Sunday, March 24, 2019
Home » मुख्य समाचार » मुख्य सचिव ने मेला कार्यालय में की कुम्भ कार्यों की समीक्षा

मुख्य सचिव ने मेला कार्यालय में की कुम्भ कार्यों की समीक्षा

मेला प्रशासन में प्रोटोकाल प्रकोष्ठ के गठन का निर्देश
अधिकारियों का उत्साह देखकर थपथपाई उनकी पीठ
प्रयागराज, जन सामना ब्यूरो। मुख्य सचिव, उत्तर प्रदेश शासन डॉ. अनूप चन्द्र पाण्डेय ने प्रयागराज मेला प्राधिकरण कार्यालय के नवीन सभागार में कुम्भ कार्यों के लिए विभागों के द्वारा कराये जा रहे कार्यों की समीक्षा की। मा. मुख्य सचिव ने सबसे पहले कुम्भ के सांस्कृतिक पहलुओँ पर अधिकारियों से जानकारी ली तथा यह पड़ताल की कि कुम्भ में कराये जाने वाले सांस्कृतिक महत्व के कार्यों में कुम्भ की आध्यात्मिकता और सांस्कृतिक गरिमा में कार्यक्रमों के माध्यम से वृद्धि होती रहे। उन्होंने कला ग्राम, संस्कृति ग्राम, सांस्कृतिक पण्डालों तथा अन्य प्रदर्शनियों इत्यादि की विस्तृत जानकारी प्राप्त की तथा सभी कार्यों को जनरूचि के अनुरूप बनाने तथा आम जन के लिए सुलभ बनाने पर जोर दिया। उन्होंने सूचनाओं के आदान-प्रदान एवं प्रचार-प्रसार के लिए सूचना विभाग द्वारा बनाये जा रहे मीडिया सेंटर की कार्ययोजना को भी जाना तथा कुम्भ आयोजन के दौरान सूचनाओं की सत्यता पर अधिक जोर देते हुए कहा कि सभी विभाग किसी भी प्रकार के भ्रम की स्थिति अथवा अनर्गल प्रचार को रोकने के लिए एक दूसरे समन्वय बनाकर रखे तथा सभी विभागों में सूचनाओं का सही आदान-प्रदान करते रहने के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किये जाय।
मुख्य सचिव ने कुम्भ मे आने वाले भारी जन समूह के बीच विशिष्ट अतिथियों के प्रबन्धन के लिए एक प्रोटोकाल विभाग मेला प्रशासन के अन्तर्गत गठित करने तथा अपर जिलाधिकारी स्तर का एक अधिकारी इस हेतु तैनात करने का निर्देश भी दिया ताकि कुम्भ मेला कार्यों में रूटीन मे लगे अधिकारियों की एकाग्रता उनके अपने कार्यों में बनी रहे।  मुख्य सचिव ने सभी विभागों के कार्यों की अलग-अलग प्रगति जानी तथा सभी से यह बताने को कहा कि किसके कार्य अवशेष रह गये है। सभी विभागों के द्वारा उन्हें अवगत कराया गया कि निर्धारित समय सीमा में लगभग सभी विभागों के कार्य कुम्भ से पहले पूर्ण हो गये है।  बैठक में पुलिस महानिदेशक ओ.पी. सिंह ने भी सभी विभागों के अधिकारियों को सम्बोधित किया तथा यह कहा कि मेला प्रशासन ने पुलिस और सभी विभागों को एक जिम्मेदारी के साथ कार्य करना है, जिसमें आपसी समन्वय सबसे अधिक आवश्यक है। पुलिस ही नही बल्कि सभी सिविल विभाग भी एक लय होकर कुम्भ के कार्य मे जुटे तथा इस महान आयोजन को सफल बनायें।  बैठक के अन्त में मुख्य सचिव ने सभी अधिकारियों से कहा कि पिछले डेढ वर्षों से कार्य करते रहने तथा बड़े-बड़े कार्यों को अंजाम तक पहुंचा देने के बाद जिस तरह का जोश अभी भी सभी अधिकारियों में दिखायी दे रहा है वह एक शुभ संकेत है तथा इस बात का आश्वासन भी है कि कुम्भ 2019 एक सफल कुम्भ के रूप में सम्पन्न होगा। बैठक में मुख्य सचिव के साथ पुलिस महानिदेशक ओ.पी.सिंह के अतिरिक्त प्रमुख सचिव नगर विकास मनोज कुमार सिंह, प्रमुख सचिव संस्कृति जितेन्द्र कुमार, अपर पुलिस महानिदेशक एस.एन.साबत, मण्डलायुक्त आशीष कुमार गोयल, मेलाधिकारी विजय किरन आनन्द, जिलाधिकारी प्रयागराज सुहास एल.वाई., डीआईजी कुम्भ के.पी. सिंह के साथ सभी विभागों के प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।