Home » महिला जगत » मनमुताबिक करें स्किन की टोनिंग

मनमुताबिक करें स्किन की टोनिंग

फेस को केवल फेस वाश से धो लेना ही बहुत नहीं है। आपके फेस को चाहिये फेस की टोनिंग जिससे आपकी फेस स्किन निखरे और फेस स्किन का पी एच फैक्टर लेवल रहे।
आइये जानते है इसके बारे में ‘जन सामना’ की ब्यूटी एडवाइजर व सी डब्लू सी ब्यूटी एंड मेकअप स्टूडियो की सेलिब्रिटी ब्यूटी एंड मेकअप एक्सपर्ट शालिनी योगेन्द्र गुप्ता से।
टोनर के बारे में लोग मेरे हिसाब से इतना जानते है कि टोनर का यूज मेकअप को रिमूव और स्किन का तेलियपन को साफ करने के लिए किया जाता है पर टोनर के लिए मै कहती हूं TONER IS THE FIRST IMPRESSION OF THE FACE बस इसके लिए टोनर का सही प्रयोग और स्किन पर कौन सा टोनर सूट करेगा । ये जानना बहुत जरुरी है
टोनर लिक्विड फार्म में ज्यादा यूज किया जाता है इसमें अल्कोहल बहुत की कम मात्रा में होता है इसमें ऐसे एलीमेंट्स होते है जो स्किन को नम बनाये रखते हैं। टोनर स्किन की सफाई स्किन पर जमी हुई धुल स्किन के आॅयली पन और ड्राई नेस को खत्म करता है और स्किन में चमक पैदा करता है और सबसे बड़ा काम ये स्किन के ओपन पोर्सेस को संकुचित करता है और स्किन के पी एच को लेवल करता है और मेरे हिसाब से फेसिअल जब भी करें या करायें तो टोनर जरुर यूज करें फिर देखे फेसिअल का रिजल्ट अपने फेस पर।
टोनर कई प्रकार के होते हैं, जैसे-
स्किन फ्रेशनर्स
स्किन टानिक
एस्त्रजेंट
स्किन फ्रेशनर्सः ये टोनर का सबसे लाइट फाॅर्म है इसमें बिलकुल अल्कोहल नहीं होता है इसमें गिल्सरीन और वाटर होता है इस वजह से ये स्किन में माइस्चराइजर बनाये रखता है रोज वाटर सबसे अच्छा स्किन फ्रेशनर्स टोनर है।
स्किन टानिकः इसमें अल्कोहल की मात्रा बहुत कम पाई जाती है। आॅरेंज वाटर एक जबरदस्त स्किन टाॅनिक है।
एस्त्रजेंटः यह टोनर का सबसे पाॅवर फुल फाॅर्म है। इसमें काफी अल्कोहल होता है। इस टोनर में पानी, ग्लिसरीन और एंटीसेप्टिक एलिमेंट्स होते हैं जो स्किन को दाग धब्बों और डीहाईड्रेसन से बचाता है।
मुंहासों को दूर करने के लिये नीम, पोदीना और तुलसी फायदेमंद हैं। तकरीबन 50-60 पत्तियों को 3 कप भर पानी में उबालें। इस पानी से चेहरा धोये या इसे बाल्टी में डालकर नहाएं या इसे स्किन टोनर के रूप में उपयोग करें। इससे चेहरे के वाइट हेड्स, मुंहासे या किसी तरह के संक्रमण दूर हो जाते हैं। अगर आप रूसी या बाल झङने से परेशान हैं, तो इस टोनर को हेअर टोनर के रूप मे इस्तेमाल कर सकती हैं। शैंपू करने के बाद पानी से भरे मग में इसे डाले और इस पानी से बालों को अच्छी तरह से धो लें। बालों की जङों में किसी तरह का कोई संक्रमण हो, तो फौरन आराम मिल जायेगा और बाल झङने बंद हो जायेंगे।
यदि प्राॅपर टोनर आप स्किन के हिसाब से यूज करो तो बहुत फायदे हैं।
स्किन का पी एच फैक्टर बेलेंस करता है।
स्किन के ओपन पोर्सेस को बन्द करता है।
फाइन लाइन्स और लाफ लाइन्स को खत्म करता है।
स्किन को साॅफ्ट और साफ सुथरी रखता है।
स्किन को धूल गर्दा से बचाता है और मेकअप को रिमूव करता है।
तो बस कीजिये अपनी फेस की टोंनिंग अपने स्किन के अनुसार के टोनर से ।