वाहन पर बड़े चैराहा स्थित इलाहबाद बैंक स्टाफ एसोसिएशन कानपुर इकाई के सदस्यों ने दो दिवसीय पूर्ण हड़ताल पर धरना प्रदर्शन कर नारेबाजी की इस दौरान बैंकों को सभी शाखाओं पर ताला लटका रहा है। संगठन के मंत्री धर्मराज पांडेय ने बताया कि 5 मई को वेतन व्रद्धि की बैठक में भारतीय बैंक संघ ने दो फीसदी वेतन व्रद्धि का प्रस्ताव देकर समस्त बैंक अफसर और कर्मचारियों पर कुठाराघात किया है § Read_More....

Read More »

झगड़े में घायल हुए व्यक्ति की इलाज के दौरान मौत

कानपुर देहात, जन सामना संवाददाता। रसूलाबाद थाना क्षेत्र के अन्तर्गत दो पक्षों में हुए झगड़े में घायल हुये एक व्यक्ति की इलाज के दौरान मौत हो गई जबकि दूसरा अस्पताल में भर्ती है।
जानकारी के अनुसार, थाना क्षेत्र के ग्राम पोवा गोकुल निवादा में राजनारायण के चाचा कुंवर लाल को मंगलवार को गाँव के ही होरीलाल के पुत्र अनिल, अरविन्द एवं गोविन्द ने घेरकर लाठी, डंडा, सरिया से बुरी तरह से मारा पीटा जिससे उनके सिर व कमर में गंभीर चोंटे लग गई थी। चीख पुकार सुनकर कुँवर लाल के भाई मुन्नालाल उनको बचाने के लिए पहुंचे तो उनको भी दबंग युवकों ने मारा-पीटा जिससे मुन्नालाल का पैर फट गया। गाँव के तमाम लोगों के आ जाने से अनिल, अरविन्द और गोविन्द ने अपनी गाड़ी में कुंवर लाल को लाद कर भागने का प्रयास किया लेकिन ग्रामीणों के इकट्ठा हो जाने से जान से मारने की धमकी देकर भाग निकले। § Read_More....

Read More »

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के माध्यम से उत्तर प्रदेश का होगा सर्वांगीण विकासः मुख्य सचिव

लखनऊः जन सामना ब्यूरो। उत्तर प्रदेश के नागरिक उड्डयन मंत्री श्री नंद गोपाल ‘‘नंदी‘‘ ने कहा कि गोतमबुद्ध नगर जनपद में जेवर के निकट ‘‘नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट‘‘ का विकास राज्य सरकार की प्राथमिकताओं में एक है, जिसे वर्ष 2000 में अवधारित किया गया था, किंतु 17 साल से लंबित चल रहे इस प्रोजेक्ट पर वर्तमान राज्य सरकार ने तत्परता से मात्र एक साल के भीतर साइट क्लीयरहेंस और इन प्रिंसिपल अप्रूवल प्राप्त करा लिया गया है। उन्होंने कहा कि इस एयरपोर्ट को सन् 2022 तक आपरेशनल कराने हेतु निर्धारित माइल स्टोन के साथ आवश्यक कार्यवाहियां प्राथमिकता से सुनिश्चित कराई जायें। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजीव कुमार ने कहा कि इस प्रोजेक्ट के माध्यम से उत्तर प्रदेश के सर्वांगीण विकास के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उत्तरप्रदेश की छवि बेहतर करने के साथ-साथ निवेशकों को आकर्षित करने में मदद मिलेगी। आज यहां राज्य सरकार की 4 इकाइयों- नागरिक उड्डयन निदेशालय, नोएडा, ग्रेटर नोएडा तथा यमुना एक्सप्रेस वे इंडस्ट्रियल उेवलपमेंट अथाॅरिटी द्वारा एक एमओयू हस्ताक्षरित किया गया है जिसके माध्यम से एक एस पी वी  को श्रवपदज टमदजनतम ब्वउंचंदल के रूप में गठित कर जेवर एयरपोर्ट के विकास के लिए अग्रेतर कार्यवाही की जाएगी। प्रमुख सचिव, नागरिक उड्डयन, श्री एस0पी0 गोयल ने बताया कि इस डव्न् के उपरांत कंपनी का गठन कर भूमि अधिग्रहणध्क्रय की कार्यवाही की जाएगी । उन्होंने बताया कि  नोडल एजेंसी यमुना एक्सप्रेस वे द्वारा कंसेशनयरध्विकास कर्ता के चयन के लिए बिड डाॅक्यूमेंट तैयार किया जा रहा है। जुलाई के अंत तक बिडिंग प्रक्रिया प्रारंभ करा दी जायेगी। निदेशक नागरिक उड्डयन, श्री एस0 एस0 गंगवार ने बताया कि इस प्रोजेक्ट की डी पीआर तथा  टैक्नो इकोनाॅमिक्स फिजिबिलिटी स्टडी रिपोर्ट प्राइस वाटर हाउस कंसलटेंट कंपनी द्वारा तैयार की गई। इस रिपोर्ट के अनुसार कुल 8 ग्राम की 1441 हेक्टेयर भूमि को क्रय / अधिग्रहण किया जाना प्रस्तावित है। § Read_More....

