Monday, December 17, 2018
Home » मनोरंजन (page 2)

मनोरंजन

हरियाणवी अलबम शूट पटियाला की शूटिंग सम्पन्न

अलीगढ, मुकेश कुमार ऋषि वर्मा। हिरनोटी फिल्म स्टूडियो ग्रुप द्वारा अलीगढ की अलग-अलग लोकेशन पर हरियाणवी अलबम – शूट पटियाला का फिल्मांकन किया गया। अभिनेत्री जिया कोर के दमदार अभिनय से सजी इस अलबम में मानू चौधरी, मुकेश कुमार ऋषि वर्मा (युवा साहित्यकार एवं फिल्म कलाकार), तेज वर्मा, रवि चौधरी, विपिन चौधरी, कपिल यादव, ध्रुव चौधरी, रवि कुमार (वीडियो), मोहित जाट, अजय चौधरी आदि नजर आयेंगे।
अनिकेत चौधरी के सफल निर्देशन में बनी यह अलबम जल्द फिल्म जगत की जानी मानी कंपनी सोनोटेक कैसेट व मैना कैसेट के माध्यम से रिलीज किया जायेगा। अलबम के सिंगर हैं राहुल व अंकित, प्रोड्यूसर हिरनोटी फिल्म स्टूडियो ग्रुप के सदस्य, प्रचार प्रसार की जिम्मेदारी संभाली है। बृजलोक साहित्य, कला, संस्कृति अकादमी (आगरा) ने।
गौरतलब है कि हिरनोटी फिल्म स्टूडियो ग्रुप ने अब तक तमाम अलबमों व शॉर्ट फिल्मों का सफल निर्माण किया है और हमेशा नये चेहरों को प्राथमिकता दी जाती रही है। इसबार भी आगरा, इलाहाबाद, हापुड सहित देशभर से नये चेहरों को फिल्म जगत में अलबम के माध्यम से उतारा गया है। § Read_More....

Read More »

भैय्या जी सुपरहिट में एक बंगाली लेखक का रोल निभाएंगे श्रेयस तलपडे

मुंबईः जन सामना ब्यूरो। व्यावसायिक रूप से सफल ब्लॉकबस्टर गोलमाल अगेन में दिखे अभिनेता श्रेयस तलपडे जल्द ही भैय्या जी सुपरहिट नाम की आगामी एक्शन कॉमेडी फिल्म के लिए तैयार हैं। फिल्म में शानदार कलाकार शामिल हैं और इसमें श्रेयस का एक बंगाली लेखक के रूप में एक प्रमुख किरदार है।
श्रेयस, जो अपने किरदार की आत्मा में समा जाने के लिए जाने जाते हैं, अपने चरित्र के साथ न्याय करने और स्क्रीन पर प्रभावी ढंग से उसे चित्रित करने के लिए बंगाली भाषा और उसकी बारीकियों को सीख रहे हैं।
श्रेयस अपने करीबी दोस्त और अभिनेत्री सेलिना जेटली से बंगाली भाषा सीख रहे हैं, जो खुद बंगाली हैं। दोनों ने अतीत में एक साथ काम किया है और आखिरी बार 2009 की फिल्म पेइंग गेस्ट में उन्हें साथ देखा गया था। ये दोनों दोस्त और सह-अभिनेता के रूप में एक मजबूत संबंध साझा करते हैं। इसके अलावा, श्रेयस लेखक अपने चरित्र को समझने के लिए कॉमेडी शैली की कई किताबें और उपन्यास भी पढ़ रहे हैं।
सेलिना के साथ अपनी दोस्ती के बारे में बात करते हुए श्रेयस कहते हैं, गोलमाल रिटर्न्स और पेइंग गेस्ट में काम करते समय हम एक अच्छे दोस्त बन गए थे। पेइंग गेस्ट के लिए शूटिंग करते समय, मेरी पत्नी दीप्ति और सेलिना भी अच्छे दोस्त बन गए थे और अक्सर खरीदारी के लिए साथ बाहर जातीं थी. हम अक्सर एक-दूसरे के घर जाते थे। तभी मुझे पता चला कि सेलिना बहुत अच्छी बंगाली बोलती है और मैं यह जानकर हैरान था. उन्होंने आगे कहा, जब मुझे ये भूमिका मिली, तो सेलिना ही वह पहली व्यक्ति है, जिनका ख्याल मेरे दिमाग में आया. मैं बंगाली भाषा की बोली, बारीकियों, उच्चारण आदि समझना चाहता था। सेलिना और मैं एक शानदार संबंध और दोस्ती साझा करते हैं। उसने मुझे इस भाषा को समझने में काफी मदद की और मुझे बहुत सारे सुझाव दिए, जिससे मुझे अपने चरित्र की तैयारी में मदद मिली। § Read_More....

