Home » मुख्य समाचार » अतिक्रमण की गिरफ्त से कराही जनता

अतिक्रमण की गिरफ्त से कराही जनता

रामादेवी सर्विस लाइन पर गलती है अवैध सब्जी बाजार, अतिक्रमण अभियान का नही कोई असर
ठेले वालो को मिल रहा स्थानी थाने का संरक्षण, सारी कवायदे फेल
वाहन चालक, राहगीर सहित स्थानीय निवासी हो रहे परेशान, लगा रहता है जाम तथा कूडे़ का ढेर
कानपुर नगर, स्वप्निल तिवारी। कई कोशिशों के बाद भी रामादेवी चौराहे पर लगने वाली अवैध सब्जी मण्डी को नहीं हटाया जा सका है। बीते माह ही यहां पर नगर निगम के दस्ते ने पुलिस बल की मौजूदगी में अतिक्रमण हटवाया था। कई बार अधिकारियों ने भी यहां की स्थिति जानी और अतिक्रमण हटाये जाने के निर्देश दिये लेकिन आज तक ऐसा कुछ भी नही हुआ और यहीं छोटे-छोटे कारण है जिससे कानपुर का नाम विश्व के गंदे शहरों में शुमार हो गया।
भले ही नगर निगम दस्तें ने रामादेवी चैराहे को जाम मुक्त करने के लिए अतिक्रमण अभियान चलाया हो लेकिन सच तो यह है कि स्थानीय थाना पुलिस का इन अवैध कब्जेदारों को सरंक्षण प्राप्त है। अतिक्रमण हटाया तो जाता है लेकिन तत्काल फिर कब्जे हो जाते है। रामादेवी चैराहा मुख्य चैराहों में है तथा यहां से लखनऊ, दिल्ली, इलाहाबाद की सडके जाती है। इस चैराहे पर चारो ओर भीषण जाम लगा रहता है। कारण यह है कि यहां सब्जी मण्डी लगती है। अवैध कब्जे है तो वहीं चारो तरफ टैम्पो, डग्गामार वाहनों तथा आॅटो खड़ी रहती है। यहां पर चैराहा पार करना बड़ी समस्या बन चुका है। ऐसे में यात्री बसे और ट्रको को निकलने में जूझना पड़ता है और हमेशा जाम की स्थिति बनी रहती है। नगर निगम द्वारा कई बार यहां अतिक्रमण अभियान चलाया गया लेकन यातायात विभाग और पुलिस द्वारा यहां की व्यवस्था सुधारने के लिए अभी तक कोई कवायद नहीं की गयी है।