Monday, March 25, 2019
Home » मुख्य समाचार » जनपदीय स्काउट-गाईड रैली सम्पन्न, क्षेत्र नरैनी बना विजेता

जनपदीय स्काउट-गाईड रैली सम्पन्न, क्षेत्र नरैनी बना विजेता

बांदा, जन सामना ब्यूरो। अतर्रा के हिन्दू इंटर कालेज में आयोजित उ0 प्र0 भारत स्काउट और गाईड की तीन दिवसीय जनपदीय रैली सम्पन्न हो गई। ब्लाक नरैनी ने दोनों वर्गों में विजेता बनने का गौरव प्राप्त किया। 23 से 25 नवम्बर तक आयोजित 34वीं जनपदीय मिनी बाल क्रीडा प्रतियोगिता के साथ ही जनपद स्तरीय स्काउट और गाईड प्रतियोगिता का भी आयोजन किया था। जिसमें जिले के आठ ब्लाकों में से तीन ब्लाक तिन्दवारी, नरैनी और जसपुरा की टीमों ने प्रतिभाग किया था। पहले दिन स्काउट और गाईड दलों का पंजीकरण कर टेंट लगाने के लिए कहा गया। सभी टीमों द्वारा व्यवस्थित टेंट लगाने के साथ ही अपने स्थान को डोरी और बांस की मदद से चैहद्दी बनाकर कलात्मक ढंग से सजाया गया था। अतिथियों के सम्मुख परेड को तैयार दलों द्वारा हर्षनाद कर स्काउट प्रार्थना ‘दया कर दान भक्ति का हमें परमात्मा देना‘ की गई। अतिथियों द्वारा ध्वजारोहण पश्चात मार्चपास्ट प्रतियोगिता हुई। और कुछ सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये जिसमें देशप्रेम और राष्ट्रीय एकता और अखण्डता पर बल दिया गया था। भोजन चित्राम के पश्चात वर्दी प्रतियोगिता करवाई गई। उसके बाद कलर पार्टी का आयोजन किया गया। शाम को कैम्प फायर के आयोजन में दलो द्वारा सुन्दर प्रस्तुतियां दी गई। दूसरे दिन की शुरुआत सर्वधर्म प्रार्थना एवं ध्वज शिष्टाचार से हुई। उसके बाद गांठ बंधन, संकेत वार्ता, मीनार एवं योग की प्रतियोगिताएं करवाई गई। बिना बर्तनों के भोजन बनाने की प्रतियोगिता बहुत रोचक रही जिसमें टीमों ने भर्ता, चोखा बाटी, रायता, सलाद बनाया जिसे पत्तलों और बांस के पात्रों में निरीक्षकों के सम्मुख परोसा गया। दोपहर बाद दल अभिलेख एवं तम्बुओं एवं पुल निर्माण का निरीक्षण किया गया। तीसरे दिन की प्रतियोगिता में साहसिक क्रियाकलाप और झांकी के प्रदर्शन हुए। निरीक्षकों ,ारा सभी प्रतियोगिताओं के आधार पर तैयार अतिम परिणम घाषित किया गया जिसमें स्काउट वर्ग में नरैनी विजेता और जसपुरा उप विजेता रहा। तथा गाईड वर्ग में नरैनी प्रथम और तिंदवारी द्वितीय स्थान पर रहा। पुरस्कार वितरण के बाद नरैनी ब्लाक के सह समन्वयक प्रमोद दीक्षित ‘मलय’ ने सम्बोधित करते हुए कहा कि सेवा ही परम धर्म है। हमें संस्था के सिद्धांतों को जीवन में उतार कर राष्ट्रीय एकता और अखण्डता के लिए काम करना है। मानवीय मूल्यों की स्थापना के साथ पर्यावरण की संरक्षा भी जरूरी है। ध्वज अवतरण और राष्ट्रगान के बाद विसर्जन किया गया। तीनों दिन जिला स्काउट ट्रेनिंग कमिश्नर अरुण अग्रहरि, मयंक गुप्ता, स्काउट मास्टर रामकिशोर पांडेय, अशोक, ममता कुशवाहा, आशा कोटार्य, मयंक श्रीवास्तव एवं खंड शिक्षा अधिकारी शिवऔतार श्रीवास, रामदयाल आदि उपस्थित रहे।