Friday, November 16, 2018
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » प्रेम में सराबोर ब्रज की फूलों की होली देख दर्शक हुए मंत्र मुग्ध

प्रेम में सराबोर ब्रज की फूलों की होली देख दर्शक हुए मंत्र मुग्ध

ब्रज की होली का दृश्य, साथ में अभिषेक मित्तल चंचल व अन्य

फिरोजाबाद, एस. के. चित्तौड़ी। आदित्यम सेवा ट्रस्ट वृन्दावन के तत्वावधान में मां वैष्णोदेवी धाम उसायनी के सानिध्य में दो दिवसीय मातृ शक्ति हेतु प्रवचन ठा. राधारमणलाल के लाडले आदित्य गोस्वामीजी महाराज द्वारा व्याख्यान किया गया। मातृ शक्ति पर व्याख्यान करते हुए महाराज श्री ने नारी के अनेको रूपो की चर्चा की। धर्म रक्षा में नारी को करुणा शक्ति एवम प्रेम स्वरूपा बताते हुए मातृ शक्ति को अपनी भावांजलि प्रस्तुत की।
कार्यक्रम कर शुभारम्भ वैष्णो देवी मंदिर के अध्यक्ष आनंद अग्रवाल, उपाध्यक्ष राजेश अग्रवाल द्वारा मां वैष्णोदेवी के चित्र पर माल्यार्पण व दीपप्रज्जवलन कर किया गया। महाराज श्री मातृ शक्ति पर व्याख्यान करते हुए कहा बताया कि धर्म रक्षा में नारी को करुणा शक्ति एवम प्रेम स्वरूपा बताया। कुंती के चरित्र का वर्णन करते हुए भाव विभोर हो गए। कुन्ति के त्याग को सम्माननीय दृष्टिकोण से देखते हुए उन्होंने कहा भविष्य का निर्णय लेने के लिए वर्तमान में कठोरता से निर्णय लेना पड़ता है और जो जिम्मेदारी उठाता है उसे ही सहन करना पड़ता है। संगीत भजन के संगम संग उनका भजन मंत्र मुग्ध कर देने वाली वाणी से सर्वसाधारण को मंत्रमुग्ध कर दिया था। कुंती को आधार लेकर मातृ शक्ति को दीनता का संदेश देकर समाज मे उनके योगदान को सराहा। प्रवचन पश्चात माँ काली एवम माँ दुर्गा की अद्भुत झांकी का सुंदर चित्रण तत्पश्चात 5100 दीपदान स्वयं एवं भक्तजनो द्वारा करवाकर माँ वैष्णो देवी के चरणों मे नमन किया। इस कार्यक्रम के समय माँ वैष्णो देवी मंदिर के अध्यक्ष एवं पदाधिकारीगण उपस्थित थे। इसी श्रृंखला में 15 अक्टूबर को महाराज श्री ने प्रेम का संदेश देते हुए गोपी प्रेम की पराकाष्ठा से मातृ शक्ति को प्रेरित करते हुए कथा सुनाई। सामाजिकता तुल्य विचारों के प्रेम गंगा में सभी को खूब डुबकी लगवाई। सभी प्रेम में सराबोर ब्रज की फूलो की होली की झांकी देख दर्शक भाव विभोर हो उठे। तत्पश्चात सभी सहयोगियों साथियों का धन्यवाद स्वरूप श्री राधारमण का चित्रपट एवं सुप्रसिद्ध पुलिया प्रसाद देकर सभी को आशीर्वाद प्रदान किया और अधिकतम सेवा ट्रस्ट के द्वारा सामाजिक कार्यों की जानकारी सोनल अग्रवाल, अनिल अग्रवाल, अभिषेक मित्तल चंचल, सचिन मित्तल, पवन सिंघल, विजय सिंघल, संतोष अग्रवाल, दीपक मित्तल, अनिकेत अग्रवाल आदि को दी।
आदित्यम सेवा ट्रस्ट वृद्वजनों की सेवा संकल्पित-आदित्य गोस्वामी
फिरोजाबाद। आदित्य गोस्वामी जी महाराज ने जानकारी देते हुए बताया कि आदित्यम सेवा ट्रस्ट के द्वारा बृद्वाश्रय सदन (प्रस्तावित) है। ट्रस्ट द्वारा जो वृद्वजन लोग अपना खाना पीना बनाने में असमर्थ होते है। उनकों ट्रस्ट द्वारा दो टाइम को भोजन उनके स्थान पर उपलब्ध कराता है। साथ ही माता, वृद्वजनों को रहने के लिए सुविधा युक्त आवास, चिकित्सा, आध्यात्मिक चिंतन, सत्संग भवन आदि की व्यवस्था भी प्रदान करने का काम कर रहा है। उन्होंने बताया कि साधु संतो हेतु अन्नक्षेत्र एवं नर सेवा नारायाण सेवा प्रकल्प में निराश्रितों को अन्न, वस्त्र, चिकित्सा आदि की सुविधा दी जाती है। वहीं गौमाता के विस्मृत हुए महत्व को पुनः स्थापित कर उनके सरंक्षण की व्यवस्था के अलावा अन्य सामाजिक कार्य किये जा रहे है। वार्ता के दौरान प्रमुख उद्योगपति अभिषेक मित्तल चंचल मौजूद रहे।