Home » 2017 » March » 01

Daily Archives: 1st March 2017

आग पीड़ितों को बांटी खाद्य सामग्री

2017.03.01.4 ssp awadheshकानपुर, जन सामना संवाददाता। छोटा मंगलपुर गांव में अखिल भारतीय कूर्मि क्षत्रिय महासभा, कानपुर नगर इकाई ने राहत सामग्री वितरण की।
विदित हो की कुछ दिन पहले इसी गाँव में आग लग जाने से 48 घर पूरी तरह जलकर खाक हो गए थे कुछ भी सामान नहीं बचा था।
महासभा के जिलाध्यक्ष अवधेश कटियार ने बताया कि महासभा ने प्रति परिवार को 2 किलो आटा, 2 किलो आलू, 1 किलो चावल, 1 पैकेट नमक, 1 पैकेट बिस्किट, 1 जार वितरित किए।
महासभा ने 50 परिवार के हिसाब राशन वितरित किया, पीड़ित परिवार के लोग राहत सामग्री पाकर बहुत खुश हुए उनकी आँखों से मानो दुआएं निकल रहीं हो ऐसा लग रहा था। § Read_More....

Read More »

गांवों की जमीनों पर केडीए बनायेगा आवास

2017.03.01.3 ssp kdaकमल मिश्रा की विशेष रिपोर्ट:-
कानपुर। शहर में आवास की बढती मांग को देखते हुए केडीए ने शहर के आस-पास स्थित गांवों की जमीनों पर नजरे गड़ा दी है। गांवों में जमीनों पर नजर रखने के लिए टीमें बनाई गयी हैं जो ग्राम समाज की जगह को चिन्हित करेगी और ऐसी जमीनों पर जो कब्जे है उन्हे उखाड़ फेंकेगी। बताया जाता है कि खाली जगहों पर छोटी-छोटी परियोजनाएं विकसित की जायेगी। शहर में लगे राजस्व गांव बारा सिरोही, सिंहपुर कछार, बैरी, अकबरपुर, बांगर, देहली सुजानपुर, बिनगवां, अर्रा, खाडेपुर, चकेरी, अहिरंवा, बर्रा, पनकी, गंगागंज आद में ग्राम समाज की भूमि पर बने अवैध निर्माण को हटवाया जायेगा। इसके लिए तहसीलदारों को जिम्मेदारी सौंपी जा चुकी है। उन्हें एक पखवारे में सर्वे करके जमीनों के बारे में जानकारी देनी है। केडीए बीच बीच में किसानों की आ रही जमीनों को भी लेने की तैयारी कर रहा है जवाहरपुरम व कपली, माती में किसानों से बात चल रही है। § Read_More....

Read More »

थ्योरी ऑफ टीचिंग पर व्याख्यान का आयोजन

2017.03.01.3 ssp dg pg collegeकानपुर नगर, कमल मिश्रा। दयानंद गर्ल्स पीजी कॉलेज में शिक्षा विभाग द्वारा व्याख्यान का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विषय स्कूल इंटर्नशिप कनेक्टिंग थ्योरी ऑफ टीचिंग टू द प्रैक्टिस ऑफ टीचिंग पर चर्चा की गयी। मुख्य वक्ता डा0 मनीष कुमार ने विस्तार पर विषय पर अपने विचार प्रस्तुत किया कि छात्राओं को इंटर्नश्ज्ञिप करते समय थ्योरी और प्रशिक्षण के मध्य किस प्रकार समन्वय स्थापित करे। छात्राओं ने भी र्चा में बडे उत्साह से भाल लिया। इस दौरान डा0 गीतांली, तथा बीएड विभाग की समस्त प्रवक्ताओं ने भाग लिया जिसमें डा0 सबीहा अंजुम, बीनू आनंद, डा0 ऊषा शुक्ला आदि उपस्थित रहे। § Read_More....

Read More »

