Tuesday, October 23, 2018
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » मुख्य सचिव ने कुंभ मेला के निर्माण कार्यों का किया स्थलीय निरीक्षण

मुख्य सचिव ने कुंभ मेला के निर्माण कार्यों का किया स्थलीय निरीक्षण

⇒गुणवत्ता व समयबद्धता से कार्य पूर्ण कराने के लिये अधिकारियों का किया सचेत
⇒कुंभ पर्व के सफल आयोजन हेतु अब तक स्वीकृत 1600 करोड़ रू0 की धनराशि से कराये जाने वाले निर्माण कार्यों को यथाशीघ्र निर्धारित मानक के अनुसार करायें पूर्णः राजीव कुमार
⇒कुंभ पर्व में आने वाले तीर्थ यात्रियों के ठहरने के लिये कम से कम दो हजार व्यक्तियों की क्षमतायुक्त यात्री निवास का निर्माण भी आवश्यकतानुसार उपयुक्त स्थानों पर बनवाये जायेंः मुख्य सचिव
⇒पार्किंग स्थल से तीर्थ यात्रियों के आने हेतु प्रत्येक दस-दस मिनट में बेहतर आवागमन की सुविधा उपलब्ध करायी जायेः राजीव कुमार
⇒सभी स्थायी प्रकृति के निर्माण कार्यों की गुणवत्ता और उनकी प्रगति का नियमित रूप से वास्तविक आकलन करने के लिये प्रत्येक कार्यों का कराया जा रहा है थर्ड पार्टी निरीक्षणः डाॅ0 आशीष कुमार गोयल, मण्डलायुक्त, इलाहाबाद
लखनऊः जन सामना ब्यूरो। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव श्री राजीव कुमार ने कुंभ मेला के निर्माण कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करते हुये सम्बन्धित कार्यदायी संस्थाओं के प्रमुखों को निर्देश दिये हैं कि स्वीकृत कार्य निर्धारित मानक एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण करायें। उन्होंने निर्धारित लक्ष्य के अनुसार कार्य निर्धारित माइल स्टोन के अनुरूप पूर्ण करने वाले विभागों का उत्साहवर्द्धन करते हुये उन्हें कार्य की गति में तेजी लाने के निर्देश दिये। वर्तमान में लक्ष्य के अनुसार कुछ विभागों में कार्य की गति कमजोर होने पर सम्बन्धित कार्यदायी संस्थाओं के प्रमुखों को सचेत किया कि वे अवशेष कार्यों में गति लाकर निर्धारित माइल स्टोन के अनुसार समयबद्धता का लक्ष्य हासिल करें, ऐसा न करने पर उनकी व्यक्तिगत जिम्मेदारी नियत होगी।
श्री राजीव कुमार ने कुंभ पर्व में आने वाले तीर्थ यात्रियों के ठहरने के लिये कम से कम दो हजार व्यक्तियों की क्षमतायुक्त यात्री निवास का निर्माण भी आवश्यकतानुसार उपयुक्त स्थानों पर बनवाये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कुंभ पर्व में आने वाले तीर्थ यात्रियों की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुये बेहतर ट्रैफिक प्लान बनाते हुये कुंभ मेला स्थल से दूर पर्याप्त पार्किंग की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाये। उन्होंने कहा कि पार्किंग स्थल से तीर्थ यात्रियों के कुंभ मेला स्थल तक आने के लिये शटल बसें, ई-रिक्शा, सी0एन0जी0 रिक्शा का संचालन कराये जाने हेतु नियमों को दृष्टिगत रखते हुये प्लान बनाया जाये। उन्होंने कहा कि पार्किंग स्थल से तीर्थ यात्रियों के आने हेतु प्रत्येक दस-दस मिनट में बेहतर आवागमन की सुविधा उपलब्ध करायी जाये। उन्होंने इस दिशा में परिवहन निगम के अधिकारियों से कार्य योजना की व्यापक जानकारी लेते हुये बेहतर परिवहन व्यवस्था सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये। मुख्य सचिव के साथ बैठक में इस बात पर विशेष चर्चा हुई कि कुंभ में आने वाले तीर्थ यात्रियों को उनकी इच्छानुसार स्नान तथा भ्रमण सुगम व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाये। इसके लिये स्थानीय परिवहन के साधनों को विशेष रूप से चिन्हित करते हुये उन्हें अलग पहचान व नम्बर दिये जाने पर विचार-विमर्श हुआ। नगर के विभिन्न बड़े मैदानों विद्यालयों के परिसरों में खाली स्थानांे तथा पार्कों को होल्डिंग एरिया के तौर पर विकसित करते हुये भीड़ को नियंत्रित करने की योजना पर भी विचार-विमर्श हुआ तथा इस दिशा में प्रभावी व्यवस्था बनाने के मुख्य सचिव ने निर्देश दिये। इसी विषय पर स्थानीय प्रशासन तथा मेला प्रशासन द्वारा मेला क्षेत्र, नगर एवं नगर के वाह्यवर्ती इलाकों में बड़ी पार्किंग स्थलों के स्थायी विकास की व्यवस्था को भी मुख्य सचिव ने परखा।
कुंभ मेला में कराये जाने वाले कार्यों का निरीक्षण करते हुये मुख्य सचिव ने निर्देश दिये कि निर्माणाधीन कार्यों का नियमित रूप से निरीक्षण कर निर्गत धनराशि का उपयोग पारदर्शिता के साथ हो जाने के उपरान्त ही अगली किस्त निर्गत कराया जाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि कुंभ मेला के सफल आयोजन हेतु कराये जाने वाले कार्यों की गुणवत्ता में किसी भी प्रकार का समझौता बर्दाश्त नहीं होगा।
