Home » मुख्य समाचार » सा मिल में लगी भयंकर आग: लाखों का माल खाक

सा मिल में लगी भयंकर आग: लाखों का माल खाक

हाथरसः जन सामना संवाददाता। शहर के आगरा रोड पर रोडवेज बस स्टैण्ड के सामने स्थित इमारती लकड़ी के थोक विक्रेता फर्म व सां मिल में बीती रात्रि को अचानक अज्ञात कारणों के चलते आग लग जाने से भारी हडकम्प व अफरा तफरी मच गई और लाखों रूपये कीमत की कीमती लकड़ी जलकर राख हो गई। आग की सूचना पाकर तत्काल मौके पर फायर बिग्रेड की गाड़ी पहुंच गई लेकिन आग का भयानक दृश्य देखकर आग बुझाने के लिये जिले की ही नहीं अलीगढ़ की फायर बिग्रेड को भी बुलाना पड़ा और फायर बिग्रेड टीम ने सूझबूझ से आग पर घण्टों की मशक्कत कर काबू ही नहीं पाया बल्कि आसपास रिहायशी इलाका होने पर एक बड़ी घटना को रोक दिया।
आगरा रोड पर रोडवेज बस स्टैण्ड के सामने मनोज कुमार गुप्ता पुत्र राधेलाल गुप्ता निवासी गली सीकनापान की इमारती लकड़ी की थोक विक्रेता फर्म व सां मिल राधेलाल गोपाल प्रसाद के नाम से है। इस फर्म का संचालन मनोज कुमार गुप्ता व इनके भाई रामकुमार गुप्ता द्वारा किया जाता है और कीमती लकड़ी साल, कैल, सीजेन्ट, शीशम आदि का थोक का व्यापार है।
बीती रात्रि को करीब दो-ढाई बजे के करीब उक्त सां मिल में अचानक अज्ञात कारणों के चलते आग लग गई और क्षेत्रीय लोगों के द्वारा फर्म संचालकों को जैसे ही आग लगने की सूचना मिली तो उनके हाथ-पांव फूल गये और वह तत्काल मौके पर आ गये। आग का भयानक दृश्य देखकर उनके होश उड़ गये और आग की तत्काल सूचना फायर बिग्रेड को दी गई।
सां मिल में आग की सूचना पाकर चीफ फायर अधिकारी अरविन्द कुमार अपनी पूरी टीम व दमकल गाड़ियों के साथ मौके पर पहुंच गये और फायर कर्मियों ने आग पर काबू पाने का प्रयास किया, लेकिन आग की लपटें उठतीं देख उन्होंने अलीगढ़ से भी और दमकल गाड़ियों को बुला लिया और आग पर करीब साढ़े 3 घण्टे में प्रभावी रूप से काबू पा लिया, लेकिन आग की लपटें तो थम गईं लेकिन आग धधक रही थी तो फायर बिग्रेड की पूरी टीम करीब सुबह 10-11 बजे तक मौके पर डटी रही और आग पर पूरी तरह से काबू पा लिया। फायर बिग्रेड की टीम ने सीएफओ अरविन्द कुमार के निर्देशन में आग पर काबू पाने में इतनी जहां तत्परता दिखाई वहीं आसपास के रिहायशी इलाके में मकानों को क्षति न पहुंचे व कोई अप्रिय बात न हो का भी विशेष रूप से ध्यान रखा।
घटना के सम्बन्ध में सीएमओ अरविन्द कुमार ने बताया कि सां मिल में लगी आग पर करीब सुबह साढ़े 8 बजे तक प्रभावी रूप से काबू पा लिया गया था। लेकिन आॅपरेशन और कई घण्टे तक चला। आग के कारणों का अभी स्पष्टीकरण नहीं हो सका है और न ही अभी नुकसान का अनुमान बताया गया है। आग पर काबू पाने में 8 दमकल गाड़ियों को मंगाना पड़ा था।
आग लगने की घटना की सूचना पाकर मौके पर तमाम लकड़ी व्यापारी भी आ गये थे वहीं लोगों में भारी भीड़ लग गई थी तथा आग लगने के कारण अभी स्पष्ट नहीं हुये हैं। लेकिन अग्निकाण्ड में लाखों का भारी नुकसान होने का अनुमान लगाया जा रहा है। अग्निकाण्ड की घटना से फर्म संचालक बदहवास हो गये थे।
उक्त भंयकर अग्निकाण्ड को लेकर हाथरस टिम्बर मर्चेन्ट एसोसियेशन के अध्यक्ष चैधरी रामकुमार वर्मा व सचिव ललतेश गुप्ता ने घटना पर भारी दुख जताया है और भंयकर आग पर काबू पाने में फायर बिग्रेड की टीम द्वारा तत्काल कार्यवाहीं करने पर धन्यवाद दिया है और साहसिक कार्य करने के लिये शीघ्र ही फायर बिग्रेड टीम को सम्मानित किये जाने की बात की है।