जल स्तर में गिरावट, हो सकता है जल संकट

कानपुर नगर, जन सामना संवाददाता। गंगा का जल स्तर लगातार गिरता जा रहा है जिससे आने वाले समय में शहर को पानी की समस्या से जूझना पडेगा। मौजूदा हालातों में भी पानी की कमी महसूस की जाने लगी है वहीं कई क्षेत्रों में गंदे पानी सप्लाई की समस्या बढ़ गयी है। हालत यही रही तो आने वाले कुछ ही दिनों में ड्रेजर मशीन द्वारा भी पानी खींचना मुश्किल हो जायेगा, जिससे भैंरो घाट से जलापूर्ति ठप्प भी हो सकती है। भैरोंघाट पंपिग स्टेशन से शहर को प्रतिदिन 20 करोड लीटर पानी की सप्लाई होती है। वहीं जलकल महाप्रबंधक आरपी सिंह सलूजा ने सिचाई विभाग को पत्र लिखकर बैराज से गंगा में पानी छोडने की गुजारिश की थी। गंगा का जल स्तर बीते दिनों एक फिट तीन इंच गिरने से गंगा की मुख्य धारा भैरोघाट पंपिंग स्टेशन से और दूर हो गयी। फिलहाल जलापूर्ति के लिए जलकल विभाग प्रयासरत है लेकिन यदि दो-चार इंच और जल स्तर में गिरावट आती है तो समस्या गंभीर हो जोगी और ऐसे में भैरोंघाट से पानी की आपूर्ति ठप्प हो जायेगी। बताया जाता है कि भैरोघाट पंपिंग स्टेशन के पास गंगा का जल स्तर 356.5 फिट से नीचे नही होना चाहिए। § Read_More....

Read More »

जिला प्रशासन के संरक्षण में मानकों को ताक पर रख चल रहे स्कूली वाहन

2017.03.01.3 ssp school student vanकानपुर, जन सामना संवाददाता। एटा में स्कूली बस पलटने से कई बच्चों की जान चली गयी थी। हादसे के बाद हमेशा की तरह प्रशासन की नींद टूटी लेकिन जल्द ही प्रशासन फिर सो गया। बच्चों के प्रति स्कूल प्रबंधन और जिला प्रशासन संवेदनशील नही है। नतीजा यह कि एक बार फिर बीते सोमवार को हुए हादसे कई बच्चों की जान पर आफत आती दिखी। कानपुर के ककवन में स्कूली बस पलट गयी थी जिसमें लगभग दो दर्जन बच्चे सवार थे। ककवन में हुए हादसे में बस चालक की ही लापरवाही सामने आ रही है। अब सवाल यह उठता है कि आखिर क्यों यह बस चालक बस चलाने में पूरी तरह निपुण होते भी या नहीं। चालक को रखने से पहले केवल इनके लाइसेंस को ही देखा जाता है या यह भी परखा जाता है कि इन्हे बस चलानी भी आती है या नहीं। फिलहाल कुछ भी हो लेकिन स्कूल प्रबंधन की लापरवाही के कारण आये दिन ऐसे हादसे सामने आते है, इसमें नन्हे-मुन्नो की जान हमेशा खतरे में बनी रहती है। पिछले हुए हादसे के बाद कुछ समय के लिए सख्ती की गयी थी लेकिन समय बीतने के बाद फिर सबकुछ वैसा ही हो गया। § Read_More....

Read More »

किसानों की रिहाई की मांग, धरना देकर किया घेराव

2017.03.01.2 ssp kisanon ka dharnaचन्दन जायसवाल व स्वप्निल तिवारी की रिपोर्ट-
कानपुर। घाटमपुर के नेवली के किसानों की जमीन अधिग्रहण के मामले में हुई किसानों की गिरफ्तारी के विरोध में आज हजारों किसानों ने शहर में धरना दिया और जिला प्रसासन को खुले लब्जो में चुनौती भी देते हुए रिहाई की मांग की है।
बताते चलें कि आज भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ता हजारों की संख्या में किसान नेता राकेश सिंह टिकैत के नेतृत्व में धरने पर बैठ गए हैं। इनकी मांग है कि इनकी पार्टी के दो किसान नेताओं को कानपुर जेल में बंद रखा गया है उन्हें बिना शर्त के रिहा किया जाय। साथ ही किसानों पर लगाए गए मुकदमें भी वापस लिए जायें। किसानों ने चेतावनी दी कि अगर प्रशासन ने दोनों नेताओं निरंजन राजपूत और विशेखा राजपूत को रिहा नहीं किया तो किसान अपने आंदोलन की नई नीति तय करेंगे। § Read_More....

Read More »

