Friday, March 22, 2019
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » जहरीली शराब कांड के तीन अभियुक्त और गए जेल

जहरीली शराब कांड के तीन अभियुक्त और गए जेल

घाटमपुर कोतवाली पहुंचे एडीजी प्रेम प्रकाश ने पकड़े गए अभियुक्तों से पूछताछ व कार्यवाही की
घाटमपुर/कानपुर, शिराजी। एक सप्ताह पूर्व परचून की दुकान से खरीदी गई जहरीली शराब पीकर बीमार होने एवं कई मौतों के बाद सक्रिय हुए पुलिस प्रशासन ने ताबड़तोड़ छापेमारी कर अवैध शराब माफियाओं के नेटवर्क को तोड़ दिया। और भारी मात्रा में नकली शराब, केमिकल पाउडर आदि सामान बरामद कर दर्जनभर लोगों को हिरासत में लेकर कार्यवाही की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बीती 8 मार्च को थाना क्षेत्र के ग्राम सुखैयापुर स्थित राजू सिंह की परचून की दुकान से इसी गांव के शिव शंकर वीरेंद्र नागेंद्र आदि ने देसी जहरीली शराब खरीद कर पी थी। जिसके बाद हालत बिगड़ने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। दूसरे दिन शिव शंकर और वीरेन्द्र की मौत हो गई, मृतक शिव शंकर के भाई हरि शंकर ने गांव के ही राजू राहुल व सुरेश के खिलाफ नामजद मुकदमा पंजीकृत करवाया था। कोतवाल हरमीत सिंह द्वारा की गई विवेचना में शराब माफिया रैकेट का भंडाफोड़ हुआ, जिसमें सर्वेश पुत्र मुंशी लाल कुशवाह निवासी ग्राम सराय अमित अवस्थी पुत्र अरुण अवस्थी निवासी ग्राम खदरी, विमल कुशवाहा पुत्र सतपाल ग्राम खदरी हरेंद्र यादव पुत्र तुलसी राम निवासी खदर्री उपेंद्र सिंह पुत्र शिव बदन सिंह निवासी कोहरा सरवर अली पुत्र अनवर अली निवासी ग्राम गहोलियनपुरवा, योगेंद्र कुशवाहा पुत्र मुंशीलाल कुशवाहा निवासी सराय का नाम विवेचना में प्रकाश मेंआया। स्थानीय पुलिस ने बीती 12 मार्च को अमित अवस्थी व शर्वेश को हिरासत में लेकर जेल भेजा, 14 मार्च को सरवर अली व योगेंद्र कुशवाहा को हिरासत में लेकर जेल भेजा गया आज 15 मार्च को आरोपी विमल कुशवाहा राम शंकर एवं वीर सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। पकड़े गए अभियुक्तों के पास से पुलिस ने 45 क्वार्टर देसी शराब 30 लीटर केमिकल 15 पेटी देसी शराब 200 लीटर आर बी ऑयल 20 लीटर केमिकल 450 खाली सीसी 150ढक्कन, 450स्टीकर, 6 किलो ग्राम कैराइल, 20 बोरी माल्टो डेविक्सन पाउडर सहित भारी मात्रा में दूध बनाने की सामग्री बरामद की है। एडीजी प्रेम प्रकाश व एसपी ग्रामीण प्रद्युम्न सिंह ने बरामद माल व कार्यवाही की गहन समीक्षा के बाद पकड़े गए अभियुक्तो से पूछताछ की एवं सख्त कार्यवाही के दिशा निर्देश दिए हैं।