Monday, September 24, 2018
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » टूण्डला ब्लाॅक के गांव छितरई में नहीं दिख रहे प्रधान के कार्य

टूण्डला ब्लाॅक के गांव छितरई में नहीं दिख रहे प्रधान के कार्य

गांव दयाराम में खराब पड़ा हैडपंप।

ग्राम विकास अधिकारी ने किया जर्जर मार्ग का मौका मुआयना-फिर भी नहीं हुयी सुनवाई
नाली खरंजा भी अस्त व्यस्त-पानी की समस्या पकड़ रही जोर
ग्रामीण लगायेंगे जिलाधिकारी से विकास की गुहार
फिरोजाबाद, एस. के. चित्तौड़ी। केंद्र और प्रदेश सरकार एक ओर गांवों में विकास पर जोर दे रही हैं लेकिन जिले के कई एक गांवों में विकास कोसों दूर है यहां के ग्राम प्रधान भी सिर्फ औपचारिकता पूरी करने में लगे हैं धरातल पर इनका कोई कार्य विकास की पहचान नहीं बन रहा ऐसे में गांवों में कैसे आयेंगे अच्छे दिन यह सोचने वाली बात है।
इसी क्रम में किये गये सर्वे के अनुसार टूण्डला ब्लाॅक के ग्राम छितरई में रामसिंह के द्धार से लेकर डामर रोड तक मार्ग का बुरा हाल है गड्डे भर जाते हैं जलभराव होता है, पांच से छह फुट गहराई में पानी भर जाता है। यहां से निकलने वाले ग्रामीणों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ग्रामीणों का कहना रहा कि कई बार ग्राम प्रधान दयाराम को अवगत कराया, ग्राम विकास अधिकारी भी मौका मुआयना कर गये लेकिन नतीजा ढाक के पात रहा, ऐसा लगता है जैसे ग्राम प्रधान और ग्राम विकास अधिकारी की मिलीभगत से कार्य नहीं हो रहा। वहीं ग्रामीण सूरजपाल के घर से रघुराज के घर तक कोई भी नल का रीबोर नहीं हुआ है और नल चालू भी नहीं हैं और नाली खरंजा और पुलिया भी अस्त व्यस्त पड़ी हैं। हरदम सिंह के मकान से लेकर निहाल सिंह के मकान, राजन सिंह के मकान से रामवीर सिंह के मकान तक कोई भी कार्य नहीं हुआ है। आने वालों को बहुत परेशानी होती है व मुख्य रास्ता यही है। ग्रामीणों में हरदम सिंह, सूरजपाल, विक्रम सिंह, गजब सिंह, प्रहलाद सिंह, लाल सिंह, सोवरन सिंह, रूपेश कुमार सिंह, हरवीर सिंह, नरेंद्र सिंह आदि ने ये सारी जानकारी देते हुये अब जिलाधिकारी से विकास की गुहार लगाने की बात कही है।