Tuesday, January 22, 2019
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » मंडलायुक्त कानपुर ने किया घाटमपुर कोतवाली व तहसील का वार्षिक निरीक्षण

मंडलायुक्त कानपुर ने किया घाटमपुर कोतवाली व तहसील का वार्षिक निरीक्षण

घाटमपुर/कानपुर, शीराजी। मंडलायुक्त कानपुर सुभाष चंद शर्मा द्वारा घाटमपुर कोतवाली व तहसील कार्यालय पहुंचकर वार्षिक निरीक्षण किया गया। तथा अभिलेखों में दुरुस्ती ना पाए जाने पर कर्मचारियों को फटकार भी लगाई। इस मौके पर उन्होंने कोतवाली में सम्पूर्ण समाधान दिवस पर बैठकर फरियादियों की शिकायतें भी सुनी। प्राप्त जानकारी के अनुसार वार्षिक निरीक्षण में घाटमपुर कोतवाली पहुंचे मंडलायुक्त सुभाष चंद शर्मा ने गार्ड आफ आनर लेने के बाद कोतवाली प्रांगण में बैठकर पीड़ितों की समस्याएं सुनी इस मौके पर कुल 47 शिकायती प्रार्थना पत्र आए जिसमें राजस्व से संबंधित 17 बीडीओ पतारा का एक नगर पालिका घाटमपुर का एक थाना सजेती के नौ व शेष शिकायती प्रार्थना पत्र घाटमपुर कोतवाली से संबंधित थे। मौके पर दो शिकायतों का निस्तारण किया गया। जिसमें कस्बा निवासी नजरुल इस्लाम की शिकायत पर चोरी का मुकदमा दर्ज किया गया। तथा कस्बे के मोहल्ला जवाहर नगर पश्चिमी निवासी वृद्ध महिला गया सुरी पत्नी रामजीवन की शिकायत पर उनकी बहू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेजा गया है। कोतवाली में निरीक्षण के दौरान मंडलायुक्त ने दंगे के दौरान सिपाहियों के पहने जाने वाले बॉडी प्रोटेक्टर तथा कागजों के रखरखाव पर संबंधित कर्मचारियों को साफ.सफाई व धूप में रखने के निर्देश दिएए पुरुष हवालात का कुंडा ठीक करवाने तथा सीसीटीवी कैमरे के बारे में जानकारी लेते हुए उसके बैकअप कितने दिन सुरक्षित रहता है आदि की भी जानकारी ली। माल खाने के निरीक्षण के दौरान वेत चलाने व सिपाहियों द्वारा हेलमेट लगाने के भी निर्देश दिए गए। शस्त्रों के निरीक्षण के दौरान मिर्ची बम व स्मोक बम तथा हथियारों के बारे में जानकारी ली। व हथियारों को चलाने के तरीके बताएं तथा चौकीदारों से वार्ता कर बेल्ट बिल्ला, साइकिल, डेढ़ हजार रुपया प्रति माह शीटी, बैटरी, लाठी दिए जाने की जानकारी लेते हुए गांवों में होने वाले झगड़ा फसाद तथा अपराधिक घटनाओं की जानकारी समय से पहुंचाने के निर्देश दिए। थाना दिवस के रजिस्टर के निरीक्षण के दौरान कई निर्देश देते हुए साफ.सुथरा रजिस्टर बनाने के लिए कहां है। तथा निस्तारित हो चुके शिकायती प्रार्थना पत्रों के वादियों को फोन करके उनकी समस्या समाधान के बारे में जानकारियां ली।पुलिस अधिकारियों द्वारा कोतवाली की नई बिल्डिंग बनवाए जाने की मांग की गई। जिसके लिए उन्होंने नई बिल्डिंग के लिए आश्वासन दिया है। तहसील कार्यालय पहुंचकर मंडलायुक्त ने अभिलेखागार, राजस्व संग्रह कार्यालय, खतौनी वितरण केंद्र कंप्यूटर कक्ष, तहसीलदार कोर्ट, एसडीएम कोर्ट आदि कार्यालयों का निरीक्षण कर कर्मचारियों की जमकर क्लास ली अमीनो द्वारा तनख्वाह से बहुत कम वसूली किए जाने पर नाराजगी व्यक्त की। निरीक्षण में कुछ लेखपालों द्वारा 1418 पसली के बाद खसरे जमा नहीं किए गए, वहीं लेखपालों की डेली डायरी भी मेंटेन नहीं हो रही है। 1359 की खतौनी भी कर्मचारी नहीं दिखा पाए, आम आदमी बीमा योजना किसान दुर्घटना बीमा योजना जीवन ज्योति बीमा योजना आदि की भी जानकारी ली। ओवर राइटिंग पर कर्मचारी को डाटा। तहसील सभागार में मंडलायुक्त द्वारा करीब 52 निराश्रित असहाय गरीब लोगों को कंबल वितरित किए गए। इस मौके पर जिलाधिकारी विजय विश्वास पंत मुख्य विकास अधिकारी अक्षय त्रिपाठी एडीएम वित्त संजय चौहान, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रेरणा सिंह आईएएस, एसएसपी अनंत देव तिवारी एसपीआर, प्रद्युम्न सिंह पुलिस क्षेत्राधिकारी घाटमपुर शैलेंद्र सिंह, प्रभारी निरीक्षक रवि श्रीवास्तव, तहसीलदार अमित गुप्ता, नायब तहसीलदार राकेश कुमार आदि अधिकारी भी मौजूद रहे। साढे चार घंटे के निरीक्षण के बाद घाटमपुर से वापसी के दौरान मंडलायुक्त की टीम ने जगन्नाथ मंदिर बेहटा बुजुर्ग व गुप्तकालीन मंदिर बारी भीतरगांव के भी दर्शन किए।