Home » मुख्य समाचार » आर्य समाजियों ने प्रशासन से लगाई हिफाजत की गुहार

आर्य समाजियों ने प्रशासन से लगाई हिफाजत की गुहार

घाटमपुर, कानपुरः शीराजी। आर्य समाज मंदिर में दबंगों द्वारा अवरोध उत्पन्न करने एवं जान से मारने की धमकी से परेशान पदाधिकारियों व संतों ने हवन पूजन के बाद बैठक कर समस्याओं पर चर्चा की और पुलिस से मिलकर सुरक्षा की गुहार लगाई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कोतवाली के नजदीक स्थित आर्य समाज मंदिर में आज कानपुर व हमीरपुर से आए आर्य समाज पदाधिकारियों व संतों ने हवन कार्यक्रम के बाद बैठक कर विभिन्न समस्याओं पर चर्चा की और आर्य समाज घाटमपुर के पदाधिकारी एवं सदस्यों ने संगठन निरीक्षक वरिष्ठ अधिवक्ता हरिओम सिंह के नेतृत्व में स्थानीय कोतवाली पहुंचकर अराजक तत्वों से आर्य समाज मंदिर व सदस्यों की सुरक्षा किए जाने की मांग की है। आरोप है कि कुछ दबंग लोग साप्ताहिक यज्ञ एवं सत्संग में व्यवधान उत्पन्न करते हैं। जिनके द्वारा 15 अप्रैल को मंदिर के ताले में फेवीक्विक डालकर तथा 22 अप्रैल को जिला आर्य प्रतिनिधि सभा कानपुर देहात व घाटमपुर के आर्य समाजियों की बैठक के बाद कुछ लोगों ने आर्य समाज मंदिर पर पत्थर व कांच आदि से हमला कर बवाल किया था। आरोप है कि हमलावर जान से मारने की धमकी दे रहे थे। पीड़ित पक्ष ने स्थानीय पुलिस से सुरक्षा किए जाने की गुहार लगाई है। प्रतिनिधिमंडल में मुख्य रुप से डॉ राजकुमार, डॉक्टर चंद्रपाल आर्य, वेद प्रकाश आर्य, आनंद कुमार, अशोक कुमार, वीरेंद्र, वंदना आर्य, नीलम आर्य एडवोकेट हरिओम सिंह, प्रदीप आर्य, विनोद पटेल, हटी सिंह, संतोष, बिंदु सैनी, शैलेश कुमार, ज्ञानप्रकाश सहित तमाम आर्य समाजी मौजूद रहे।