Home » मुख्य समाचार » मण्डलायुक्त ने पुखरायां मंडी समिति व साधन सहकारी समिति के गेंहू क्रय केन्द्रों का किया निरीक्षण

मण्डलायुक्त ने पुखरायां मंडी समिति व साधन सहकारी समिति के गेंहू क्रय केन्द्रों का किया निरीक्षण

मण्डलायुक्त पुखरायां मंडी समिति व साधन सहकारी समिति का निरीक्षण करते हुए व मौजूद डीएम आदि

केन्द्र संचालक क्रय केन्द्रों को पूरी तरह रखे सक्रिय तथा गेंहू खरीद के निर्धारित लक्ष्यों की करें पूर्ति : मण्डलायुक्त सुभाष चन्द शर्मा
पेयजल, साफ सफाई, विद्युत की व्यवस्था पूरी तरह से दुरस्त रखने के साथ ही कानून एवं शांति व्यवस्था पूरी तरह से रहें दुरस्त: मण्डलायुक्त
कानपुर देहात, जन सामना ब्यूरो। मण्डलायुक्त कानपुर मण्डल सुभाष चन्द शर्मा ने समस्त क्रय से जुडे अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि गेंहू खरीद में लघु व सीमान्त किसानों को वरीयता दी जाये तथा लघु व सीमान्त किसानों की दिक्कतों को भी दूर किया जाये। गेंहू खरीद में तेजी आयी है अतः गेंहू खरीदने के कार्य को लक्ष्य के अनुरूप प्राप्त करने के लिए युद्धस्तर पर कार्य किया जाये। लक्ष्य के सापेक्ष गेंहू की खरीददारी के प्रतिशत को बढ़ाया जाये। सभी गेंहू क्रय केन्द्रों को पूरी तरह से सक्रिय रखते हुए अवशेष को समय रहते शत प्रतिशत पूरा किया जाये। प्रदेश सरकार द्वारा किसान भाईयों के लिए गेंहू का समर्थन मूल्य रू. 1735/- प्रतिकुन्तल रखा गया है समर्थन मूल्य प्राप्त करना किसानों का अधिकार है। किसान अपना गेंहू अधिक से अधिक विक्रय हेतु सरकारी निर्धारित गेंहू क्रय केन्द्रों पर ही भेजे तथा समर्थन मूल्य का लाभ उठाये। क्रय केन्द्रों को पूरी तरह से सक्रिय रखा जाये तथा निर्धारित लक्ष्य की पूर्ति शीघ्र करें। उन्होंने अधिकारियों से यह भी कहा गर्मी व रमजान को देखते हुए पेयजल, साफ सफाई, विद्युत की व्यवस्था पूरी तरह से दुरस्त रहने के साथ ही कानून एवं शांति व्यवस्था पूरी तरह से दुरस्त रहे।
मण्डलायुक्त सुभाष चन्द शर्मा आज यहां पुखरायां में मंडी समिति व साधन सहकारी समिति स्थित क्रय विक्रय केन्द्र का निरीक्षण कर रहे थे उन्होंने क्रय केन्द्रों पर इलेक्ट्रानिक काटे को देखा तथा केन्द्र प्रभरियों से पूछतांछ कर उचित दिशा निर्देश भी दिये। किसान भाईयों से गेंहू का समर्थन मूल्य 1735 रू0 प्रति कुन्तल की दर से गेंहू खरीदा जाना है। जिसे किसानों से सीधा खरीददारी किया जाये किसी भी बिचोलियों या दलाल की जानकारी हुई तो कठोर कार्यवाही की जायेगी। गेंहू क्रय केन्द्रों में शासन द्वारा भेजे गये प्रारूप के आधार पर बैनर लगा रहना चाहिए जिसमें अधिकारियों के नाम व मोबाइल नम्बर भी अंकित रहे तथा हर क्रय केन्द्रों पर पानी की व्यवस्था व छाया आदि की व्यवस्था अनिवार्य रूप से रहे हर क्रय केन्द्र में क्रय तक पट्टी, क्रय पंजिका, बोरा रजिस्टर, स्टाक रजिस्टर, बिल बुक, निर्गत चेकों का विवरण पत्र, टीसीडीसी प्रपत्र, बैंक लेखा पंजिका, निरीक्षण पंजिका, शिकायत पंजिका, क्रय किये गये गेंहू के संबंध में डिपो को प्रेषित करने संबंधी पुस्तिका, परिवहन ठेकेदार की नियुक्त संबंधी आदेश, हेण्डलिंग ठेकेदारों की नियुक्त संबंधी आदेश, गेंहू रिजेशक्शन रजिस्टर, आरटीजीएस रजिस्टर आदि कुल 15 अभिलेेख हर केन्द्रों पर पूरी तरह से दुरस्त रहे। गेंहू खरीद हेतु कन्ट्रोल रूम जो बनोय गये है वे पूरी तरह से सक्रिय रहे। जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने भी स्पष्ट रूप से निर्देश दिये है कि गेंहू क्रय केन्द्र सुबह 9 बजे से सायं 6 बजे तक अनिवार्य रूप से खुले रहें तथा लक्ष्य के अनुरूप 15 जून से पहले ही गेंहू खरीद करने की व्यवस्था पूरी कर ली जाये। निर्देश दिये कि जिला विपणन अधिकारी गंेहू क्रय केन्द्रो पर पूरी व्यवस्थायें चाक चैबन्द रहे तथा किसी भी दशा में गेंहू खरीद की रफ्तार कम न हो। इस मौके पर एडीएम एफआर विद्याशंकर सिंह, एसडीएम राजीव राज आदि अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।