Friday, October 19, 2018
Breaking News
Home » मुख्य समाचार » गणपत बप्पा मोरया के जयकारों के साथ किया गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन

गणपत बप्पा मोरया के जयकारों के साथ किया गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन

शिवली, कानपुर देहातः संवाददाता। बम भोला समिति की ओर से कस्बा के प्राचीन मंदिर माँ अथैया माता दरबार में गणेश विर्सजन का आयोजन किया गया।
इस दौरान बड़ी संख्या में लोग भक्तिगीतों पर झूमते रहे। इस दौरान बीच बीच में गणपति बप्पा मोरिया के जयकारे लगते रहे। पुरुषों महिलओं सहित नव युवकों ने गणपति बप्पा को नाच गाने के साथ विदा किया और जयकारे लगाते रहे कि गणपति बप्पा अब की बरस जल्दी आना। यात्रा में भक्तगण रंग गुलाल की बौछार करते रहे। गणेश महोत्सव के समापन पर शोभायात्रा निकली गयी। अथैया देवी मंदिर प्रांगण में स्थापित गणेश जी की मूर्तियों सहित साकेत नगर मोहल्ले में श्री साकेत बिहारी मंदिर धाम परिसर में साकेत भक्ति परिषद के कार्यकर्ताओं द्वारा स्थापित गणेश भगवान का भक्तो द्वारा हर्षोल्लास के साथ पुष्प हल्दी चंदन रोली अक्षत यज्ञोपवीत इत्यादि समर्पित कर श्रद्धापूर्वक भोग लगाया गया और प्रसाद वितरण कर अलग अलग स्थानों पर गणेश चतुर्थी के पर्व पर 19 सितम्बर दिन बुधवार को प्रतिष्ठित की गई गौरीनंदन गजानन महाराज की मूर्तियां सिद्धपीठ अथैइया माता दरबार परिसर में एकत्र हुईं और विशाल गणपति विसर्जन यात्रा का सिलसिला शुरू हुआ जो कारवां बनता चला गया गणेश भक्त अबीर गुलाल उड़ा रहे थे और डी जे की धुनों पर थिरक रहे थे इधर विसर्जन यात्रा का कारवां धीरे धीरे नगर के देव स्थानों की परिक्रमा करते हुए शिवली नगर की गलियों से होते नगर भृमण करते हुए विसर्जन यात्रा लाव लश्गर के साथ पांडव नदी तट के निकट स्थित सिद्ध पीठ श्री जागेश्वर धाम पहुंची जहां भारी संख्या में श्रद्धालु गणेश भक्त युवा वृद्ध महिलाएं पुरुष एवं बच्चों ने शिव दरबार में मत्था टेक जमकर अबीर गुलाल उड़ाया और डी जे की धुनों पर जमकर थिरके नगर भृमण पर वाहनों के काफिले के साथ निकली विसर्जन यात्रा ने संपूर्ण नगर का माहौल गजाननमय कर दिया। गणपति बप्पा मोरया अगले वर्ष तू जल्दी आ के जय-जयकारों से नगर के चप्पे चप्पे का माहौल गणेश भक्ति से सरोबार था । गणेश विसर्जन यात्रा का नगर में जगह-जगह रोक कर स्वागत किया गया । श्री जागेश्वर धाम से विसर्जन यात्रा खेरेस्वर धाम पतितपावनी मां गंगा तट पर पहुंची और गणपति बप्पा की पूजा अर्चना के साथ गणपति बप्पा मोरया गणपति बप्पा मोरया अंगले बरस तू जल्दी के जयकरोके बीच भइया गणेश भगवान के श्री विग्रहो को पांडु नदी ठंडी लहरों में प्रवाहित कर दिया गया । बताते चलें कि शिवली नगर में प्रायः धार्मिक अनुष्ठान सम्पन्न हुआ करते हैं कही श्रीरामचरित मानस पाठ तो कही श्रीमद्भागवत कथा तो कही जागरण तो कही रुद्राभिषेक तो कभी फूलो का श्रृंगार तो कभी रामलीलाओं का मंचन ये सब तो जैसे शिवली नगर की रज-रज में रच बस गया है लेकिन 7 दिन तक चले गणेशमहोत्सव कार्यक्रम से नगर का वातावरण भक्ति गंगा से सरोबार रहा । विसर्जन यात्रा के मौके पर प्रमुख रूप से बमभोला सेवा समिति, बाल गोपाल मानस मंडल श्री साकेत भक्ति परिषद गणेश महोत्सव समिति के पदाधिकारियों सहित हजारों नगरवासी गणेश भक्तगण रामजी अध्यक्ष गणेश महोत्सव, नीलू अवस्थी, आशीष शुक्ल, शुभम बाजपेई, सनी शुक्ल, बिल्लू, शीटू, नीरज वर्मा, धीरज, अंकित, आयुष, शिवशंकर, पिंटू, सुरेन्द्र यादव, ओम सविता, क्षमा अवस्थी, पूजा, शिवानी, प्रियांशी, रवि, रिंकू आदि भक्त गण मौजूद रहे ।