Read More »

मस्त रहो, व्यस्त रहो और स्वस्थ रहोः मंसूरी

हिंदी फीचर फिल्म “शूद्र अ लव स्टोरी” की शूटिंग के दौरान बनारस में नवोदित फिल्म अभिनेता नबी नूर मंसूरी संक्षिप्त वार्ता मुकेश कुमार ऋषि वर्मा से हुई, उसके कुछ अंश-
मुकेश:- आपने अपने फिल्मी कैरियर की शुरुआत कब और कैसे की थी ?
मंसूरी:- जी, मैंने अपने फिल्मी कैरियर की शुरुआत वर्ष – 2010 में की थी। मुझे बचपन से ही फिल्में देखने का शौक था और मैं एक्टर्स की नकल उतारा करता था। बस तभी से मुझे यह एक्टिंग का शौक लग गया और सच कहूं तो मेरी शुरूआत तो तभी से हो गई थी। (हंसते हुए…)
मुकेश:- आपको पहली फिल्म कब और कैसे मिली ?
मंसूरी:- पहली फिल्म ! पहली फिल्म मुझे मिली थी ‘आजाद इंडिया’ एवं ‘मैरा देश आपडौं’ ये दो एक साथ मिली थीं और दोनों ही लघुफिल्में थीं। खुदा की मेहरबानी से पर्दे की फिल्म मिली ‘बॉम्बे किसकी है’। यह फिल्म मेरे मित्र द्वारा दी गई जानकारी से मिली, मैंने ऑडीशन दिया और मै सेलेक्ट हो गया। उदयपुर (राजस्थान) में मुझे अभिनय का मौका मिला। मैं बहुत – बहुत शुक्रगुजार हूँ अपने उस मित्र का। § Read_More....

Read More »

गली फिल्म में 3 बच्चों के पिता बनेंगे श्रेयस तलपड़े

‘गोलमाल अगेन’ में नजर आ चुके अभिनेता श्रेयस तलपड़े हल्की-फुल्की पारिवारिक कॉमेडी फिल्म ‘तीन दो पांच’ में तीन बच्चों के पिता की भूमिका निभाते दिखाई देंगे। यह फिल्म शादीशुदा जोड़े पर आधारित है, जिनके तीन बच्चे हैं और उनकी देखभाल करते हुए उन्हें किन समस्याओं और चुनौतियों का सामना करना पड़ा।
श्रेयस का मानना है कि यह दिलचस्प किरदार है, क्योंकि इसमें उन कठिनाइयों को दिखाया गया है, जो आज के दौर में माता-पिता बच्चों को संभालते हुए अनुभव कर रहे हैं।
अपनी भूमिका के बारे में उन्होंने कहा, “‘तीन दो पांच’ एक जोड़े की उतार-चढ़ाव वाली यात्रा है, जो तीन बच्चों को गोद लेता है। इस तरह कहानी में बड़ा ट्विस्ट आता है। इसमें दिखाया गया है कि यह जोड़ा किस तरह इन बच्चों को संभालता है।”
फिल्म में श्रेयस के साथ बिदिता बाग दिखेंगी। इस फिल्म के साथ गीतकार अमिताभ वर्मा ने निर्देशन के क्षेत्र में कदम रखा है। § Read_More....