Read More »

असेंट विद्यार्थियों ने रचा इतिहास स्कूल में हर्षोल्लास

कानपुर/घाटमपुर, शीराजी। स्थानीय एसेंट पब्लिक स्कूल के छात्रों ने आज हाई स्कूल सीबीएसई बोर्ड द्वारा घोषित परीक्षा परिणाम में 99 % सफलता प्राप्त कर इतिहास रच दिया। इस मौके पर विद्यालय के चेयरमैन रमेश वर्मा, सचिव संदीप वर्मा, निदेशक मुकेश कुमार माथुर और प्रधानाचार्य अतुल सक्सेना ने सभी छात्र छात्राओं व उनके अभिभावकों को शुभकामनाएं देते हुए इसी तरह हर परीक्षा में उत्कृष्ट परिणाम लाने और माता-पिता के विस्वास रूपी स्वप्न को पूरा करने के लिए प्रेरित किया। विद्यालय में अच्छा प्रदर्शन करने वाले छात्र ऐश्वर्य ओमर 95.5% अंकित कुमार 93.3 प्रतिशत प्रतीक सचान 89.8 परसेंट असफिया कुरैशी अट्ठासी पर्सेंट, मानसी सचान 87% रिद्धिमा साहू 86.6 % शुभी पटेल 85.8% गौरी सचान 84.7% उत्कर्ष सचान 85.6% अभिषेक तिवारी 84.1% ने उच्च परिणाम ला कर विद्यालय का नाम रोशन किया और अपने माता-पिता के साथ अपने गुरुजनों की कसौटी पर खरे उतरे। इस दौरान समस्त अध्यापक अध्यापिकाओं ने विद्यार्थियों को उनके बेहतर भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी साथ ही उज्जवल भविष्य की कामना की। आशीर्वाद दिया और इससे भी उत्कृष्ट परीक्षा परिणाम दिलाने का संकल्प लिया।

  § Read_More....

Read More »

ट्रैक्टर चालक एवं ससुराल में रह रहे युवक ने लगाई फांसी

कानपुर/घाटमपुर, शीराजी। बहन की ससुराल आए भाई ने गांव बाहर पेड़ से फांसी लगाकर जान दे दी। वही ससुराल में रह रहे युवक ने गांव के बाहर बबूल के पेड़ में फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर दी। प्राप्त विवरण के अनुसार ग्राम गढ़वा विधनू निवासी विष्णु का पुत्र दीपू 22 वर्ष अपनी बहन की ससुराल तुलसीपुर में आया था आज सुबह गांव के बाहर नीम के पेड़ में अंगौछा से फांसी लगाकर दीपू ने आत्महत्या कर ली। दूसरी घटना पतारा में घटी ग्राम नंदना निवासी कैलाश का पुत्र बबलू अपनी ससुराल पतारा में 8 वर्ष से रह रहा है। उसके 5 वर्ष की पुत्री प्रगति व 3 वर्ष कीपुत्री अन्तिमाहै । आज दोपहर में गेहूं लेने के लिए लोडर लेने निकला बबलू के घर थोड़ी देर में ग्रामीणों ने खबर दी कि उसने गांव के बाहर बबूल के पेड़ से फांसी लगाकर अपनी जान दे दी है। पुलिस ने दोनों शवों को परीक्षण के लिए कानपुर भेजा है। § Read_More....

