Wednesday, November 14, 2018
Home » 2018 » October » 31

Daily Archives: 31st October 2018

राजा भैया का जन्मदिवस धूमधाम से मनाया

कानपुरः जन सामना संवाददाता। घाटमपुर कस्बे के मूसानगर रोड स्थित जनता शिक्षा संस्थान महाविद्यालय में आज दोपहर जनसत्ता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया का 49 वां जन्मदिवस केक काटकर कार्यकर्ताओं द्धारा धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर वक्ताओं ने उनके लंबे जीवन तथा समाज सेवा की शुभ इच्छाएं व्यक्त की। कार्यक्रम में मुख्य रूप से कुंवर अतुल प्रताप सिंह, अनूप पाल सिंह, बृजभान सिंह, सुमित सेंगर, राजावत राहुल सिंह, अनूप पाल, आशीष पांडे, पिंटू परमार, सत्यम, मुकेश,  अमित, मोनू सिंह, अमर परमार, अवधेश सिंह, राकेश सिंह, अंकित कुमार आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे। § Read_More....

Read More »

प्रभा सनरॉइज इंस्टीट्यूट के छात्र-छात्राओं ने मनाई पटेल जयंती

कानपुरः जन सामना संवाददाता। बिल्हौर कस्बे में जीटी रोड के किनारे स्थित प्रभा सनराइज एजुकेशनल इंस्टीट्यूट के छात्र-छात्राओं ने रन फॉर यूनिटी ष्रैली निकालकर बड़े हर्षोल्लास के साथ सरदार बल्लभ भाई पटेल की जयंती मनाई। इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यवाह व कन्नौज इंटर कॉलेज के सेवानिवृत्त शिक्षक माननीय राम नरेश यादव ने छात्रों को संबोधित किया और सरदार वल्लभ भाई पटेल के जीवन चरित्र पर प्रकाश डाला । सरदार वल्लभ भाई पटेल कौन थे ? और भारतीय लोकतंत्र में उनका क्या योगदान रहा? उन्होंने बताया साम,दाम,दंड,भेद के समुचित प्रदर्शन करने के कारण ही पटेल को लौह पुरुष का सम्मानजनक दर्जा भी दिया गया था कांग्रेस पार्टी की राजनीति में नेहरू से उनकी नोकझोंक होती थी। 1929 में लाहौर कांग्रेस अधिवेशन में अध्यक्ष बनने की दावेदारी को उन्हें गांधी जी के आग्रह पर वापस लेना पड़ा, लेकिन 1931 में कांग्रेस के कराची अधिवेशन के अध्यक्ष चुने गए । नेहरू और उनके विचारों में राजनीतिक मतभेद था और कई बार स्वयं गांधी को मध्यस्थता करनी पड़ी थी। उन्होंने कहा सरदार एक जमीनी नेता थे और अनुशासनात्मक कार्यवाही पर उनकी पकड़ प्रखर थी, ऐसे मे यह जउचित है कि उन्हें इतिहास में वाजिब सम्मान मिले। स्वतंत्र भारत के इतिहास और राजनीति पर नेहरू-गांधी परिवार के वर्चस्व के चलते पटेल को दरकिनार कर दिया गया। सरदार पटेल निष्ठा और ईमानदारी के पर्याय रहे। किसान पुत्र होते हुये उन्होंने बारदोली सत्याग्रह के दौरान अगली कतार से नेतृत्व किया। श्रमिक वर्ग उनमें आशा की किरण देखता था । § Read_More....

Read More »

आर्थिक तंगी के चलते बुजुर्ग ने लगाई फॉसी

मृतक की फाइल फोटो

कानपुरः जन सामना संवाददाता। बर्रा थाना क्षेत्र में बीमारी से परेशान होकर एक वृद्ध ने फांसी लगाकर जान दे दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया।
मिली जानकारी के अनुसार, जनता नगर की एस.एस कालोनी निवासी रज्जनलाल सविता (65) काफी समय से बीमार थे व फालिस का अटैक भी पड़ चुका था। बताया गया कि रज्जन लाल सिक्योरिटी गार्ड का काम करते थे वही परिवार मे दो बेटे सुधीर व सुशील व दो बहुएं रहती है। बड़ा बेटा काफी समय पहले घर छोड़ कर जा चुका था वही दूसरे की कमाई से घर चलाना व पिता की दवा करना रज्जन लाल को अन्दर ही अन्दर परेशान कर रही थी देर शाम रज्जन लाल ने पंखे से अंगौछा बांध कर फॉसी लगा ली। बहू ने काफी देर तक आहट न सुनी तो कुछ अनुचित लगा व दरवाजा खोल कर देखा तो चीख पड़ी। चीख पुकार सुन परिजन व पडोसी इकट्ठा हो गये व पुलिस को सुचना दी गयी। पुलिस ने शव को नीचे उतरवाया और पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया। § Read_More....