Read More »

आयुष शर्मा को आती है पहाड़ों की याद

हिमाचल प्रदेश के मंडी से आने वाले आयुष शर्मा का जन्म एक छोटे शहर में हुआ था। लेकिन वह अपनी स्कूली शिक्षा के लिए दिल्ली चले आए थे। फिर भी, इस युवा डेब्यूटांट एक्टर के दिल में मंडी हमेशा बसता है। भले ही वह मुंबई में रह रहे हैं, लेकिन हर बार मंडी जाना उनके लिए एक सुखद अनुभव होता है। असल में वह मंडी में अपनी किसी एक फिल्म को शूट करने को लेकर भी उत्सुक हैं। वह मंडी की सुगन्ध और मौलिकता को फिल्मी पर्दे पर उतारना चाहते हैं।
मंडी से ताल्लुक रखने वाला उनका परिवार पीढ़ियों से राजनीति में हैं और कइयों के मुताबिक आयुष भी राजनीति में आ सकते है।
हालांकि, अभी आयुष केवल एक्टिंग के क्षेत्र में ही सक्रिय हैं। आयुष कहते हैं, ’’मंडी से मुंबई की यात्रा बहुत दिलचस्प रही है। मैं मुंबई में रहते हुए आशा निराशा के कई दौर से गुजर चुका हूं। हालांकि, मुंबई अब मेरा घर बन गया है। लेकिन मैं हमेशा मंडी का लड़का बना रहूंगा। जब मैं ट्यूबलाइट फिल्म के लिए असिस्ट कर रहा था, तब हमने पूरे हिमाचल की यात्रा की। लेकिन मंडी में शूटिंग करना मेरे लिए बहुत खास होगा। मेरी आने वाली फिल्म लवरात्रि की एक स्पेशल स्क्रीनिंग भी मंडी में करना चाहूंगा, क्योंकि मंडी में अपने लोगों के साथ इसे देखना मेरे लिए बहुत खास होगा’’ § Read_More....

Read More »

हनुमान बनाम महिरावण रामायण की एक्शन, साहस और रहस्य से भरी एक अनकही कहानी हैः डॉ एजिल वेंदन, निर्देशक

‘‘साक्षात्कार’’
⇒गेमिंग से फिल्मों तक, कैसा रहा ये बदलाव?
गमाया की स्थापना भारतीय संस्कृति और विरासत को हमारे बच्चों जान सके, इस सिद्धांत के साथ स्थापित किया गया था। हम बच्चों को भारतीय पौराणिक कथाओं और विरासत तक ले जाना चाहते थे। हम ये सब मनोरंजक और खेल के रूप में लाना चाहते थे। जब हमने गमाया लिजेंड गेम्स पर काम किया, जिसमें रामायण के पात्र हैं, तो हमें लगा कि गेम को बढ़ावा देने के लिए वीडियो बनाने की जरूरत है। वीडियो बनाने की प्रक्रिया ने फिल्म बनाने के विचार को जन्म दिया। हनुमान बनाम महिरावण रामायण की एक्शन, साहस और रहस्य से भरी एक अनकही कहानी है, इसलिए हमने इसे शुरू किया।
फिल्म बनाना हमेशा से मेरी आकांक्षा रही है। गेमिंग ने प्रोड्क्शन के लिए एक ठोस आधार बनाया, जो समय और बजट बाधाओं के भीतर फिल्म को वितरित करने में महत्वपूर्ण रहा है।
ये बदलाव सुखद रहा है। उदाहरण के लिए, अगर हमें एक दृश्य में कई पात्रों को एक साथ शूट करना है, जिसमें बहुत सारे पेड़ हैं, तो सामान्य फिल्म दृष्टिकोण ये होता है कि शॉट के हर पहलू में ज्यादा विस्तार हो. ये एक महान शॉट हो सकता है। लेकिन, ऐसे जटिल दृश्यों को प्रबंधित कर उन्हें प्रस्तुत करने में जो व्यावहारिक दिक्कतें है, वो हमें नीचे भी गिरा सकती है. इसके बजाए, हमने कैमरे और प्रकाश से दूरी के आधार पर पात्रों के विभिन्न स्तरों को शामिल करने के लिए गेमिंग तकनीक का उपयोग किया। इसलिए, दोनों क्षेत्रों के बारे में मेरे ज्ञान ने मुझे इस फिल्म के लिए आवश्यक गुणवत्ता और संसाधनों के बीच संतुलन बनाने में मदद की।
⇒यह एक बहु-देशीय परियोजना है, क्या यह चुनौतीपूर्ण था?
हां, यह चुनौतीपूर्ण और रोमांचक था. हनुमान बनाम महिरावण 5 देशों में बनाई गई है। हमने जापान, ऑस्ट्रेलिया, मेक्सिको, भारत और यूएसए के विभिन्न कलाकारों और स्टूडियो के साथ काम किया है।
इसके अलावा, बाहरी टीमों से एक्टिंग, एनीमेशन और चरित्र गुणवत्ता प्राप्त करना सबसे बड़ी चुनौती थी। विभिन्न टीमों से कम्युनिकेट करने के लिए दृढ़ संकल्प की आवश्यकता होती है। मुझे व्यक्तिगत रूप से विभिन्न पात्रों के विभिन्न मूड, अभिव्यक्तियों और शरीर के रूपों को समझाने के लिए एनिमेटेड फ्रेम पर काम करना पड़ा. मैं विस्तृत प्रतिक्रिया भी भेजूंगा, ताकि टीम हमारी इच्छा और प्रत्येक शॉट के निर्देशों को बेहतर ढंग से समझ सके. मुझे यकीन है कि सर्वोत्तम गुणवत्ता पाने के लिए जो दबाव होता है, उससे कुछ टीमें निराश होती है, लेकिन मैं इन टीमों के धैर्य के लिए आभारी हूं। मेरे दिमाग में एक निश्चित मानक सेट था, जिस पर मैंने काम किया था. लेकिन जब भी आवश्यकता हो, मैं हमेशा सुधार के लिए तैयार था। § Read_More....

