Monday, September 24, 2018
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » महज 30 रुपए में लोगों को मुहैया होगा भरपेट भोजन

महज 30 रुपए में लोगों को मुहैया होगा भरपेट भोजन

-अकबरपुर नगर पंचायत अंडर पास पर शुरू करेगी जनभोजनालय
-माती कचहरी और सदर तहसील आने वाले हजारों फरियादियों को मिलेगी राहत
-इसी महीने नगर पंचायत की बैठक में लाया जाएगा योजना का प्रस्ताव
कानपुर देहात, हनुमान गुप्ता। सदर तहसील और माती कचहरी आने वाले फरियादियों और वादकारियों को अब भूखा नहीं रहना पड़ेगा। अकबरपुर नगर पंचायत ने दूर से आने वाले लोगों की भूख मिटाने को अकबरपुर में जन भोजनालय चालू करने की योजना बनाई है। इस महीने होने वाली नगर पंचायत की बैठक में इसका प्रस्ताव पारित कर योजना पर काम शुरू कर दिया जाएगा।
माती मुख्यालय में जिला न्यायालय के संचालन के बाद से यहां रोज हजारों वादकारियों की भीड़ उमड़ रही। अदालती कार्रवाई में विलंब न हो, इसके लिए लोग तड़के घरों से निकल कर माती के लिए गाड़ियां पकड़ते हैं। सुनवाई में पूरा दिन लग जाने के अनुमान के आधार पर काफी लोग घरों से टिफिन बांध कर यहां आ रहे जब कि कुछ जल्दबाजी में बिना भोजन किए ही निकल पड़ते हैं। ऐसे लोग सुनवाई के बीच में ही सड़क पर लगे चाट-समोसे और छोले-भटूरे खाकर भूख मिटाते अक्सर दिखते हैं। ऐसी चीजों के खाने से पूरी तरह भूख नहीं मिटती, पैसे भी अधिक खर्च करने पड़ रहे। माती कचहरी की ही तरह सदर तहसील आने वालों को भी यही सब करना पड़ रहा। आम आदमी की इस परेशानी को दूर करने के लिए अकबरपुर नगर पंचायत ने बड़ा और सराहनीय कदम उठाने की तैयारी की है।
अकबरपुर में हाईवे के अंडर पास पर जन भोजनालय के नाम से सस्ता भोजन मुहैया कराने की योजना बन रही है। इसके तहत लोगों को महज 30 रुपए में खाना उपलब्ध कराया जाएगा। खाने की थाली में दाल और रोटी के अलावा सब्जी और चावल भी परोसे जाएंगे। नगर पंचायत अध्यक्ष ज्योत्सिना कटियार के पति महेंद्र कटियार बब्लू ने बताया कि योजना लोगों को राहत पहुंचाने के लिए तैयार की गई है। खाना तैयार करने और बाकी व्यवस्थाओं में आए खर्च का अनुमान लगा 30 रुपए का चार्ज तय किया गया है। श्री कटियार ने बताया कि इस महीने नगर पंचायत की बैठक में योजना पर चर्चा होगी। इसके बाद प्रस्ताव के आधार पर कार्रवाई प्रारंभ कर दी जाएगी। नगर पंचायत नेशनल हाईवे अथारिटी से अंडर पास के इस्तेमाल की अनुमति भी लेगी। मौके पर किसी तरह की गंदगी न फैले, इसके लिए पहले से ही इंतजाम चैकस रखे जाएंगे।