Read More »

पार्षद जी जरा इधर की गंदगी भी देख लो

कानपुरः अर्पण कश्यप। पार्षद जी जरा इधर की गंदगी भी देख लो, जी हॉ पार्षद जी को देखे जमाने बीत गये पर क्षेत्रीय लोगों ने पार्षद वासू गुप्ता को नहीं देखा वही क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि चुनाव के समय तो कोई ऐसा दिन नहीं था जिस दिन पार्षद या इनके नुमाईंदे दरवाजे न आते हो पर अब तो दर्शन दुर्लभ हो गये जी हॉ हम बात कर रहे हैं वार्ड 70 के पार्षद वासू गुप्ता की जिन्होने जमीं से आसमान तक का समय देखा है, साधारण सरल स्वाभाव के लिये पहचाने जाने वासू गुप्ता पार्षद क्या हुए चाल ही बदल गयी पार्षद बनने से पहले किये गये बड़े-बड़े वादे सब टॉय टाय फिस्स हो गये। पूरा क्षेत्र गंदगी से पटा पड़ा है पार्क गंदे दिख रहे हैं और नालियॉ गन्दे पानी से बजबजा रही हैं। पर पार्षद साहब क्षेत्र में विकास कार्य के लिये बनायी जा रही इंटर लाॅकिंग ईट व वहॉ रह रहे मजदूरों से दुखी हैं व उनका आशियाना छिनने के लिये पुरूजोर कोशिश में लगे हैं। वही क्षेत्र में इनके द्वारा किये गये विकास कार्य की जानकारी के बारे जब लोगों से की गयी तो लोगों ने तो इन्हें जिताना ही अपने जीवन की सबसे बड़ी भूल बता दी। § Read_More....

Read More »

लौहपुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल जयंती पर संगोष्ठी का आयोजन

कानपुरः जन सामना ब्यूरो। अखिल भारतीय कुर्मिक्षत्रिय महासभा कानपुर के तत्वावधान में भारत रत्न लौहपुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल की 143वीं जयंती के अवसर पर पटेल चैक बर्रा-2 में एक विचार संगोष्ठी एवं भव्य माल्यार्पण कार्यक्रम का आयोजन सम्पन्न हुआ। वक्ताओं ने सरदार पटेल के जीवन, व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाष डालते हुए देश के लिए उनके संघर्ष बलिदान एवं समर्पण के संस्मरण बताए। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जिलाध्यक्ष डाॅ0 अनिल कटियार ने कहा कि सरदार पटेल जी का सम्पूर्ण जीवन एक गहन शोध का विषय है उनके जीवन और कार्यों पर शोध के लिए विश्वविद्यालयों में शोध पीठों की स्थापना की जानी चाहिए। वरिष्ठ उपाध्यक्ष संजय कटियार ने कहा कि देश में ‘स्टेच्यू आॅफ यूनिटी’ की स्थापना ने यह सिद्ध कर दिया है कि सरदार पटेल का कद कितना बड़ा है यह संदेश हमारी नई पीढ़ी को उनके मार्ग पर चलने के लिए हमेशा प्रेरित करता रहेगा। मंडल अध्यक्ष कैलाश चन्द्र उमराव ने कहा कि सरदार पटेल ने कृषि प्रधान देश भारत के किसानों के हित में अनेकों अविस्मरणीय कार्य किए उन्होंने कहा कि भारतीय दलहन अनुसंधान संस्थान अथवा नेशनल शुगर इंस्टीट्यूट का नाम इस युगपुरूष के नाम पर किया जाए यह उनके लिए सच्ची श्रद्धांजलि होगी। § Read_More....

Read More »