Tuesday, January 22, 2019
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » डीएम ने मतदेय स्थलों के सम्भाजन के सम्बन्ध में की समीक्षा

डीएम ने मतदेय स्थलों के सम्भाजन के सम्बन्ध में की समीक्षा

कानपुर देहात, जन सामना ब्यूरो। मतदेय स्थलों का पुनः भौतिक सत्यापन कराते हुए जिन मतदेय स्थलों के भवन सम्भाजन के उपरान्त बाढ के कारण क्षतिग्रस्त हो गये हो अथवा किसी अन्य अपरिहार्य कारणों से उन मतदेय स्थलों के भवनों में परिवर्तन की आवश्यक हो, उनके संशोधन प्रस्ताव उपलब्ध कराये जाने हेतु निर्देश दिये गये है।
जिसके क्रम में जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने कलेक्ट्रेट कार्यालय में उप जिलाधिकारी, तहसीलदार, मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के अध्यक्ष/मंत्री के साथ मतदेय स्थलों के सम्भाजन के सम्बन्ध में विचार विमर्श किया। जिलाधिकारी को बैठक में अवगत कराया गया कि विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 205 रसूलाबाद (अ0जा0) के लिए मतदेय स्थलों के सभाजन के उपरान्त संशोधन प्रस्ताव 2019 हेतु गहिलू के प्राथमिक पाठशाला बक्सहा उ0क0 में एक भी दरवाजा व आबादी के अन्दर होने एवं वाहनों के आगागमन में असुविधा के कारण भवन परिवर्तन किया गया। इसी प्रकार उसरी प्राथमिक पाठशाला उसरी कक्ष संख्या 3 में भी एक भी दरबाजा न होने के कारण व पूर्व माध्यमिक विद्यालय न होने व त्रुटिवश अंकित होने के कारण, इसी प्रकार भारामऊ के प्राथमिक पाठशाला भारामऊ में एक भी दरवाजा न होने के कारण व राजनैतिक प्रतिद्वन्द्धता के कारण भवन परिवर्तन हेतु विचार विमर्श किया गया। इसी प्रकार विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 206 अकबरपुर रनियां के लिए मतदेय स्थलों के सभाजन के उपरान्त संशोधन प्रस्ताव के तहत सरियापुर के उच्च प्राथमिक विद्यालय सरियापुर में अधिक वर्षा के कारण भवन जर्जर हो जाने के कारण परिवर्तन किया गया। इसी प्रकार कुम्भी के उच्च प्राथमिक विद्यालय कुम्भी, चिराना जू0हा0 चिराना म0 विसायकपुर, रनियां पूर्व माध्यमिक विद्यालय रनियां में भी अधिक वर्षा के कारण भवन जर्जर हो जाने के कारण संशोधन किया गया। इस मौके पर मुख्य बिन्दुओं पर भी विस्तार से चर्चा की गयी। बैठक में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व साहब लाल, उप जिलाधिकारी डेरापुर दीपाली कौशिक, सिकन्दरा विजेता, मैथा रामशिरोमणि, जिला सूचना अधिकारी वीएन पाण्डेय, तहसीलदार अकबरपुर ऋषिकांत राजवंशी, तहसीलदार रसूलाबाद अर्चना अग्निहोत्री, भोगनीपुर लाल सिंह यादव आदि व मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों में रामऔतार भारती, बलवीर सिंह यादव, श्याम बिहारी शुक्ल, ज्ञानचन्द्र संखवार, दिनेश पालीवाल, राघवेन्द्र सिंह, विशाल सिंह यादव आदि अधिकारी व राजनैतिक दल के प्रतिनिधिगण उपस्थित रहे।