Read More »

पीएम नरेन्द्र मोदी जी ने लिए कड़े व बड़े फैसलेः नकबी

प्रेसवार्ता में जानकारी देते केन्द्रीय मन्त्री मुख्तार अब्बास नकबी

-मोदी सरकार की उपलब्धियों को गिनाया
-हज सबसिड़ी खत्म करने को बताया कड़ा फैसला
-पत्रकारों के सवालों का जवाब नहीं दे पाये केन्द्रीय मन्त्री
कानपुरः जन सामना संवाददाता। मोदी सरकार की चार साल उपलब्धियों को गिनाने के लिए केन्द्रीय मन्त्री अल्प संख्यक कार्य मन्त्रालय मुख्तार अब्बास नकबी आज शहर में पधारे।
सर्किट हाउस में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान शहर में मोदी जी की रैलियों की चर्चा से शुरूआत करते केन्द्रीय मन्त्री मुख्तार अब्बास मन्त्री ने केन्द्र सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए बताया कि जब से श्री नरेन्द्र मोदी देश के प्रधानमन्त्री बने हैं तब से पूरी दुनियां में भारत के प्रति सोंच बदली है। उन्होंने कहा कि लाल बत्ती कल्चर खत्म किया गया। एलपीजी सबसिडी पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि पीएम के आहवाहन पर करोड़ों ने सबसिडी छोड़ दी जिससे उज्जवला योजना का संचालन कर गरीबों को एलपीजी सिलेण्डर व चूल्हे दिए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि 2014 से पहले की 28 डीबीटी योजनाएं ठण्डे बस्ते में पड़ी थी उन्हें संचालित किया गया और इस समय 431 डीबीटी योजनाएं संचालित की जा रही हैं जिसका सीधा फायदा आम जनता को मिल रहा है।
आर्थिक सुधार के लिए जीएसटी लागू करना व आतंकवाद पर लिए गए फैसलों को उन्होंने बड़े व कड़े फैसले बताया। उन्होने बताया कि सांसदों की सबसिडी संसद की कैण्टीन में खत्म कर दी गई, साथ ही हज पर जाने वालों को दी जाने वाली सबसिडी खत्म कर दी गई। उन्होंने बताया कि पहले की अपेक्षा अब टैक्स देने वालों की संख्या में इजाफा हुआ है।
एवार्ड वापसी की चर्चा करते हुए बताया कि लोगों ने अंग्रेजों के जमाने के एवार्ड वापस किए पता नहीं वो कौन लोग थे। साथ ही कहा कि आने वाले समय में देश की जीडीपी 7.4 से ज्यादा होगी।
मन्त्री महोदय ने कहा कि देश के पीएम नरेन्द्र मोदी को विदेश यात्राओं के दौरान जो सम्मान मिला है वह पहले कभी किसी पीएम को नहीं मिला। उन्होंने कहा जब भी मोदी जी विदेशों में जाते हैं तो उन्हें वहां के राष्ट्रपति प्रोटोकाल तोड़ कर सम्मान देते हैं। यह देश के लिए गर्व की बात है। § Read_More....

