Wednesday, November 14, 2018
Home » मुख्य समाचार » शिकायतों का समयवद्धता, गुणवत्ता के साथ अधिकारी करायें निस्तारण: डीएम

शिकायतों का समयवद्धता, गुणवत्ता के साथ अधिकारी करायें निस्तारण: डीएम

डीएम व एसपी डेरापुर तहसील सम्पूर्ण समाधान दिवस पर फरियादियों की शिकायत सुनते हुए

आईजीआरएस में डिफाल्टर की श्रेणी में आने वाले अधिकारियों के खिलाफ की जायेगी सख्त कार्यवाही: डीएम
डीएम ने सम्पूर्ण समाधान दिवस में अधिकारियों की अनुपस्थित पर मांगा स्पष्टीकरण
कानपुर देहात, जन सामना ब्यूरो। जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने तहसील डेरापुर के सभागार में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में फरियादियों की समस्याओं को सुना व शिकायतों का निस्तारण कराने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि आईजीआरएस में लंबित डिफालटर प्रकरणों को शीघ्र ही गुणवत्तापूर्ण तरीके से निस्तारण कराये। उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि आईजीआरएस में डिफाल्टर की श्रेणी में तीन अधिकारी विशेष रूप से है उनके खिलाफ चेतावनी जारी कर दी गयी है। उन्होंने कहा कि दीपावली त्योहार के बाद आईजीआरएस की बैठक की जायेगी जिसमें डिफाल्टर की श्रेणी वाले अधिकारी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जायेगी। जिसके तहत हर हाल में सभी अधिकारी निस्तारण गुणवत्तापूर्ण ढंग से कर ले। जिलाधिकारी ने सम्पूर्ण समाधान में जिला बेसिक शिक्षाधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, एलडीएम, ईओ झींझक, एडीओ पंचायत डेरापुर की अनुपस्थित पर स्पष्टीकरण के निर्देश दिये है।
जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह व पुलिस अधीक्षक राधेश्याम ने डेरापुर तहसील सम्पूर्ण समाधान दिवस में कुल 86 शिकायतें आयी जिसमें 7 शिकायतों का मौके पर निस्तारण करा दिया गया। तहसील सम्पूर्ण समाधान दिवस में विकास 13, विद्युत 3, राजस्व 30, पुलिस 18, विकास प्राधिकरण की 3, राशन कार्ड, शिक्षा आदि विभागों की आयी शिकायतों को गंभीरता के साथ सुना व उनका गुणवत्ता के साथ समय से निस्तारण करने के लिए संबंधित अधिकारी को निर्देश दिये। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि जो शिकायत आपको प्राप्त कराई जा रही है, उनका निस्तारण निष्पक्ष होकर गुणवत्तापूर्ण तरीके से करते हुए संबंधित शिकायतकर्ता को अवगत भी कराएं। उन्होंने कहा कि शिकायतों के निस्तारण में समयबद्धता का पूरा ध्यान रखा जाए। इसमें किसी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार दृढ़ संकल्पित है कि किसी भी कमजोर, गरीब व्यक्ति को कोई परेशान/सताये नहीं और उसकी समस्याओं को सुना जाए तथा नियमानुसार उसको न्याय दिलाया जाए। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों से कहा कि जनपद आईजीआरएस में नीचे की श्रेणी है जिसके लिए सभी अधिकारी आईजीआरएस के शिकायतों में जो विभाग डिफाल्टर की श्रेणी में है वह समय से गुणवत्ता के साथ निस्तारण कर ले नही तो उनके लिए कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि आईजीआरएस में डिफाल्टर की श्रेणी में जिला पूर्ति विभाग -18, पीडी – 6, कृषि अधिकारी की 3, बीडीओ मलासा 30 व अमरौधा 13, थाना रूरा 7, रसूलाबाद 6, अकबरपुर व देवराहट 1-1 है जिसमें शीघ्र ही निस्तारण कराये। तहसील सम्पूर्ण समाधान दिवस में पुलिस अधीक्षक राधेश्याम ने भी फरियादियों की समस्याओं को सुना व उनका निस्तारण कराया।
इस मौके पर एसडीएम दीपाली कौशिक, सीएमओ डा0 हीरा सिंह, पीडी शिवकुमार पाण्डेय, जिला पूर्ति अधिकारी अंशिका दीक्षित, जिला सूचना अधिकारी वीएन पाण्डेय, तहसीलदार, अधिशाषी अभियंता जल निगम, लोक निर्माण, सहित संबंधित विभागों के अधिकारी आदि लोग उपस्थित रहे।