Friday, September 21, 2018
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » थाना सिरसागंज पुलिस को मिली सफलता लूट के तीन अभियुक्तों को किया गिरफ्तार

थाना सिरसागंज पुलिस को मिली सफलता लूट के तीन अभियुक्तों को किया गिरफ्तार

लूटे गये (एक लाख दस रूपये) व लूट में प्रयुक्त नीले रंग की एक अपाचे मोटर साइकिल भी बरामद
एसपी ग्रामीण ने वार्ता के दौरान मीडिया को दी जानकारी
फिरोजाबाद, एस. के. चित्तौड़ी। ज्ञात हो कि 29 मई 2018 को रामप्रताप पुत्र शोभाराम निवासी प्रहलादपुर थाना बरनाहल जिला मैनपुरी द्वारा नीले रंग की अपाचे मोटर साइकिल नंबर यूपी 83 एपी 0454 सवार अज्ञात तीन व्यक्तियो द्वारा वादी से 100010 रूपये ( एक लाख दस रूपये) की हुयी लूट को लेकर थाना सिरसागंज में मुकदमा दर्ज कराया था। जिसके खुलासे को एसएसपी राहुल यादुवेन्दु के आदेशानुसार अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण फिरोजाबाद महेन्द्र सिंह के निर्देशन एवं क्षेत्राधिकारी सिरसागंज फिरोजाबाद अजय सिंह चौहान के नेतृत्व में चलाये जा रहे अभियान के अन्तर्गत 31 मई को ढाई बजे प्रभारी निरीक्षक फूलचन्द्र, उपनिरीक्षक पंकज कुमार मिश्रा, उपनिरीक्षक शिवकुमार गौतम, उप निरीक्षक महेन्द्र कुमार, कांस्टेबल जयनरायण सिंह, ज्ञानसिंह व चालक कांस्टेबल हरवेन्द्र कुमार मय सरकारी जीप से रवाना होकर वास्ते देखरेख क्षेत्र गस्त शान्ति व्यवस्था व चैकिंग संदिग्ध व्यक्ति/वाहन में कौरारा रोड पर मामूर था तभी वादी मुकदमा ने आकर सूचना दी। कि मै शिकोहाबाद से सिरसागंज आ रहा था, तो एचपी पैट्रोल पम्प के पास बीयर के ठेका के सामने उक्त नीले रंग अपाचे गाडी नंबर यूपी 83 एपी 0454 पर एक व्यक्ति बैठा था। जिसको देखकर मैने पहचान लिया कि इसी व्यक्ति ने इसी अपाचे मोटर साइकिल से अपने साथियों के साथ मिलकर मेरे साथ 29 मई को लूट की घटना की है।
एसपी ग्रामीण महेंद्र सिंह ने वार्ता के दौरान ये जानकारी देते हुये बताया कि इस सूचना पर प्रभारी निरीक्षक मय हमराही फोर्स व वादी के साथ एचपी पैट्रोल पम्प पर पहुँचे तो एक व्यक्ति अपाचे मोटर साइकिल पर बैठा था जो पुलिस को देखकर भागने का प्रयास करने लगा। जिसे मौके पर ही पकड़ लिया गया। पूछताछ पर उसने अपना नाम सचिन पुत्र कमलेश यादव निवासी खेडा मौहल्ला थाना शिकोहाबाद जनपद फिरोजाबाद बताया। जामा तलाशी लेने पर 35000 रूपये बरामद हुए तथा पूछताछ पर उक्त घटना को स्वीकार किया। उक्त अभियुक्त को थाना सिरसागंज लाकर पूछताछ की गयी तो उसने बताया कि मेरे साथ घटना में मेरे दो साथी घनश्याम उर्फ पिंकी पुत्र ताराचन्द्र, बॉबी उर्फ उदय प्रताप पुत्र गयाप्रसाद निवासी गण खेडा मौहल्ला थाना शिकोहाबाद फिरोजाबाद का शामिल थे तथा यह भी बताया कि हम लोग घटना के बाद अलग अलग हो गये थे। बताया कि हम तीनों ने व्यक्ति नौशहरा पुल के नीचे आकर लूटे गये पैसो का बंटवारा किये है। बॉबी व घनश्याम इस समय नौसेरा पुल के नीचे ही बैठे है इस पर विश्वास करके हम पुलिस वाले अभियुक्त सचिन उपरोक्त को लेकर नौसेरा पुल के नीचे रेलवे लाइन के पास पहुँचे तो दो व्यक्ति बैठे दिखाई दिये। अभियुक्त सचिन ने इशारा करके बताया कि यही वह लोग है। जिन्होंने लूट की थी। पुलिस को देखकर दोनों व्यक्ति भागने का प्रयास करने लगे जो पुरानी चोटों के कारण भाग न सकें जिन्हे मौके पर ही गिरफ्तार कर लिया गया। जामा तलाशी लेने पर अभियुक्त घनश्याम उर्फ पिंकी के कब्जे से 32510 रू तथा बॉबी उर्फ उदय प्रताप के कब्जे से 32500 रू लूटे हुए बरामद हुए । पूछताछ पर यह भी बताया कि हम लोग 29 मई को तीनों लोग कुर्ता पजामा पहने एक व्यक्ति का कटरा बाजार शिकोहाबाद से पीछा करते हुए आये । नौसेरा पुल के पास हम लोगों ने मोटर साइकिल में तेल डलबाया इसके बाद फिर उस व्यक्ति के पीछे लग गये और सिरसागंज पब्लिक स्कूल से पहले शेख सराय को जाने वाले रास्ते के पास बाउण्ड्री के किनारे उस व्यक्ति को रोककर एक लाख दस रूपये छीन लिये थे। घटना करने के बाद हम लोग तेजी से मोटर साइकिल से वापस शिकोहाबाद लोट रहे थे तो नौसेरा पुल के पहले पैट्रोल पम्प के सामने मोटर साइकिल फिसल जाने से हम लोगों के चोटें आयी थी। अभियुक्त गणो ने 29 मई को लूट की घटना को स्वीकार किया है। उल्लेखनीय है कि उक्त लूट में एक लाख दस रूपये लूटे गये थे जो सभी लूटे गये रूपये बरामद किये है। उपरोक्त मुकदमा में बरामदगी के आधार पर धारा 411 भादवि की बढोत्तरी की गयी।