Home » मुख्य समाचार » जिंदा गंभीर घायल को पैक कर लाये ट्रामा सेंटर

जिंदा गंभीर घायल को पैक कर लाये ट्रामा सेंटर

जब देखा गया तो था जिंदा-कुछ देर बाद हुई मौत
एसओ मक्खनपुर का कहना-हमने तो भेजा था खुला
फिरोजाबादः जन सामना संवाददाता। थाना मक्खनपुर के पास रामनगर के पास आज सुबह एक अधेड़ व्यक्ति गंभीर घायलावस्था में पड़ा था, जिसकी सूचना डायल 100 व थाना पुलिस को दी गयी, मौके पर पहुंचे डायल 100 वाहन द्वारा जिला अस्पताल लाया गया तो वहां गंभीर घायल को चिकित्सक व स्टाफ देख दंग रह गये, चूंकि वह सफेद कपड़े से पूरी तरह पैक था, जब खोलकर उसे देखा तो सांसे चल रही थीं कुछ देर बाद उसने दम तोड़ दिया। यह वाकया मौके पर मौजूद मीडिया ने कैमरे में कैद कर लिया। कुछ घंटों में यह मामला सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। पुलिस की इस लापरवाही की सबने निंदा की। वहीं शव को पोस्टमार्टम के लिये जिला अस्पताल लाया गया।
आपने कभी नहीं सुना होगा कि किसी जिंदा व्यक्ति को मुर्दे की तरह पूरी तरह पैक कर जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर लाया जाये, लेकिन शनिवार को यह सच में हुआ। थाना मक्खनपुर क्षेत्र रामनगर के पास सुबह एक 50 वर्षीय अज्ञात व्यक्ति के लहूलुहान अवस्था में गंभीर हालत में पड़ा होने की सूचना थाना पुलिस व डायल 100 को दी गयी। मौके पर पीआरवी-19 ने पहुंच व्यक्ति को जिला अस्पताल लायी। यहां जब सरकारी ट्रामा सेंटर के चिकित्सक व स्टाफ ने व्यक्ति को देखा तो चैंक गये, एक बार तो समझे किसी शव को लाये हैं, चूंकि व्यक्ति सफेद कपड़े में पैक था, उसे खोलकर देखा तो सांसे चल रही थीं हालांकि कुछ देर बाद व्यक्ति ने दम तोड़ दिया। चर्चा रही कि इस गंभीर घायल को इस तरह पैक कर क्यूं लाया गया, अगर इसे खुला लेकर आते तो शायद जान बचने में आसानी होती। इस बारे में एसओ मक्खनपुर ने बताया कि हमने तो खुला भेजा था सीएल पैक नहीं। वहीं उन्होंने कहा यह वह मामला नहीं जो आप बता रहे हैं वह शायद टूण्डला का है, खैर पूरे दिन यह मामला चर्चा में रहा।