Friday, September 21, 2018
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » उप्र में शराब बन्दी के लिए किया प्रदर्शन

उप्र में शराब बन्दी के लिए किया प्रदर्शन

कानपुरः विजय निगम। पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत फूलबाग गाॅधी प्रतिमा में आयोजित शराब बंदी सत्याग्रह में शराब बन्दी संयुक्त मोर्चा ने एक कार्यक्रम आयोजित किया। विश्व पर्यावरण दिवस पर मोर्चा के पदाधिकारियो ने शरब मुक्त प्रदेश बनाने, पर्यावरण की रक्षा हेतु छायादार व फलदार वृक्ष लगाने का संकल्प किया गया। शराब बन्दी सत्याग्रह की अध्यक्षता दिल्ली से पधारे पीवीआई के राष्ट्रीय संयोजक संतोषानन्द ने करते हुये कहा कि शराब के चलते नैतिकवान नागरिक देश को कहाॅ से मिलेेेंगे, सरकार दुराचार, भ्रष्टाचार व अनाचार को रोकना चाहती है तो उसे शराब मुक्त देश बनाना ही होगा।
शराब बन्दी संयुक्त मोर्चा के राष्ट्रीय संयोजक सुल्तान सिंह ने कहा कि शराब मुक्त प्रदेश बनने तक शराब बन्दी आन्दोलन जारी रहेगा। श्री सिंह ने कहा कि पूरे प्रदेश में शराब बन्दी आन्दोलन को प्रभावी बनाने के लिये प्रदेश के हर जिला मुख्यालय पर शराब बन्दी सत्याग्रह किया जायेगा एवं हस्ताक्क्षर अभियान भी चलाया जायेगा। राष्ट्रीय संरक्षक एवं अन्तरराष्ट्रीय नशा मुक्ति अभियान प्रमुख योग ज्योति बाबा ने नये भारत के निर्माण में नौजवानो से नशामुक्त भारत बनाने के लिये आगे की अपील की। जदयू के प्रदेश महासचिव हरी किशोर उत्तम ने कहा कि बिहार की तर्ज पर योगी सरकार को प्रदेश में शराब बन्दी लागू करना ही होगा। उन्होने कहा कि शराब बन्दी होने पर प्रदेश में 50 प्रतिशत अपराध व दुर्घटनाए अपने आप रुक जायेगी। प्रदेश सचिव मनोज कुमार सचान ने कहा कि बुंदेलखण्ड में गरीबों और पिछड़ापन का कारण शराब ही है। यदि सरकार को बुंन्देलखण्ड के किसानो की चिंता है तो वहाॅ से सभी शराब के ठेके तत्काल हटाने होंगे। नागरिक रक्षक समिति के कुलदीप सक्सेना ने कहा कि मौजूदा भ्रष्ट व्यवस्था में बदलाव हो। सत्याग्रह में विचार वयक्त करने वालो में पास्टर सत्येन्द्र श्रीवास्तव, रामसुख यादव, दिलीप आनन्द, मो0 नाजिर, दबीरुल हसन, अतुल सचान, रानी दीदी, गीता पाल, सुनीता पाण्डे, सुनंदा बाजपेई, रेखा चंदेल, शशीकला, दवीरुल, हसन, अरविन्द चैहान, आर पी सिंह चैहान, विवेक कटियार, अशोक ंशुक्ला, विकास गौड, बिण्दा भाई, रवि शुक्ला, विनोद मिश्रा, रामचन्द्र गुप्ता, राजेश त्रिपाठी आदि पदाधिकारी उपस्थित थे।