Tuesday, January 22, 2019
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » पीएसीएल पीड़ित निवेशकों ने बनाई राजनैतिक पार्टी

पीएसीएल पीड़ित निवेशकों ने बनाई राजनैतिक पार्टी

चुनाव से पहले नहीं हुआ भुगतान तो भाजपा को भुगतना होगा खामियाजा
कानपुर, जन सामना ब्यूरो। पीएसीएल पीजीएफ पीडि़त निवेशकों और कार्यकर्ताओं की एक अहम बैठक मालरोड में सम्पन्न हुई, जिसमें निवेशकों की लडाई को आगे बढाने के लिए राजनीतिक पार्टी का गठन किया गया तथा कहा गया कि राजनीतिक पार्टी के माध्यम से आगे की लडाई लडी जायेगी।
बैठक का नेतृत्व कर रहे विकास त्रिपाठी ने बताया कि नई राजनीतिक पार्टी का नाम भारतीय लोक सेवा दल रखा गया है जो पूरे भारत में है और बडे तेजी के साथ कानपुर में भी इस पार्टी के सदस्य बनाये जा रहे है। ताकि वर्तमान सरकार को यह भय दिखाया जा सके कि यदि चुनाव के पहले हमारा भुगतान नहीं कराया गया तो हमारी पार्टी का प्रत्याशी हर जिले के सांसद का चुनाव लडेगा और वह हमारी आवाज को संसद में उठायेगा। बैठक में राष्ट्रीय प्रवक्ता और प्रदेश प्रभारी विकास त्रिपाठी ने सम्पन्न करायी और मौके पर दर्जनों नये दसरू बनाये। उन्होंने बताया इस कंपनी का मुकदमा सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है उसकी तारीख 4 जनवरी है और पार्टी के माध्यम से वकील खड़ा किया जायेगा। क्योंकि अभी तक पीडितों द्वारा कोई भी वकील नहीं था, जिसकी जानकारी हम लोगों को नहीं मिल पा रही थी। बताया कि पूरे दम से मुकदमा लडा जायेगा और आगे की रणनीति आगामी रविवार की बैठक में बनायी जायेगी। बैठक में विकास त्रिपाठी, नशीम, जगरूप, रामशंकर, प्रदीप श्रीवास्तव, मनोज कुमार, बीना सिंह, रामश्री, प्रभावती, इमरान, प्रदीप, मोहिनी, प्रेमलता, सुमन बाजपेयी, श्रीपाल, आनन्द सचान, जीतेन्द्र, धीरेन्द्र व अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।