मुख्य सचिव आज इलाहाबाद में कुंभ मेला कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करने के उपरान्त विभागीय अधिकारियों की बैठक कर निर्माणाधीन कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कुंभ पर्व के सफल आयोजन हेतु स्वीकृत 1600 करोड़ रूपये की धनराशि से कराये जाने वाले निर्माण कार्यों को भी यथाशीघ्र निर्धारित मानक के अनुसार पूर्ण कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि निर्माणाधीन सड़कों के सौन्दर्यीकरण हेतु उपयुक्त स्थानों पर एक ही प्रजाति के पर्याप्त पौधों का रोपण अवश्य कराया जाये, ताकि शहर और अधिक सुन्दर एवं स्वच्छ दिखे। उन्होंने कुंभ मेला पर्व हेतु विद्युत विभाग के अन्तर्गत कराये जाने वाले कार्यों की समीक्षा करते हुये निर्देश दिये कि तीर्थ यात्रियों को पर्याप्त प्रकाश व्यवस्था सुनिश्चित कराने हेतु स्वीकृत कार्यों को प्राथमिकता से पूर्ण कराया जाये।
श्री राजीव कुमार ने तीर्थ यात्रियों को आवागमन की बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने हेतु फाफामऊ रेलवे स्टेशन पहुंच मार्ग के चैड़ीकरण का कार्य, चैफटका पर आर0ओ0बी0 के साथ इलाहाबाद में सभी निर्माणाधीन फ्लाई ओवरों के कार्य की प्रगति का जायजा लेते हुये निर्देश दिये कि उक्त सभी कार्य अच्छी गुणवत्ता तथा समयबद्धता सुनिश्चित कराते हुये हर हाल में अक्टूबर, 2018 तक पूरा करा दिये जायें।
मण्डलायुक्त डाॅ0 आशीष कुमार गोयल ने मुख्य सचिव को यह अवगत कराया कि इस दिशा में पार्किंग स्थलों का आधुनिक सुविधाओं से संपन्न विकास किये जाने की कार्य योजना को अंतिम रूप दिया जा चुका है। इस हेतु स्थलों के चिन्हीकरण हेतु कई बार सर्वे भी किया जा चुका है। इस बार कुंभ में एक लाख की क्षमता तक गाड़ियों की पार्किंग के लिये जो पार्किंग स्थल बनाये जायेंगे, वे नगर के सभी प्रवेश मार्गों पर चिन्हित किये गये हैं तथा उनमें गाड़ियों की नम्बरिंग उनके सुगम आगमन और निकास, पार्कों के बीच सड़कें, ड्राइवरों के ठहरने के स्थान, पेयजल, कैंटीन के अलावा मनोरंजन के लिये टी0वी0 इत्यादि की व्यवस्था भी की जायेगी। इससे आने वाले तीर्थ यात्रियों, पर्यटकों को न केवल भटकने से निजात मिलेगी, बल्कि उन्हें इलाहाबाद आने का एक सुखद अनुभव भी प्राप्त होगा।
मण्डलायुक्त ने मुख्य सचिव को यह भी अवगत कराया कि सभी स्थायी प्रकृति के निर्माण कार्यों की गुणवत्ता और उनकी प्रगति का नियमित रूप से वास्तविक आकलन करने के लिये हर कार्य के थर्ड पार्टी निरीक्षण की व्यवस्था एक अनुभवी एजेंसी से करायी जा रही है तथा पूर्व से ही उन्होंने यह निर्देश निर्गत कर दिये हैं कि कंुभ के लिये आगामी किस्त की धनराशि की मांग प्रस्तुत करते समय कार्यों का पर्टचार्ट, उनकी प्रगति की विवरण तथा थर्ड पार्टी निरीक्षण एजेन्सी की रिपोर्ट एवं कार्यों की फोटोग्राफ्स साथ-साथ प्रस्तुत की जाये, ताकि गुणवत्ता व समयबद्धता सुनिश्चित की जा सके।
पूरे इलाहाबाद तथा मेला क्षेत्र में यात्रियों को सुगम भ्रमण तथा मेला स्थल तक ले जाने के लिये स्नान के दिनों में पार्किंग स्थलों से तथा विभिन्न अन्य स्थानों से निःशुल्क शटल बसों के साथ-साथ प्रमुख सड़कों पर साइनेज लगाने की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जा रही है। मुख्य सचिव ने इस जानकारी पर प्रशासन को यह निर्देश दिये कि शटल बसों के संचालन का अभ्यास मेला अवधि से पहले ही कर लिया जाये, ताकि उस समय इस कार्य में किसी प्रकार की बाधा न आये।
बैठक के पूर्व एयरपोर्ट से सीधे मुख्य सचिव ने चल रहे कुंभ मेला कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया तथा शहर में बन रहे फ्लाईओवरों, आर0यू0बी0, चैराहों के सौन्दर्यीकरण, सड़कों के चैड़ीकरण के कार्य स्थलों पर जाकर वहां होने वाले कार्य को देखा। इस क्रम में मुख्य सचिव पानी की टंकी, फायर ब्रिगेड चैराह, सी0ए0वी0 इण्टर काॅलेज के पास नाले पर चल रहा कार्य, सोहबतियाबाग में आर0यू0बी0 के पास यूटीलिटी शिफ्टिंग तथा सड़क का चैड़ीकरण, प्रयाग स्टेशन के पास होल्डिंग एरिया का विकास कार्य स्वयं जाकर देखा।
बैठक में प्रमुख सचिव नगर विकास श्री मनोज कुमार, प्रमुख सचिव गृह श्री अरविन्द कुमार, पुलिस महानिदेशक श्री ओ0पी0सिंह के साथ समस्त विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।