Read More »

वेस एंडरसन की आइल ऑफ डॉग्स भारत में जुलाई को रिलीज होगी

वितरण कंपनी रनअवे-ल्यूमिनोसिटी के माध्यम से फॉक्स स्टार स्टूडियो भारत में फिल्म रिलीज करेगा
‘आइल ऑफ डॉग्स’ में ऑल-स्टार वॉयस कास्ट है, ब्रायन क्रैनस्टन से स्कारलेट जोहानसन तक
मुम्बई। दुनिया भर में दर्शकों का मन जीतने के बाद, वेस एंडरसन की नवीनतम कृति आइल ऑफ डॉग्स विशेष वितरण कंपनी रनअवे-ल्यूमिनोसिटी के माध्यम से फॉक्स स्टार स्टूडियो द्वारा जुलाई 6 को भारत भर के सिनेमाघरों में रिलीज की जाएगी। आइल ऑफ डॉग्सश् को वेस एंडरसन की सबसे कलात्मक और विस्तृत फिल्म के रूप में बताया जा रहा है। रॉयल टेनेनबाम्स और फैंटास्टिक मिस्टर फॉक्स के जरिए दर्शकों को आकर्षित करने के बाद और हाल ही में द ग्रैंड बुडापेस्ट होटल के लिए प्रशंसित निर्देशक वेस एंडरसन अपने नवीनतम फिल्म आइल ऑफ डॉग्स के साथ हॉलीवुड में धूम मचा रहे है।
फिल्म में ऑल-स्टार वॉयस कास्ट है, जिसमें ब्रायन क्रैनस्टन (ब्रेकिंग बैड), स्कारलेट जोहानसन (लुसी), योको ओनो, बिल मरे (लॉस्ट इन ट्रांसलेशन), फ्रांसिस मैकडॉर्मैंड (थ्री बिलबोर्ड आउटसाइड एबिंग, मिसौरी) और लेव श्रेबर (एक्स-मेन) शामिल है।
आइल ऑफ डॉग्सश् एक एनिमेटेड स्टॉप मोशन कॉमेडी फिल्म है, जो जापान में एक द्वीप पर सेट है। ये एक अत्याचारी मेयर द्वारा शहर के बाहर कूड़ेदान से बना है. जैसा कि शीर्षक से पता चलता है कि फिल्म कुत्तों के एक घबराए हुए झुंड को ले कर है, जो जापान में कैनिन फ्लू फैलने से अपने द्वीप से निर्वासित हो जाते हैं।
वेस एंडरसन द्वारा निर्देशित, आइल ऑफ डॉग्स 6 जुलाई, 2018 को स्पेशियलिटी डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी रनअवे-ल्यूमिनोसिटी डिस्ट्रीब्यूशन द्वारा पूरे भारत के सिनेमाघरों में रिलीज होगी. § Read_More....

