Home » मुख्य समाचार » जर्जर भवन हो तो उसे बंद कराकर करें बैरिकेडिंग-डीएम

जर्जर भवन हो तो उसे बंद कराकर करें बैरिकेडिंग-डीएम

फिरोजाबाद, एस. के. चित्तौड़ी। जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने जिला महिला चिकित्सालय में प्लास्टर गिरने से दो बच्चों के घायल होने की घटना को गंभीरता से लेते हुए सभी जिलास्तरीय अधिकारियों को निर्देशित किया है कि उनके अधीन कोई भी जर्जर भवन हो तो उसे बंद कराकर उसके आसपास बेरिकेटिंग करें एवं जनमानस के जाने पर रोक लगा दें। उन्होंने निर्देश दिए है कि इस प्रकार की घटना को रोकने का पूर्ण उत्तरदायित्व संबंधित कार्यालयाध्यक्ष का है। उन्होंने बताया कि अत्यन्त पुराने एवम जर्जर भवनों में लगातार वर्षा के दौरान क्षतिग्रस्त होने की पूर्ण संभावना होती है तथा इस प्रकार की घटनाओं को थोड़े से प्रयास से रोका जा सकता है। अतः यह आवश्यक है कि वर्षा ऋतु में ऐसे भवनों में प्रवेश पर रोक लगा दी जाए। इसी के दृष्टिगत उपरोक्त दिशानिर्देश जारी किए गए है।