Home » मुख्य समाचार » पैरों से चलते नहीं, हौसलों से चलते हैं हम

पैरों से चलते नहीं, हौसलों से चलते हैं हम

⇒दिव्यांगो को भी उनके अधिकारों के बारे में जानना जरूरी।
आगराः जन सामना ब्यूरो। दिव्यांगो को सिर्फ ट्राईसाईकिल देकर ही उनकी सेवा नहीं की जा सकती। उनके अधिकारों के बारे में भी उनको जनाना भी बहुत जरूरी है। इसी उदेश्य को लेकर आयोजित हुआ एक जागरुकता सेमिनार। जिसमें दिव्यांगों को उनके मिलने वाले सरकारी अधिकारों के बारे में उन्हें बताकर जागरूक किया गया। जिसमें बताया गया कि विकलांगों को कौन कौन से सरकारी लाभ की सुविधा प्राप्त है।या किसी भी सुविधा में कोई बाधा आए तो उन्हें कैसे हल किया जाए।
अवसर था श्री सांई गुरु सेवा समिति की ओर से आयोजित सेमिनार का जिसका शुभारंभ मुख्य अतिथि राहुल चतुर्वेदी ने दीप प्रज्जवलन कर किया व राम वन्दना, इतनी शक्ति हमें देना दाता….भी गायी।
इस अवसर पर दो दिव्यांगों को ट्राईसाईकिल भी संस्था के संस्थापक प. मनीष शर्मा (अंतर्राष्ट्रीय भजन गायक) ने भेंट की व संस्था का उद्देश्य बताते हुए कहा कि समाज में दिव्यांगो के प्रति सम्मान दृष्टि रखना व उनको मिलने वाली सरकारी सुविधाओं से अवगत कराना ही उनका उद्देश्य है। वह एक ऐसी वर्कशाप का निर्माण कर रहे है जहाँ दिव्यागों को उपकरण आसानी से प्राप्त हो सकेंगे व उन्हें आत्मनिर्भर बनाया जाएगा। संस्था बाहर जाकर भी दिव्यांगो की मदद के लिए संकल्पित है। इस अवसर पर उन्होने एक प्रोत्साहन गीत, हम पैरों से चलते नहीं, हौसलों से चलते है, तन की शक्ति जो न साथ दे मन की शक्ति से पलते हैं।
इस अवसर पर डा0 राजीव उपाध्याय, डा0 मनोज शर्मा, ममता, टपलू, किशोरी सिंह राजपूत ने भी अपने विचार रखे । संचालन सुरेश कालरा ने किया। राजकुमार जैन, गोपाल शर्मा, श्याम सुन्दर शर्मा, विमलेश द्विवेदी, राजेश भार्गव, आकाशवाणी के कार्यक्रम अधिशासी श्री कृष्ण जी, अमरेन्द्र कुमार, रूबी जैन, पार्षद सुनील, दीपक शर्मा, डा.राजीव उपाध्याय भी उपस्थित रहे।