मुद्दों से भटकती राजनीति

JAN SAAMNA PORTAL HEADदेश के पांच राज्यों में विधान सभा चुनावों में अपनी अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए राजनैतिक दलों की नैतिकता पर प्रश्नचिन्ह लगता दिख रहा है। माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों की अवहेलना तो दिख ही रही है लेकिन विकास के मुद्दों से भटकते हुए भी सभी दल दिख रहे हैं। चुनावी रैलियों में हो रही भाषणवाजी से तो यही जाहिर हो रहा है कि नेताओं को विकास की बात करते हुए शायद अपनी कुर्सी पक्की नहीं नजर आ रही बल्कि अपशब्दों व बेमतलब के बयानों को पेश कर जनता के दिलोदिमाग को भटाकाने का प्रयास करने में जरा भी संकोच नहीं कर रहे। बेमतलब की बयानवाजी राज्यस्तरीय नेता ही नहीं कर रहे बल्कि देश के प्रधानमंत्री जी भी कर रहे हैं।
विकास के मुद्दों को दरकिनार कर सपा-कांग्रेस गठबन्धन के प्रचारक नेताओं के साथ ही बसपा, भाजपा सहित सभी दलों के प्रचारक ऐसे शब्दों का प्रयोग कर एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं जिससे ऐसा प्रतीत होता है कि अब विकास का नहीं बल्कि बकवास का दौर चल रहा है। हद तो यहांतक हो गई है कि अब पशुओं के नामों को लेकर बयानवाजी कर नेताओं ने अपनी भाषा की सीमायें ही लांघ दी हैं। वहीं जाति-वर्ग की राजनीति करने से भी नेता जी अपना मौका नहीं गवाना चाह रहे हैं। § Read_More....

Read More »

छात्र/छात्राओं ने बनाये विज्ञान के अदभुत माॅडल

2017.03.01 13 ravijansaamnaजिलाधिकारी अविनाश कृष्ण सिंह ने किया विज्ञान प्रदर्शनी का शुभारम्भ।
हाथरस, नीरज चक्रपाणी। श्यामकुंज स्थित एम0 एल0 डी0 वी0 पब्लिक इण्टर कालेज में विज्ञान प्रदर्शनी का भव्य आयोजन किया गया। जिसमें एम0एल0डी0वी0 के प्राथमिक स्तर, जूनियर स्तर एवं इण्टरमीडिएट स्तर तक लगभग 300 से अधिक बाल वैज्ञानिकों ने अदभुत एवं वैज्ञानिक तकनीकी से पूर्ण माॅडल बनाकर जिलाधिकारी अविनाश कृष्ण सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक जितेन्द्र कुमार मलिक एवं अभिभावकों को चकित कर दिया। इस अवसर पर छात्र/छात्राओं को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी ने शिक्षकों तथा अभिभावकों के निदेशन में बालक/बालिकाओं द्वारा बनाये गये उत्कृष्ट माॅडलों की सराहना करते हुए कहा कि इसी प्रकार से दृढ़ इच्छा शक्ति एवं अनवरत प्रयत्न के द्वारा ये बाल वैज्ञानिक होमी जहाँगीर भाभा, ए0पी0जे0 अब्दुल कलाम, सी0वी0 रमन एवं कल्पना चावला जैसे वैज्ञानिकों के संकल्प को आगे बढ़ाते हुए एक दिन विश्व में भारत की एक पहचान बनायेंगे।  § Read_More....

Read More »

विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया

हाथरस, नीरज चक्रपाणी। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, हाथरस के तत्वावधान में सरस्वती इण्टर कालेज में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट गौरव कुमार ने माॅ सरस्वती के चित्र पर पर माल्यार्पण एवं दीप जलाकर विधिक साक्षरता शिविर का विधिवत शुभारम्भ किया। § Read_More....

Read More »

वर्ष 2017-18 में गेंहू समर्थन मूल्य 1625 रूपये प्रति कुन्तल

2017.03.01 10 ravijansaamnaरवि विपणन वर्ष 2017-18 में गेंहू की खरीद की व्यवस्थायें सुदृढ़ करें अधिकारी व केन्द्र व्यवस्थापक
कानपुर देहात, जन सामना ब्यूरो। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व अमर पाल सिंह ने गेंहू खरीद व्यवस्था पर बैठक ली। उन्होने उपस्थित सभी एसडीएम, जिला विपणन अधिकारी को निर्देश दिये कि जनपद में गेंहू क्रय एजेन्सी व गेंहू क्रय केन्द्रों के माध्यम से किसानों से गेंहू क्रय किया जाना है इसके लिए सभी आवश्यक व्यवस्थायें विपणन स्टाफ, बोरे, धनराशि आदि क्रय एजेन्सियों द्वारा 14 मार्च तक अवश्य कर ले। गेंहू क्रय केन्द्रों पर किसानों की सुख सुविधायें जैसे छाया, दरी, तख्त, पेयजल आदि की व्यवस्था भी सुदृढ़ रहे। क्रय केन्द्रों पर धन, बोरे, कांटा आदि का आकलंन क्रय एजेन्सी प्रभारी अवश्य कर ले। गतवर्ष 1525/- प्रति कुन्तल मूल्य रखा था।  § Read_More....

Read More »