Read More »

मोबाइल शाॅप का ताला तोड़कर नकदी व मोबाइल चोरी

कानपुरः जन सामना संवाददाता। बर्रा थाना क्षेत्र में रात्रि के समय मोबाइल शाॅप का ताला तोड़कर चोरों ने नकदी व मोबाइल चोरी कर लिए। सूचना मिलने पर पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंचे और जल्द ही वारदात का खुलासा करने की बात कह चले गए।
वरुण विहार मैन रोड पर रजनीश यादव की श्रेया टेलीकाॅम के नाम से दुकान है। रजनीश ने बताया कि रात्रि 11 बजे दुकान बन्द कर घर चले गए और आज सुबह 8 बजे जब दुकान पहुंचे तो ताला टूटे देख उनके होश फाख्ता हो गए। उन्होंने बताया कि दुकान से 7 मोबाईल जिनकी कीमत लगभग 40 हजार रुपये व लगभग 25 हजार रूपये चोरी हो गए हैं। § Read_More....

Read More »

रेट्रो लुक मेकअप में ना करें गलतियां

आजकल फिल्मों के जरिए रेट्रो लुक फैशन की दुनियां में वापसी कर रहा है। खास बात यह है कि यह रेट्रो लुक युवाओं में काफी प्रसिद्ध हो रहा है। महिलाएं काॅलेज के साथ-साथ आॅफिस जाने के लिए भी प्रयोग कर रहीं हैं।
आजकल रेट्रो लुक मेकअप महिलाओं में काफी पसंद किया जा रहा है। इसमें साठ के दशक की तरह स्किन पर मैट फिनिश टच दिया जाता है। खास बात यह है कि यह लुक इंडियन फीचर्स और ट्रेडिशन इंडियन कपड़ों को सूट भी करता है। इसीलिए विस्तार से जानिए जन सामना की ब्यूटी एडवाइजेर व सलेब्रिएटी मेकअप आर्टिस्ट शालिनी योगेन्द्र गुप्ता से।
शालिनी के अनुसार रेट्रो लुक के लिए जो मेकअप आइटम प्रयोग किए जाते हैं उनमें लिप ग्लाॅस, फ्राॅस्टेड लिपस्टिक, म्यूटेड ब्लशर कलर्स, आई लाइनर, आई शैडो और मस्कारा शामिल हैं। दरअसल, उन दिनों पीच और लाइट पिंक ब्लशर इन थे, इसलिए ब्लशर को नैचरल ग्लो लाने के लिए यूज करें।
फेसः फेस वाॅश से साफ करके लिक्विड टिंटेड फाउंडेशन लगाएं। मैक का डीप ब्ल्यू आईशैडो आइलिड से बाहर की तरफ फैलाएं। अच्छी तरह ब्लेंड करें। हेवी आइलाइनर अपर एंड लोअर लैशलाइन पर लगाएं। फाॅल्स आइलैशेज लगाएं और मस्कारा के दो कोट लगाएं। मैक का पीच कलर ब्लशर लगाएं। ब्राॅन्जर से हाइलाइट करें। कोरल लिपस्टिक लगाएं। फिर ट्रासपेरेंट ग्लाॅस लगाएं।
हेयरः आगे के बालों को पीछे की तरफ ले जाकर क्राउन एरिया पर आगे की तरफ प्रेस करते हुए साइड पोनी बनाएं। फ्रिंज को एक साइड में क्लीन सेट करें।
बालों के एक तरफ बिग मैंचिग एक्सेसरीज लगाएं।
चीक्स-गलतीः चीकबोंस को शेप देने के लिए डार्क शेड वाला ब्लश इस्तेमाल करती हैं। इस तरह चीक्स अलग से हाइलाइट होने लगते हैं, जो आपके काॅम्प्लेक्शन को दबा देते हैं।
सलूशनः चीक्स को शेप देने के लिए काॅम्प्लेक्शन के हिसाब से ही ब्लशर चुनें। बजाय ढेर सारा ब्लशर बर्बाद करने के हलका ब्राॅन्जर चीक्स एपल के साइड पर नाक की सीध से हेयरलाइन तक ले जाते हुए लगाएं। ब्लशर का ऐसा शेड चुनें जो आपकी स्किन टोन से मेल खाता हो। मसलन- फेयर स्किन के लिए रोज शेड्स चुनें। आॅलिव स्किन के लिए पीच शेड्स। खासतौर पर मिनरल ब्लशर चुनें। डार्क स्किन के लिए रेड और एप्रिकाॅट शेड्स चुनें। § Read_More....

