Wednesday, December 19, 2018
Home » मुख्य समाचार » युवाओं ने रायबरेली में की पहली कार्यशाला

युवाओं ने रायबरेली में की पहली कार्यशाला

-प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे बच्चों का किया मार्गदर्शन
रायबरेलीः जन सामना ब्यूरो। पढ़े लिखे युवाओं का मार्गदर्शन करने और प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयरी के लिए टिप्स देकर उन्हें प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से यूथ युनाईटेड फाॅर वैल्यू आॅडिशन ने रायबरेली में युवा कार्यक्रम आयोजित कर बच्चों को अनवरत परिश्रम करने और लक्ष्य बना कर अध्ययन करने की सीख दी है। यूथ युनाईटेड फाॅर वैल्यू आॅडिशन द्वारा आईएस परीक्षाओं की तैयारी के लिए मुफ्त में कार्यशाला का आयोजन मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले में किया जा चुका है। इसके अलावा बैंक, आईबीपीएस, सफाई अभियान, कैरियर काॅउंसिलिग वर्क शाप, पुलिस सबइंस्पेक्टर परीक्षाओं के लिए मुफ्त कक्षायें, विधिक जागरूकता कार्यक्रम, नशा मुक्ती कार्यक्रम और रैलीयां समेत विभिन्न प्रोग्राम चलाये जा चुके हैं। उनके प्रयास से अब तक 35 युवा लाभान्वित हो चुके है। शहर रायबरेली मे युवां की पहली कार्यशाला डिग्री कालेज चैराहे के निकट जयगणेश आइएस कोचिंग मे संपन्न हुई। इस कार्यशाला में आईएएस स्वरोचिष सोमवंशी तथा प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करा रहे सनोज त्रिवेदी ने आईएएस तथा अन्य परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन करने पर चर्चा की। युवा कार्यक्रम का उद्देश्य रायबरेली में छात्रों के छोटे छोटे समूह बनाना है जिसमें वे आपस में विचारों का आदान प्रदान कर सामूहिक मूल्य संवर्धन कर सकें। इसकी कोई मेम्बरशिप फीस नहीं है। ये एक प्लेटफार्म है जिसके माध्यम से जिले के युवा आपस में सार्थक संवाद स्थापित कर स्वयं को और अपने चारों ओर के वातावरण को बेहतर बना सकते हैं। चर्चा में सभी इस बात पर सहमत हुए कि सभी चीजें किताबें पढ़ने से नहीं सीखी जा सकतीं। किताबों की सीमाएं हैं। मैदानी स्तर पर टीम के रूप में काम करने से नेतृत्व के गुण विकसित होते हैं और इस बात का भान भी होता है कि सफलता की हमारी अपनी परिभाषा कितनी अधूरी और एकांगी है। कार्यशाला में सामाजिक विषयों से संबंधित अभियान चलाने का निर्णय भी लिया गया जिससे सामूहिक, चेतना व्यक्तित्व विकास और सभी तरह के कामों के प्रति सम्मान का भाव जागृत हो। अंत में जय गणेश के प्रबंधक सनोज त्रिवेदी ने आईएएस स्वरोचिष सोमवंशी के प्रति आभार ज्ञापित करते हुय अपने मार्गदर्शन देने के लिए प्रेरित किया।