Friday, March 22, 2019
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » प्रशिक्षण में सतत विकास लक्ष्य एजेंडा 2030 की दी गई जानकारी

प्रशिक्षण में सतत विकास लक्ष्य एजेंडा 2030 की दी गई जानकारी

चकिया/चन्दौली, जन सामना ब्यूरो। गोल पे बोल अभियान के तहत ग्राम्या संस्थान चंदौली व ‘सहयोग’ लखनऊ के संयुक्त तत्वावधान में लालतापुर गांव में शुक्रवार को आयोजित तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के अन्तिम दिन युवाओं को सतत विकास लक्ष्य एजेंडा 2030 के बारे में जागरूक करना व युवाओं की सक्रिय नागरिक के रूप क्या क्या और कैसे अपनी भूमिका निभा सकते हैं की जानकारी दी गयी।प्रशिक्षण के दौरान ट्रेनर ने युवाओं को बताया की सतत विकास लक्ष्य एजेंडा 2030 के अंतर्गत 17 लक्ष्य निर्धारित किये गए हैं जिसमें गरीबी, भुखमरी को पूरी तरह से समाप्त करना, सभी को बेहतर स्वास्थ्य, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मुहैया कराना , लैंगिक असमानता को पूरी तरह से समाप्त करना, देश मे शांति और सौहार्द सुनिश्चित करना प्रमुख है। 193 देशों ने संयुक्त राष्ट्र संघ में इस पर हस्ताक्षर किया है, जिसमे भारत भी शामिल है।
प्रशिक्षण के दौरान युवाओं को इन 17 गोलों के बारे में जानकारी दी गई। इसके बाद युवाओं ने अपने अपने गाँव की प्रमुख समस्याओं और उसके पीछे के कारणों को चिन्हित किया। उसके बाद सभी ने मिलकर अपने अपने सपनो के गाँव का चित्र बनाकर , लिखकर सभी के साथ साझा किया।
फिर उन्होंने चिन्हित समस्याओं को खत्म करने के लिए एक्शन प्लान भी बनाया। इसमें समस्याओं को लेकर संबंधित अधिकारियों को ज्ञापन देना, मिलना, समस्याओं को उजागर करना, जागरुकता रैली निकलना प्रमुख है। प्रशिक्षण में अजय, अक्षय नारायण यादव, फुलगे कुमार, अनूप कुमार, संतोष कुमार, आरती, सुमन, शिवानी, सोनम, नीलम, चाँदनी, मंजू, शशीकला सीमा के अलावा सहयोग लखनऊ से संगीता, ग्राम्या सस्थान से नीतू, त्रिभुवन, मन्नू, रामबिलास सहित दर्जनों युवाओं ने प्रतिभाग किया।