Read More »

आतंकियों पर रहम की जरूरत नहीं

रमजान के महीने में मोदी सरकार द्वारा आतंकवादियों के विरूद्ध घोषित एकतरफा सीजफायर से सिर्फ फजीहत ही मोदी सरकार के हांथ लग रही है। जिस तरह से रमजान के महीने में आंतकी घटनायें घटित हो रही हैं और उसको देखते हुए सेना ने भी अपने स्वर मुखर किये है। देश की जनता भी इस कदम को सही नहीं ठहरा रही है। वहीं सेनाधिकारियों की मानें तो एकतरफा सीजफायर की इस घोषणा ने आतंकी गुटों में नई जान फूंकने जैसी बात कही क्योंकि इसका फैसला ऐसे समय में लिया गया है जब आतंकियों की कमर टूटने की बात कही जा रही है। अतीत पर अगर नजर डालें तो रमजान के अवसर पर कश्मीर में पहली बार सीजफायर की घोषणा भी भारतीय जनता पार्टी की नेतृत्व वाली सरकार के मुखिया तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने की थी। उनका मकसद था कि कश्मीर में शांति रहे लेकिन उनका यह प्रयास औंधे मुंह गिरा था। दुखद पहलू पहले चरण के सीजफायर का यह था कि जिस आम कश्मीरी जनता को राहत पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार ने सीजफायर की घोषणा की थी उन्हीं को सबसे अधिक खामियाजा भुगतना पड़ा था। अगले चरणों में भी नागरिकों को कोई राहत नहीं मिली थी क्योंकि आतंकियों के निशाने पर सुरक्षा बलों के साथ साथ नागरिक रहे थे। इतना जरूर था कि सुरक्षा बलों ने आतंकी हमलों पर जवाबी कार्रवाई करते हुए वर्ष 2000 के सीजफायर के चार चरणों के दौरान लगभग तीन सैकड़ा आतंकियों को ढेर कर दिया था। लेकिन इन कामयाबियों के लिए सुरक्षा बलों को भी लगभग दो सौ जवानों व अधिकारियों की शहादत देनी पड़ी थी और तकरीबन साढ़े तीन सैकड़ा नागरिक भी इस दौरान मारे गए थे। यह भी सामने आया था कि आतंकी गुटों ने वर्ष 2000 के रमजान सीजफायर के दौरान अपने आपको अच्छी तरह से मजबूत कर लिया था और यह मजबूती सीजफायर की समाप्ति के बाद के कई महीनों के दौरान होने वाले हमलों और मौतों से स्पष्ट होती रही थी।
यह कहना कदापि अनुचित नहीं कि तत्कालीन परिस्थितियों में सुरक्षा बलों ने सीजफायर से बहुत से सबक सीखे थे लेकिन देश के राजनीतिज्ञों ने कुछ नहीं सीखा था शायद। वर्तमान में जो आदेश दिया गया है उससे तो यही जाहिर होता है कि देश के राजनीतिज्ञों ने ऐसे समय में पुनः सीजफायर लागू करवाने में कामयाबी पाई है जबकि सेना के आॅपरेशन आल आउट ने आतंकियों की कमर को तोड़ दिया है। बचे खुचे आतंकियों को उनकी मांद से निकाल मारने का जो सिलसिला तेजी पकड़ पकड़ रहा है अब उस पर ब्रेक लगा दिया गया लेकिन यही कारण है कि देश की सेना समेत अन्य सुरक्षा बलों के अधिकारियों ने इस सीजफायर का विरोध करना आरंभ किया है और आतंकी घटनाओं को अंजाम दे रहे आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब देने की बात सामने आ रही है। § Read_More....

Read More »

Responsive WordPress Theme Freetheme wordpress magazine responsive freetheme wordpress news responsive freeWORDPRESS PLUGIN PREMIUM FREEDownload theme freeDownload html5 theme free - HTML templates Free Top 100+ Premium WordPress Themes for 2017 Null24Món ngon chữa bệnhCây thuốc chữa bệnhNấm đông trùng hạ thảo