Home » मुख्य समाचार » बर्रा में बूंद-बूंद पानी को तरस रहे हैं लोग

बर्रा में बूंद-बूंद पानी को तरस रहे हैं लोग

बर्रा-5 का बुरा हाल, नलों से नही टपक रहा पानी
सीवरयुक्त पानी किसी काम का नहीं
कानपुर, स्वप्निल तिवारी। भीषण और चिलचिलाती गर्मी में बर्रा-5 के लोगों को जल विभाग पेयजल भी नसीब नहीं करा पा रहा है। हालत यह कि जिन के घरों को समर सिबल लगा हुआ है। उनकी दया और कृपा से लोगों को पानी नसीब हो रहा है। वहीं हैंडपंप सूखे पड़े है। लोगों का कहना है कि यदि हैण्डपंप ही ठीक हो तो उन्हे काफी सहारा मिल जाये और उन्हे पेयजल की समस्या से न जूझना पडे। अभी दो दिन पूर्व ही बर्रा के निवासियों द्वारा जल प्रबन्धन कार्यालय में हंगामा किया गया था बावजूद इसके अभी तक पानी सप्लाई शुरू नही किया गया है। लोगों का कहना है कि पानी न होने के कारण उनकी दिनचर्या प्रभावित हो रही है।
बर्रा इलाके के बर्रा-5 तथा अन्य ब्लाकों में पिछले कई दिनो से जलापूर्ति बाधित है। लोग पानी के लिए तरस गये है। यदि पानी आता भी है तो इतना गंदा की जिसे हाथों से छुआ तक नही जा सकता उपयोग में लाना तो दूर की बात है। पानी न मिलने से लाखों लाखो की आबादी प्रभावित है लेकिन विभाग द्वारा पानी की समस्या के निस्तारण की कोई ठोस कार्यवाही शुरू नही की जा सकी है। दो दिन पहले ही लोगों ने जलकल कार्यालय पर जमकर हंगामा भी किया था लेकिन अभी तक जलापूर्ति चालू नही हो सकी है। लोगों का कहना है कि उनकी समस्याओं पर कोई भी नेता, विभगीय अधिकारी ध्यान नही दे रहा है। जिनके घरो में बोरिंग लगी हुई है वह लोगो को पेयजल पूर्ति कर रहे है वह भी एक सीमा तक ऐसे में घर के कामों के लिए लोगो के घरों में पानी नही है। पानी न होने के कारण दिनचर्या प्रभावित हो चुकी है। लोगों का कहना है कि यदि जल्द ही उनकी समस्या का निस्तारण नही हुआ तो वह बडा आन्दोलन करने को मजबूर होंगे।