Friday, March 22, 2019
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » ईवीएम व वीवीपैड के प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर दक्षता के साथ ले जानकारी: डीएम

ईवीएम व वीवीपैड के प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर दक्षता के साथ ले जानकारी: डीएम

लोक सभा सामान्य निर्वाचन 2019 में पारदर्शिता के साथ ईवीएम मशीन एवं वीवी पैट मशीन के माध्यम से होगा मतदान: जिला निर्वाचन अधिकारी
कानपुर देहात, जन सामना ब्यूरो। जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने मास्टर ट्रेनरो को निर्देश दिये कि लोक सभा सामान्य निर्वाचन – 2019 को सकुशल निष्पक्ष सम्पन्न कराने के लिए दिये जा रहे कार्मिक प्रशिक्षण आदि को भली भांति ले क्योकि उन्हे पीठासीन अधिकारी, मतदान प्रथम व द्वितीय अधिकारी को प्रशिक्षण देना है। उन्होने कहा मास्टर टेªनर कार्मिक भलीभांति यह जान ले कि उन्हे मतदान पूर्व और बाद में क्या करना है। उन्होने कहा कि निर्वाचन में मतदान कार्मिक प्रशिक्षण भी महत्वपूर्ण है। मतदान केन्द्र पर पीठासीन अधिकारी तथा सभी मतदान अधिकारी पूर्व में ही मतदान की सकुशल तैयारी कर ले। मास्टर ट्रेनर निर्वाचन कार्मिक प्रशिक्षण में पूरी तरह पारंगत हो जाये। जब तक कोई बात पूरी तरह मन मस्तिक में न बैठे तब तक बार-बार पूॅछने व जानने में कोई कोताही न बरते। निर्वाचन सामग्री की किट में क्या-क्या होता है इसे भी जान ले। निर्वाचन सामग्री देते वक्त पीठाशीन अधिकारी यह देख ले कि सभी सामग्री है की नही जिससे मतदान के समय किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत न हो। उन्होंने कहा कि मतदान शुरू होने के पहले सभी मतदान कार्मिक वोटिंग मशीन आदि को चेक कर लिया जाये। जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने विकास भवन के आडिटोरियम हाल में लोक सभा सामान्य निर्वाचन 2019 प्रशिक्षण कार्यक्रम मास्टर ट्रेनरों से कहा कि सभी मास्टर ट्रेनर ईवीम व वीवीपैड का प्रशिक्षण भली भांति ले क्योकि मास्टर ट्रेनर ही मतदान कार्मिकों, पीठासीन आदि को प्रशिक्षण देते है जिससे कि किसी भी प्रकार की कोई समस्या न हो। उन्होंने कहा कि जिस किसी मास्टर टेªनर को एक बार में समझ न आये तो उसे दोबारा पूछते रहे। उन्होंने समस्त जनपद वासियों से कहा है कि लोक सभा सामान्य निर्वाचन 2019 के होने वाले मतदान को भारत निर्वाचन आयोग की मंशा के अनुरूप पूर्ण पारदर्शिता के साथ संपन्न कराया जाएगा। इस बार आयोग के द्वारा मतदान में ईवीएम मशीन के साथ वीवीपैट मशीन का भी प्रयोग किया जा रहा है। जिसके माध्यम से सभी मतदाता अपना मत डालने के उपरांत वीवीपैट मशीन में अपने मत की जानकारी के संबंध में पर्ची देख सकेंगे, जो मशीन पर 7 सेकंड तक रहेगी। इसके बाद वह कटकर गिर जायेगी। उन्होंने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा हेल्पलाइन नम्बर 1950 पर निर्वाचन संबंधी जानकारी ली जा सकती है। जिससे कोई भी मतदान हेल्पलाइन नम्बर के माध्यम से जान सकता है कि उसका नाम मतदाता सूची मे है कि नही है।   मुख्य विकास अधिकारी/प्रभारी अधिकारी (कार्मिक प्रशिक्षण) जोगिन्दर सिंह ने कार्मिक मास्टर ट्रेनरो को बताया गया कि मतदान केन्द्र पर केवल मतदाता ही प्रवेश करेंगे। मतदाता सूची में अंकित लोगो के अलावा अन्य व्यक्ति मतदान केन्द्र पर नही जा सकेंगा। सभी मतदान कार्मिक मास्टर ट्रेनर सभी पीठासीन अधिकारी मतदान प्रथम व द्वितीय अधिकारी को प्रक्रिया सम्बन्धी जानकारी दिशा निर्देशो को पढ़ और समझ कर भली भांति प्रशिक्षण लेकर निर्वाचन को सकुशल सम्पन्न कराये। पीठासीन अधिकारियो को पीठासीन डायरी आदि पुस्तिकाएं भी दी जाती है। इन पुस्तिकाओ में मतदान केन्द्र पर की जाने वाली आवश्यक व्यवस्थाएं आदि की जानकारी आदि भी होती है। कार्मिको को निर्वाचन प्रक्रिया पूरी करने में सजग, सतर्क रहकर कार्य करना होगा। उक्त अवसर पर डीडीओ प्रद्युम कुमार, पीडी शिव कुमार पाण्डेय, जिला सूचना अधिकारी वीएन पाण्डेय, समाज कल्याण अधिकारी अशोक कुमार, उप जिला कृषि अधिकारी विनोद कुमार यादव, जिला कार्यक्रम अधिकारी राकेश यादव, जिला उद्यान अधिकारी रविचन्द जैसवाल आदि सभी मास्टर ट्रेनर मौजूद रहे।