Friday, April 26, 2019
Breaking News
Home » मनोरंजन » सर्कस कलाकार डेयरडेविल हैंः श्वेता त्रिपाठी

सर्कस कलाकार डेयरडेविल हैंः श्वेता त्रिपाठी

मिर्जापुर । वेब शो मिर्जापुर में अपने प्रदर्शन के लिए मिली प्रशंसा के बाद, अभिनेत्री श्वेता त्रिपाठी राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता लेखक राजू मुरुगन के रोमांस ड्रामा सर्कस के साथतमिल फिल्म में शुरुआत करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।
मेहन्दी, जो एक सर्कस कलाकार है, का कैरेक्टर निभा रही श्वेता ने इसके लिए असल में सर्कस कलाकारों से प्रशिक्षण लिया है।
अपनी ट्रेनिंग के बारे में बात करते हुए श्वेता कहती हैं, “मैं वाकई उत्साहित हूं क्योंकि यह मेरी पहली तमिल फिल्म है। असल सर्कस कलाकारों से प्रशिक्षण लेना एक बहुत बड़ी सीख थी। मैं हमेशा किताबों और शो से जाना था कि सर्कस कलाकारों का जीवन आसान नहीं होता है, लेकिन उनके साथ समय बिताने और उनसे सीखने ने उनके द्वारा निरंतर जीवन और मौत के बीच जूझने के संघर्ष का एहसास कराया। उनके पास अच्छी गुणवत्ता वाले सुरक्षा उपकरण नहीं होते हैं, जो अंतर्राष्ट्रीय कलाकार के पास होते हैं। बावजूद इसके उनका काम काफी प्रेरणादायक है।
श्वेता ने विभिन्न राज्यों के पेशेवरों से प्रशिक्षण लिया. तमिलनाडु के थेनी जिले से आए कलाकारों ने श्वेता को एक जोखिम भरे स्टंट के लिए प्रशिक्षित किया।
श्वेता कहती हैं, “मैंने तमिलनाडु के चिन्नमन्नूर और मदुरै के असल सर्कस कलाकारों से प्रशिक्षण लिया। इसका नाम राजा सर्कस था। मैंने चलने और झुकने जैसी छोटी बारीकियों का अभ्यास किया. मैंने चाकू फेंकना भी सीख लिया है। हालांकि मुझे यह फिल्म में नहीं करना है, लेकिन कभी-कभी मुझे लगता है कि एक्ट के हर पहलू को जानना और समझना बहुत महत्वपूर्ण है।” 90 के दशक में सेट की गई एक प्रेम कहानी, मेहंदी सर्कस, सर्कर ट्रूप की एक लड़की और कोडाइकनाल के एक नौजवान के बीच के रिश्ते पर केंद्रित है। एक यात्रा के दौरान सर्कस ट्रूप जब कोडाइकनाल जाती है, तो यह प्रेम कहानी पनपती है। यह फिल्म तमिलनाडु में लुप्त हो रही परंपराओं में से एक पर आधारित है।