Home » मुख्य समाचार » यमुना के जलस्तर ने बढ़ाई चिंता

यमुना के जलस्तर ने बढ़ाई चिंता

गांव कुतुकपुर के समीप पहुंचा यमुना का जल स्तर
जल स्तर बढऩे से रात की नींद लेना भी हुआ मुश्किल
टूंडला, जन सामना ब्यूरों। यमुना का जल स्तर निरंतर बढ़ रहा है। गांव कुतुकपुर के समीप यमुना का जल स्तर पहुंचने से ग्रामीण परेशानी में आ गए हैं। रात भर जाग कर ग्रामीण जल स्तर पर नजर बनाए हुए हैं।
बारिश के पानी से ही यमुना का जल स्तर बढ़ गया है। हथिनी कुंड से छोड़ा गया पानी अभी तक यहां नहीं आया है। यमुना किनारे बसे गांव कुतुकपुर के बाहर यमुना के पानी ने दस्तक दे दी है। पानी गांव की सीमा से टकराने लगा है। जिसे देखकर ग्रामीणों के चेहरों पर चिंता की लकीरें खिंचने लगी हैं। गांव के रामबाबू खां बताते हैं कि पूरा गांव परेशान है। यमुना का जल स्तर बढऩे से हमारा गांव सबसे पहले डूब जाएगा। इस्लाम खां कहते हैं कि फसल पहले ही बर्बाद हो चुकी है। अब घर में रहना भी मुश्किल हो रहा है। जैनम खां का कहना है कि यमुना का इतना रौद्र रूप पहले कभी नहीं देखा। कोक सिंह कहते हैं कि हम सभी गांव वाले एकमत हो गए हैं। बारी-बारी से यमुना पर नजर बनाए हुए हैं। ताले खां कहते हैं कि रात के समय यदि गांव में पानी आया तो जनहानि हो सकती है। इसलिए जनहानि को रोकने के लिए यमुना पर पहरा दे रहे हैं। ओसाफ खां और वीरपाल सिंह कहते हैं कि खाने के लिए दूसरे गांव से व्यवस्था की है। अब ऐसे में यदि यमुना का जल स्तर बढ़ गया तो रहने की भी समस्या खड़ी हो जाएगी। विगत दो दिन से हम लोग 24 घंटे जागकर यमुना के जल स्तर पर नजर रखे हुए हैं।