Read More »

बच्चों को सुपरकिड शिवा के साथ एक स्पेशल समर एडवेंचर पर जाने का मौका मिलेगा

कानपुर, स्वप्निल तिवारी। 2018ः छुट्टियों के मौसम में बच्चों को अपने चहेते सुपरकिड शिवा के साथ एक स्पेशल समर एडवेंचर पर जाने का मौका मिलेगा। टेलीविजन के लिये अपनी पहली फिल्म ‘सुपरकिड शिवा’ को मिली अत्यधिक लोकप्रियता के बाद, वह एक और लुभावनी फिल्म लाने को तैयार है। यह दिमाग को चकरा देने वाले और रोमांचकारी खोज, ‘शिवा एंड द लाॅस्ट ट्राइब’ के साथ एक बार फिर हाजिर है। यह फिल्म अपने नन्हे दर्शकों को आकर्षित करेगी। अद्भुत हुनर, बुद्धिमानी और क्षमता वाला यह सच्चा हीरो अपने दोस्तों के गैंग और अपनी सुपर बाइक्स के साथ, रविवार 3 जून, 2018 को निकलोडियन पर सुबह, 11.30 बजे एक मिशन पर निकलने वाले हैं। शिवा और उसके साथियों इस सफर के जरिये उस अजीबोगरीब और अद्भुत रोते हुए पहाड़ के रहस्य को सुलझाने के मिशन पर हैं। इस दौरान उनकी मुलाकत लुप्त हो चुके प्राचीन काल के हुडुडु कबीले के एक वंशज से होती है। वह उसे प्रकृति को नियंत्रित करने की दिव्य शक्ति देता है, जिससे वे सभी खतरे में पड़ जाते हैं क्योंकि दुष्ट वैज्ञानिक, ‘डैनी डेंजर’ अपने शैतानी फायदों के लिये उनकी शक्तियां छीन लेना चाहता है। क्या सुपरकिड शिवा डैनी डेंजर को रोकने और कबीले को उसके चंगुल से निकालने में कामयाब हो पायेगा? वह दुष्ट अपने इरादों को अंजाम ना दे पाये, इसके लिये शिवा हर संभव कोशिश करता है। तो फिर तैयार हो जाइये ‘शिवा एंड द लाॅस्ट ट्राइब’ के साथ एक रोमांचक सफर पर जाने के लिये। § Read_More....

Read More »

’कृष्णा चली लंदन’ धारावाहिक का शुभारंभ

उत्तराखंड के हरिद्वार जिले के छोटे से गांव भगवानपुर से निकलकर मायानगरी मुम्बई में निर्देशन के क्षेत्र में अपनी अलग और सशक्त पहचान बना चुके इस चमकते सितारे का नाम है ’रवित कुमार त्यागी’।
आज स्टार प्लस पर जिस सीरियल को देखने की लोगों में जबर्दस्त उत्सुकता है उसका नाम है ’कृष्णा चली लंदन’ और आपको यह जानकर बहुत खुशी होगी कि इस चर्चित सीरियल का निर्देशन किया जाने माने निर्देशक रवित कुमार त्यागी ने।
हम से बातचीत में रवित ने बताया कि इस सीरियल परीन मल्टीमीडिया प्राइवेट लिमिटेड के बैनर तले बनाया गया है। इस सीरियल के प्रोड्यूसर- सौरभ तिवारी, केवल सेठी और सुमित चैधरी और मुख्य भूमिका में राधेलाल शुक्ला- गौरव सारेन, कृष्णा – मेघा चक्रवर्ती हैं। उन्होंने यह भी बताया कि खट्टी- मीठी नोकझोंक और फैमिली ड्रामे से लिपटी पटकथा अमीर घराने के राधे लाल शुक्ला किरदार के चारो ओर घूमती हुई उसकी शादी कृष्णा से होती है। जिसका सपना डॉक्टर बनने का है। उ.प्र. कानपुर शहर के लड़के की कहानी जोकि प्यार और तकरार के मोतियों से बुनी है। दर्शकों को कितनी पसंद आती है, इसका रवित कुमार त्यागी को बेसब्री से इंतजार है। उन्होंने बताया कि इस सीरियल का प्रसारण स्टार प्लस पर 21 मई रात नौ बजे से हो चुका है। § Read_More....

