Home » मुख्य समाचार » जिलाधिकारी ने कल्यानपुर थाना दिवस में औचक निरीक्षण किया

जिलाधिकारी ने कल्यानपुर थाना दिवस में औचक निरीक्षण किया

कानपुर नगर, जन सामना ब्यूरो। थाना समाधान में आने वाली समस्याओं का निस्तारण तत्काल किया जाये। ज्यादातर समस्याए परिवारी विवाद की आती है, जिसमें मुकदमा दर्ज करना कोई रास्ता नहीं है। दोनो पक्षो में सलाह करना प्राथमिकता होनी चाहिए, प्रशासन का कार्य परिवार बसाना है न की बिगड़ना। कानून का राज स्थापित करना, अपराधियों में भय व्याप्त कर कड़ी कार्यवाही करना भू माफियाओं पर प्रभावी दण्डात्मक कर्यवाही की जाये।
उक्त निर्देश आज जिलाधिकारी विजय विश्वास पन्त ने कल्यानपुर थाना दिवस में औचक निरीक्षण के दौरान उपस्थित पुलिस अधिकारियों को दिये। उन्होंने थाना समाधान दिवस के अवसर पर निर्देशित करते हुए कहा कि ज्यादातर मामले परिवारिक विवाद के आते है इस तरह के मामलों में परिवारिक सुलाह कराना पुलिस का मुख्य कार्य होना चाहिए न कि कोई कार्यवाही क्योंकि कार्यवाही से परिवार बिगड़ते है।
जिलाधिकारी के सम्मुख ममता निवासी ग्राम बैकुण्ठपुर ने भू माफियाओं द्वारा उनकी भूमि पर अवैध कब्जा करने की शिकायत की गई इस पर जिलाधिकारी ने तत्काल मौके पर चौकी इंचार्ज को भेज कर कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिये। आवास विकास निवासी मकान मालिक द्वारा जर्जर मकान को गिराने के लिए जिलाधिकारी को शिकायती पत्र दिया। इस पर उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को मौके पर जाकर निरीक्षण कर उचित कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया। विनीता वर्मा निवासी एन0 403 केशव पुरम ने पति द्वारा घर से निकालने की शिकायत की जबकी 3 माह पूर्व विवाह हुआ है। पति द्वारा घर से बाहर निकालने की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कराने के लिए प्रार्थना पत्र दिया। जिलाधिकारी ने विनीता को समझाते हुए कहा कि मुकदमा दर्ज कराना कोई रास्ता नहीं है। उन्होंने दोनों पक्षों को बुलाकर समझाते हुए घर भेजने के लिए निर्देशित किया। इस अवसर पर एस0 पी0 ईस्ट अनुराग आर्या उपस्थित थे।