Home » मुख्य समाचार » अंग्रेजी को भागना होगा, हिन्दी को लाना होगा-डा. सिंघल

अंग्रेजी को भागना होगा, हिन्दी को लाना होगा-डा. सिंघल

हाथरस, जन सामना ब्यूरो। लायंस क्लब जोन की बैठक यहां आगरा रोड स्थित अग्रसैन कालौनी में हुई।
बैठक में डिस्ट्रिक गवर्नर लायन डा. चन्द्रप्रकाश सिंघल (आगरा) ने मानव सेवा सच्ची सेवा का नारा देते हुये कहा कि हमारे क्लब ऐसे कार्य करे जिसका पैगाम पूरे देश को जाये। गरीबों की मदद व उनके लिये कार्य करे। आपका सहयोग हम जोन के रूप में देंगे। उन्होंने कहा कि अंग्रेजी को भागना होगा, हिन्दी को लाना होगा। हमारी राष्ट्रभाषा हिन्दी है। भारत वर्ष से लेकर विदेशों तक हमारी भाषा हिन्दी को सार्थक करना है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर सरकारी व गैर सरकारी विभागों में हिन्दी भाषा को वरीयता व अनिवार्यता करने की मांग की है।
लायन डा. सिंघल ने हाथरस जनपद में लायन की तीन शाखाओं के चलने पर नाराजगी व्यक्त करते हुये चेतावनी दी कि भविष्य में कम से कम तीन से सात शाखायें क्लब की होनी चाहिये। ये शाखायें आपस में परस्पर रूप से एक दूसरे का सहयोग करें। तभी लायंस का नाम रोशन हो सकेगा। मेरा यह प्रयास रहेगा कि हाथरस का प्रतिनिधित्व राष्ट्रीय कार्यकारिणी में हो। क्लब की समस्याओं से डा. सिंघल को अवगत कराया गया। उन्होंने उक्त समस्याओं के निदान के लिये हाईकमान को अवगत कराने व निदान कराने का आश्वासन दिया।
इससे पूर्व डा. सिंघल का स्वागत किया गया तथा कार्यक्रम का शुभारंभ डा. सिंघल ने मां सरस्वती के छविचित्र पर माल्यार्पण कर व दीप प्रज्जवलित कर हुआ।
इस अवसर पर श्यामबिहारी अग्रवाल, नवल किशोर (लल्ला सर्राफ), विनोद अग्रवाल, पीयूष गुप्ता एड., रिषी बिन्दल, संजीव लोहिया, आनन्द गुप्ता, अशोक कुमार अग्रवाल, राकेश गौड़, अनुज माहेश्वरी आदि के अलावा कासगंज, बुलन्दशहर, आगरा के लायंस बंधु भी उपस्थित थे।