Monday, November 19, 2018
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » एक जनपद एक उत्पाद समिट शुभारंभ कार्यक्रम का डीएम सहित अन्य अधिकारियों ने देखा लाइव प्रसारण

एक जनपद एक उत्पाद समिट शुभारंभ कार्यक्रम का डीएम सहित अन्य अधिकारियों ने देखा लाइव प्रसारण

डीएम कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में लाइव प्रसारण देखते हुए

डीएम सहित अन्य अधिकारियों ने एक दर्जन से अधिक लाभार्थियों को ऋण स्वीकृत प्रमाण पत्र किये वितरित
कानपुर देहात, जन सामना ब्यूरो। प्रदेश की राजधानी लखनऊ के इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान में एक जनपद एक उत्पाद समिट कार्यक्रम का शुभारंभ प्रसारण जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह सहित वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कलेक्ट्रेट में प्रोजेक्टर/एलईडी के माध्यम से राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आदि देश विदेश के गणमान्यजनों का सीधा प्रसारण सुना व देखा। कार्यक्रम में एक जनपद एक उत्पाद योजना ओडीओपी के बारे में जाना तथा जिलाधिकारी आदि ने एक दर्जन से अधिक लाभार्थियों को ऋण स्वीकृत प्रमाण पत्र भी वितरित किये।
कलेक्ट्रेट सभागार कक्ष में जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में कानपुर देहात ओडीओपी योजना का महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के लखनऊ मंे शुभारंभ कार्यक्रम को प्रोजेक्टर के माध्यम से पूरा कार्यक्रम को सजीव प्रसारण के जरिए दिखाया गया तथा 1 दर्जन से अधिक विभिन्न योजनाओं हेतु ऋण स्वीकृत पत्र जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह, मुख्य विकास अधिकारी केदारनाथ सिंह, सहायक निदेशक उद्योग नेहा सिंह द्वारा वितरित किए गये। जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने एक जनपद एक उत्पाद को लेकर उपस्थित जनों से कहां कि परिश्रम के बिना सफलता नहीं मिलती है सरकार ने मुद्रा योजना, स्टैंड अप इंडिया के तहत गरीब वर्ग को उद्यमि स्थापित करने की एक रास्ता दिया है जिससे लेकर व्यवसाय स्थापित करते हुए समय पर बैंक को ऋण की अदायगी करें। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की इस शानदार पहल से उत्तर प्रदेश के छोटे उद्यमियों के साथ ही आमजन में भी आसा का संचार हुआ है। वहीं बड़े पैमाने पर उद्योगों का स्थापना कराने का प्रयास कराने का एक सकारात्मक कदम है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा एक जनपद एक उत्पाद योजना ओडीओपी बडे पैमाने पर युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के दृष्टिगत लागू की गयी है। उन्होंने कहा कि इससे युवाओं को रोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध होंगे। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी केदारनाथ सिंह, उपायुक्त उद्योग नेहा सिंह, जिला प्रबन्धक बैंक अग्रहणी अधिकारी जीपी भारतीय आदि अधिकारी व लाभार्थी उपस्थित रहे।