Home » मुख्य समाचार » फिल्म बन्धु के सहयोग से पी-3 फिल्म का करायेंगे निर्माण: केपी ओबराय

फिल्म बन्धु के सहयोग से पी-3 फिल्म का करायेंगे निर्माण: केपी ओबराय

सक्रियता उम्र की मोहताज नही, बल्कि मन मस्तिष्क, दिमाग से है रहती
एक साल नई मिसाल, सबका साथ सबका विकास संग्रणीय पुस्तकः चेयरमैन हास्पिटल
कानपुर देहात, जन सामना ब्यूरो। रनियां निवासी सीनियर सिटीजन व समाजसेवी उम्र लगभग 80 वर्ष केपी ओबराय जोकि जिन्दादिली के मिसाल है उनकी खास बात यह है कि ये जहां भी जाते है युवाओं, वृद्धों, महिलाओं को सकारात्मक, रचनात्मक कार्या के प्रति संवेदनशील सर्तक होने व बने रहने की शिक्षा देते है। केन्द्र व प्रदेश सरकार की उपलब्धियों को बताते है। सीनियर सिटीजन केपी ओबराय स्वर संसार सोसाइटी के निर्देशन में, बीआरएस फिल्म कृत साई के दर आओं, सरदार भगत सिंह आदि पर गीतों की तैयार सीडी जिसमें गायक उदय, मधु, अन्जना आदि ने गायकी के स्वर दिये है जिसका रिप्रिन्ट का विमोचन सहायक निदेशक सूचना प्रमोद कुमार से कलेक्ट्रेट के सामने बरगद के पेड के नीचे एक सादे कार्यक्रम में कराया। सीनियर सिटीजन केपी ओबराय ने सहायक निदेशक सूचना से फिल्म बन्धु के बारे में जानकारी ली और कहा कि वे शीघ्र ही कानपुर देहात, कानपुर नगर, इटावा, लखनऊ,आजमगढ़, कुशीनगर, सारनाथ आदि चिन्हित स्थलों को सूट कराकर अपनी फिल्म पी-3 (पवित्र-प्रिय-प्रेम) की स्क्रीपट तैयार कर फिल्म बन्धु में रखेंगे।
सीडी निर्माता केपी ओबराय से सहायक निदेशक सूचना प्रमोद कुमार ने सलाह देते हुए कहा कि वे उत्तर प्रदेश फिल्म बन्धु सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग की फिल्म गाइड लाइन को पहले पूरी तरह से समझ ले। आधुनिक युग है समय के साथ बदलाव जरूरी है सीडी को पेन ड्राइव, यूट्यूब, सोसलमीडिया आदि में कराकर आमजन में वितरण कर देश भक्ति का संदेश व अपने मानवीय विचार आमजन को बताये। उन्होंने कहा कि यह बात सही है कि केपी ओबराय 80 वर्ष के उम्र में भी सक्रिय है। सक्रियता उम्र की मोहताज नही होती बल्कि मन मस्तिष्क, दिमाग से रहती है। सीनियर सिटीजन केपी ओबराय अपना आदर्श अपने स्मृतिशेष माता पिता, धर्मपत्नी के साथ ही महामानव गौतम बुद्ध, कबीरदास जी, फिल्म हिरोइन मधुबाला, पूर्व राष्ट्रपति एपीजी अब्दुल कलाम, संविधान निर्माता बाबा साहब डा. बीआर अम्बेडकर, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बाजपेयी, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आदि को आदर्श व प्रेरणाश्रोत मानते है। उपस्थित रजावत हास्पिटल के चेयरमैन भानू प्रताप सिंह ने भी सीनियर सिटीजन केपी ओबराय की कार्यो की प्रशंसा की और कहा कि समाजसेवा के अनेक रूप है बस मन की पवित्रता की जरूरत है। सीडी निर्देशक केपी ओबराय व चेयरमैन भानू प्रताप सिंह रजावत को सहायक निदेशक सूचना द्वारा प्राप्त सरकार की उपलब्धियों वाली महत्वपूर्ण पुस्तक एक साल नई मिसाल सबका साथ सबका विकास की प्रशंसा करते हुए कहा कि एक साल नई मिसाल पुस्तक एक महत्वपूर्ण व संग्रहणीय योग्य पुस्तक है।