Read More »

फॉर्बिडेन अमेरिका में ऑनर किलिंग की बदसूरत सच्चाई का खुलासा करती है

⇒न्यूयॉर्क इंडियन फिल्म फेस्टिवल 2018 में प्रीमियर में अमेरिकी दर्शकों को किया सन्न, वास्तविक जीवन की कहानी से प्रेरित है फॉर्बिडेन
मुंबईः जन सामना ब्यूरो। अभिनेत्री सलोनी लूथरा की आने वाली थ्रिलर श्फॉर्बिडेनश् अंतरराष्ट्रीय फिल्म सर्किट में एक आंख खोलने वाली फिल्म है। ये फिल्म पश्चिमी दुनिया में ऑनर किलिंग की सच्चाई उजागर करती है.। अभिनेत्री सलोनी लूथरा ने लगातार अपने आकर्षक और शानदार प्रदर्शन से दर्शकों और आलोचकों का मन जीता है। सलोनी ने फिल्म में मुख्य किरदार निभाया हैं।
फॉर्बिडेन जसलिन नाम की एक लड़की की सच्ची कहानी पर आधारित है, जो न्यूयॉर्क में पैदा हुई और पेशे से एक डॉक्टर थी। उसने 25 साल की उम्र में अपना जीवन खो दिया था।
सलोनी लूथरा कहती हैं, फॉर्बिडेन न्यूयॉर्क शहर में पैदा हुई एक बहुत ही साहसी लड़की की एक सच्ची जिंदगी की प्रेम कहानी है । उसे अपने दिल की आवाज सुनने की कीमत चुकानी पडी थी। ऑनर किलिंग का मुद्दा सिर्फ तीसरी दुनिया की समस्या नहीं है. यह सीमाओं, धर्मों और समाज के हर वर्ग में मौजूद है। इस फिल्म के साथ, मैं आशा करती हूं और प्रार्थना करती हूं कि मैं इस साहसी लड़की की जीवन की कहानी के साथ न्याय कर सकूं। इस फिल्म का मिशन अपने मूल देशों के बाहर रहने वाली महिलाओं के खिलाफ होने वाली हिंसा को समाप्त करना है। इसके अलावा, यह एक सामाजिक परिवर्तन को भी प्रेरित करना चाहता, जिससे कि कानून ऐसे अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए मजबूर हो जाए, जो सम्मान के नाम पर महिलाओं के खिलाफ गंभीर अपराध करते हैं।
वीमेन एडवोकेसी ग्रुप के निष्कर्ष के अनुसार, ऑनर किलिंग के कारण हर साल 20,000 महिलाएं और लड़कियां मारी जाती हैं। यूनाइटेड नेशंस कमिशन ऑन ह्यूमन राइट्स को प्रस्तुत रिपोर्ट से पता चलता है कि कम से कम 26 देशों में ये क्रूर प्रथा जारी है। 26 में से 9 पश्चिमी देश हैं। इसमें अमेरिका, कनाडा, यूनाइटेड किंगडम और जर्मनी भी शामिल हैं, जहां आप्रवासी समुदाय की संख्या बहुत अधिक है। § Read_More....

Read More »

Responsive WordPress Theme Freetheme wordpress magazine responsive freetheme wordpress news responsive freeWORDPRESS PLUGIN PREMIUM FREEDownload theme freeDownload html5 theme free - HTML templates Free Top 100+ Premium WordPress Themes for 2017 Null24Món ngon chữa bệnhCây thuốc chữa bệnhNấm đông trùng hạ thảo