Friday, March 22, 2019
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » जिला निर्वाचन अधिकारी ने बैठक कर अधिकारियों को जारी किये निर्देश

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बैठक कर अधिकारियों को जारी किये निर्देश

प्रेक्षक द्वारा किसी प्रकार की शिकायत संज्ञान में आयी तो सम्बन्धित के खिलाफ होगी कार्यवाही -जिला निर्वाचन अधिकारी
चन्दौली, जन सामना ब्यूरो। जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी नवनीत सिंह चहल ने लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2019 को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने हेतु कलेक्ट्रेट सभागार में सेक्टर/जोनल मजिस्ट्रेटों की बैठक की। बैठक के दौरान निदेर्शित करते हुये कहा कि मतदान से लेकर मतगणना तक पूरी मेहनत व निष्ठा के साथ चुनाव कराने की पूरी प्रक्रिया का पूरा अध्ययन कर रूट चार्ट के अनुसार अपने-अपने बूथों का निरीक्षण कर बिजली, पानी, फर्नीचर, शौचालय व रैम सहित अन्य व्यवस्थाओ का एक सप्ताह मे पूरी रिपोर्ट से अवगत कराये ताकि समय से सारी तैयारियाॅ पूर्ण कर ली जाय। कहा कि मतदान कराने में किसी प्रकार की दिक्कत न हो। सेक्टर,जोनल मजिस्ट्रेटों को अपने सेक्टर के क्षेत्राधिकारी के साथ बूथों का भ्रमण कर पूरी तैयारियों का जायजा ले लें यदि इसके बावजूद भी प्रेक्षक द्वारा किसी प्रकार की शिकायत संज्ञान में आयी तो सम्बन्धित के खिलाफ कठोर कार्यवाही सुनिश्चित होगी। संबेदनशील व अतिसंबेदनशील बूथों पर पैनी नजर बना कर वहाॅ के प्रधान व सम्मानित व्यक्तियों से वार्ता कर मतदान में बिघ्न ड़ालने वाले के खिलाफ अभी से विविध धाराओं में नोटिस जारी कर उनके खिलाफ कठोर कार्यवाही किया जाय। सेक्टर/जोनल मजिस्ट्रेटों को निदेर्शित करते हुये कहा कि साड़ी, कपड़ा, रेडियो, घड़ी, मदिरा बाटने वालों की गोपनीय सूचना अधिकारियों को दें ताकि उनके खिलाफ कठोर कार्यवाही सुनिश्चित हो। कहा कि गरीब परिवार व आर्थिक रूप से कमजोर मतदाताओं को प्रलोभन, घमकाने व चुनाव में साम्प्रदायिक दंगा करने वाले व्यक्तियों की जानकारी हासिल कर उनके खिलाफ कार्यवाही करने के संकेत भी दिये।  जिला निर्वाचन अधिकारी ने बैठक में अनुपस्थित सेक्टर/जोनल मजिस्ट्रेटों को कारण बताओं नोटिश जारी करने के निर्देश दिये। सेक्टर/जोनल मजिस्ट्रेटों को सम्बोधित करते हुये कहा कि मतदान कराने के लिए लगे अधिकारियों को सख्त निर्देश दिया कि यदि जनपद में यदि किसी से सम्बन्ध बना है या वार्ता होती है उसके दरवाजे जाने से बचे यदि जानकारी न होने की दशा में व्यक्ति के दरवाजे पर पहुॅच भी जाये तो चाय, नास्ता, भोजन इत्यादि न करने की हिदायत भी दी। कहा कि यदि सूचना मिली तो सम्बन्धित के खिलाफ निर्वाचन आयोग द्वारा कार्यवाही तय होगी। वही सभी सेक्टर/जोनल मजिस्ट्रेटों को अपने अधिकार को सही ढंग से समझकर समस्या आये तो समाधान कराना उनकी पहली प्राथमिकता रहे। किसी भी तरह से मतदान को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराये।  बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक सन्तोष कुमार सिंह ने सभी सेक्टर,जोनल मजिस्ट्रेटों, क्षेत्राधिकारी व थाना प्रभारियों को निदेर्शित करते हुये कहा कि जिनकी तैयाती एक दूसरे के साथ लगी है वह स्वंय मतदान स्थल का रूट चार्ट के अनुसार भ्रमण कर पूरी तैयारियों को देख लें। क्षेत्राधिकारी व थाना प्रभारियों को निर्देश दिया कि अपने-अपने हल्के के वनरेबुल व्यक्तियों के खिलाफ अभी से लगातार अभियान चलाकर उनके खिलाफ कार्यवाही करते रहे ताकि मतदान में किसी प्रकार की बिघ्न न पैदा हो। कहा कि मतदान के दौरान शान्तिभंग करने वाले के खिलाफ 107/16 में विविध कार्यवाही लगातार करे। मतदान स्थल से 200 मीटर के परीधि में धुम्रपान व चुनाव प्रचार-प्रसार सामाग्री नही होगा यदि एैसे लोग पाये जाये तो कार्यवाही से न चुकने के निर्देश क्षेत्राधिकारी व थाना प्रभारियों को दी। साथ ही लाइसेंस शस्त्र धारियों का गन जमा कराने से पूर्व उनके द्वारा पिछले एक साल मे क्रय किये गये कारतूस लेखा जोखा ले यदि किसी प्रकार का शन्का हो तो शस्त्र लाइसेंस निरस्त करने का रिपोर्ट तत्काल प्रस्तुत करे।  बैठक के दौरान उप जिलानिर्वाचन अधिकारी बच्चा लाल मौर्य, उपजिलाधिकारी अभिषेक गोयल, कुमार हर्ष, प्रदीप कुमार, आनन्द वर्धन, राम सजीवन मौर्य समस्त क्षेत्राधिकारी सहित जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।